जिलाधिकारी ने एक्सईएन को फेज-1 के कार्यो की गुणवत्ता को चेक करने का दिया निर्देश


    अयोध्या 25 जनवरी 2020, कलेक्ट्रेट सभागार में मा0 सांसद लल्लू सिंह की अध्यक्षता में डिस्ट्रिक्ट इलेक्ट्रिसिटी कमेटी की बैठक में मध्याचंल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड अयोध्या जनपद के अन्तर्गत आईपीडीएस, डीडीयूजीजेवाई योजना, सौभाग्य योजना व अन्य चल रही योजना की प्रगति के सम्बन्ध में चर्चा की गयी। पं0 दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना में कार्यदायी संस्था मेसर्स जैक्सन लि0 द्वारा संशोधित लक्ष्य 1555 के सापेक्ष कार्य पूर्ण किया जा चुका है तथा इसी योजना के अन्तर्गत एक उपकेन्द्र का निर्माण किया जाना था। जिसे कार्यदायी संस्था ने पूर्व में ही पूर्ण कर लिया गया है।कनेक्टिंग, अनकनेक्टिंग रूरल हाउस होल्ड योजना का कार्य कर रही मेसर्स अशोका बिल्डकाॅन द्वारा 252 मजरों का कार्य पूर्ण किया जा चुका है। जिसमें से 237 मजरों में इन्फ्रा का कार्य एवं 15 मजरों में बीपीएल का कार्य कुल 252 मजरो का कार्य पूर्ण किया जा चुका है। इन मजरो मे कुल 2954 कनेक्शन निर्गत किये जा चुके है।
       पं0 दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना (डीडीयूजीजेवाई) योजना के अन्तर्गत 07 अदद् नये 33/11 के0वी0 उपकेन्द्र का निर्माण किया जाना है। कार्यदायी संस्था द्वारा 4 उपकेन्द्र, तुलसमपुर, बी0पी0 मवई, नाका दुर्गापुरी एवं टिण्डौली कार्य पूर्ण ऊर्जीकृत किया जा चुका है। अवशेष 03 33/11 केवी उपकेन्द्र भदरसा, चिरामोहम्मदपुर एवं दिलासीगंज का उपकेन्द्र का कार्य पूर्ण है। परन्तु लाइन निर्माण के रास्ते में रेलवे क्रासिंग आ जाने के कारण कार्य लम्बित है। रेलवे क्रासिंग की अनुमति प्रदान होते ही उपकेन्द्रों को ऊर्जीकृत कर दिया जायेगा।
     सौभाग्य योजना के अन्तर्गत जनपद अयोध्या में कुल 6749 मजरो को विद्युतीकरण किया जाना था। योजना के तहत जनपद के सभी मजरो को आवश्यकतानुसार ऊर्जीकृत किया जा चुका है एवं सौभाग्य योजना के अन्तर्गत 102467 घरो को निःशुल्क कनेक्शन निर्गत कर रोशन किया गया है। जनपद के मजरो को विद्युतीकरण करने हेतु इस योजना के तहत 33426 अद्द पोल लगाये गये है, 747.29 किमी0 एलटी लाइन का निर्माण, 218.51 किमी0 एचटी लाइन का निर्माण एवं 16, 25 व 63 केवीए क्षमता के कुल 1193 परिवर्तक स्थापित किये गये है। इसके अतिरिक्त जिन घरों में लाइन निर्माण कर विद्युत आपूर्ति किया जाना सम्भव नहीं था, जब ऐसे 333 घरो को सौर ऊर्जा के माध्यम से इसी योजा के तहत विद्युतीकृत किया गया है। इसके अतिरिक्त यह भी अवगत कराना है कि सौभाग्य योजना फेज 2 का कार्य प्रारम्भ हो चुका है। जिसके अन्तर्गत 376 मजरो को विद्युतीकरण हेतु चिहिन्त किय गया है। इन चिन्हित मजरो में मा0 अध्यक्ष एवं जिला कमेटी अयोध्या के मा0 सदस्यगण से प्राप्ति सूची एवं जनप्रतिनिधियों के माध्यम से प्राप्ति सूची को भी सम्मिलित कर लिया गया है। साथ ही यह भी अवगत कराना है कि सोलर लाइट से वंचित रह गये 471 लाभार्थियों की सूची बनाकर मुख्यालय को प्रेषित कर दिया गया है। जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने फेज-1 की कार्यो की गुणवत्ता को चेक करने हेतु सभी एक्सईएन को निर्देशित किया। उन्होनें कहा कि इसके लिए जनपद स्तर से प्रशासनिक अधिकारी भी लगाये जायेंगे। उन्होनंे महगूं का पुरवा में विद्युत व्यवस्था देखने हेतु सम्बन्धित एक्सईएन को निर्देशित किया।
       सौभाग्य योजना के पीएमए मेसर्स टाटा पावर को निर्देशित किया गया कि कार्यदायी संस्था द्वारा किस-किस गांव में कितने-कितने आदमी कार्य कर रहें है की प्रतिदिन सूचना उपलब्ध करायें, ऐसा न करने पर उनके विरूद्ध वैधानिक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। इस अवसर पर सांसद लल्लू सिंह ने जनपद में रोस्टर के अनुसार विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करने हेतु सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया। बैठक में सीएचसी मया की विद्युत आपूर्ति को 15 फरवरी 2020 तक शहरी फिटर से जोड़कर विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होने सभी सीएचसी पर विद्युत व्यवस्था सुदृढ़ करने के निर्देश दिये।
बैठक में विधायक रूदौली रामचन्दर यादव, विधायक अयोध्या वेद प्रकाश गुप्ता, विधायक गोसाईगंज के प्रतिनिधि, मुख्य विकास अधिकारी प्रथमेश कुमार, मुख्य अभियन्ता विद्युत ए0के0 सिंह, अधीक्षण अभियन्ता रवीन्द्र गुप्ता, सभी एक्सईएन सहित कार्यदायी संस्थाओं के पदाधिकारी उपस्थित थे।