कामनवेल्थ पार्लियामेन्ट्री एसोसिएशन इण्डिया रीजन के आयोजन में महत्वपूर्ण योगदान के लिए प्रशस्ति-पत्र सम्मान


    -हृदय नारायण दीक्षित
लखनऊ 28 जनवरी, उत्तर प्रदेश विधानसभा ह्रदय नारायण दीक्षित ने राजर्षि पुरूषोत्तम दास टण्डन हाल में कामनवेल्थ पार्लियामेन्ट्री एसोसिएशन दिनांक-15 जनवरी से 19 जनवरी, 2020 के मध्य आयोजित सम्मेलन के सफल आयोजन में सराहनीय योगदान के लिए अपर मुख्य सचिव सचिवालय प्रशासन, महेश गुप्ता, अपर मुख्य सचिव गृह, अवनीश अवस्थी, उ0प्र0 विधान सभा प्रमुख सचिव, प्रदीप कुमार दुबे, सूचना एवं जनसम्पर्क निदेशक, शिशिर, राज्य सम्पत्ति अधिकारी, अजीत कुमार सिंह, कार्यक्रम अधिशासी व वरिष्ठ प्रसारण अधिकारी दूरदर्शन, आत्म प्रकाश मिश्रा आदि कर्मियों को उनके सराहनीय योगदान के लिए प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।


     उत्तर प्रदेश विधान सभा के विशेष सचिव, बृजभूषण दुबे सहित यातायात, आवास आदि की पृथक-पृथक व्यवस्थाओं के लिए गठित की गयी विभिन्न समितियों के प्रमुख अधिकारियों को भी प्रशस्ति पत्र प्रदान किये गये।
     अपर मुख्य सचिव गृह, अवनीश अवस्थी ने कहा कि इस सम्मेलन का सन्देश पूरी दुनिया में गया है। प्रजातंत्र के अन्तर्गत पूरी दुनिया में उथल-पुथल है। आदान-प्रदान में क्रान्तिकारी बदलाव होने के साथ-साथ लोकतांत्रिक व्यवस्था के अन्तर्गत लोगों की आकांक्षायें बढ़ी है। इसके लिए लोकतांत्रिक संस्थाओं लोकसभा, विधान सभा को अधिक परिपुष्ट किये जाने की आवश्यकता है।



    अध्यक्ष ने कहा कि 7वें कामनवेल्थ पार्लियामेन्ट्री एसोसिएशन इण्डिया रीजन की बैठक अभूतपूर्व है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का इस कार्यक्रम के आयोजन में मार्गदर्शन एवं अत्यांतिक सहयोग प्राप्त हुआ। इस सम्मेलन में बहुत ही गुणात्मक एवं सारवान चर्चा हुई। संसदीय संस्थाओं को सुदृढ़ करने के लिए देश ही नहीं पूरे विश्व के लोकतांत्रिक व्यवस्थाओं से जुड़े हुए लोगों ने अपना विचार रखा। लोक सभा के अध्यक्ष, ओम बिरला, राज्य सभा के उप सभापति, हरिवंश नारायण सिंह के साथ-साथ देश के अनेकों विधान सभाओं के पीठासीन अधिकारियों ने चर्चा करके लोकतांत्रिक संस्थाओं को सुदृढ़ करने का महत्वपूर्ण सुझाव दिया।
       विधानसभा अध्यक्ष श्री दीक्षित ने इस कार्यक्रम के आयोजन में लगे विधान सभा के सभी अधिकारियों एवं कर्मियों को हृदय से धन्यवाद देते हुए कहा कि उनके निष्ठापूर्ण एवं समर्पण की भावना से किए गए कार्य को पूरे देश की विधान सभा के पीठासीन अधिकारियों के बीच उनके कार्य एवं व्यवहार के प्रति बहुत ही अच्छा संदेश गया है।
      उत्तर प्रदेश विधान सभा के अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने विशिष्ट एवं अनुकरणीय व्यवहार कर एक मिशाल कायम की है। आगे भी इसी प्रकार विधान सभा में होने वाले आयोजनों के प्रति अपने कार्य एवं व्यवहार से नई मिशाल कायम करेंगे, इसके लिए आह्वान किया।



   इसी सम्मान समारोह के क्रम को आगे बढ़ाते हुए विधि एवं न्याय मंत्री बृजेश पाठक ने भी विधानसभा में मार्शल एवं सहयोगी मार्शल को सम्मान देने का उत्कृष्ट कार्य किया। बृजेश पाठक के कार्यक्रम में मुख्य अतिथि  विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित और संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना भी उपस्थित रहे। मंत्री बृजेश पाठक ने अपना उद्बोधन आदरणीय विधानसभा मार्शल और सहयोगी मार्शल से किया उस समय मार्शल ने दिल से उनका आभार व्यक्त करते हुए तालियां बजाकर उनका अभिनंदन किया। मुझे इस पाठक ने कहा कि विधानसभा के अब तक के सबसे सफल प्रमुख सचिव विधानसभा प्रदीप कुमार दुबे रहे हैं। विधानसभा की पूरी व्यवस्था मार्शल करते हैं अब तक मेरा जो अनुभव रहा है चाहे लोकसभा राज्यसभा और विधानसभा में सारी सुरक्षा व्यवस्था इन्हीं के हाथों में रहती है और इनका कार्य सराहनीय रहता है। प्रत्येक मौसम में यह अपना कार्य तत्परता से निभाते हैं तत्परता को देखते हुए मेरे मन में यह आया कि क्यों ना इनको सम्मानित किया जाए इसी पर हम अपने आदरणीय दादा विधानसभा अध्यक्ष से अपने मन की बात रखी और उन्होंने अस्वस्थ किया ठीक है आप इनका सम्मान कीजिए वही आज मूर्त रूप में आप लोगों के सामने प्रस्तुत है।


संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि कार्य के मूल्यांकन के साथ उसका सम्मान भी किया जाना चाहिए, इस प्रकार के कार्यक्रम से कार्य को प्रेरणा के साथ प्रोत्साहन भी मिलता है कुछ को कुर्सी से, तो कुछ व्यक्तित्व से जाने जाते हैं बृजेश पाठक ने भारत का संविधान नामक एक पुस्तक भी लिखी है जो काफी अच्छी है। अंत में विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित सदन के नेता अध्यक्ष रूप में कहा कि अब तक जिन लोगों ने इस बारे में कहा मैं उससे अपने आपको संबंध करता हूं। इस सम्मान सीमांचल का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि आपके इस सम्मान से आपकी पत्नी और बच्चे रिश्तेदार भी खुश होंगे। आपके बच्चों के मन में विचार आएगा कि मेरे पिताजी ने उत्कृष्ट कार्य किया जिससे आज वह सम्मानित हुए हैं।