नेताजी प्रतिबद्ध व प्रगतिशील समाजवादी थे- शिवपाल यादव

 


    प्रसपा ने मनाई सुभाष जयंती ,नेताजी सीएए के ख़िलाफ़ होते.
     लखनऊ। 23 जनवरी,प्रगतिशील समाजवादी पार्टी ( लोहिया) ने सुभाष जयंती के उपलक्ष्य में ‘ सुभाष-लोहिया व समाजवाद’ पर संगोष्ठी का आयोजन किया जिसकी अध्यक्षता प्रसपा प्रदेश अध्यक्ष सुंदर लाल लोधी व संचालन छात्र सभा प्रदेश अध्यक्ष दिनेश यादव ने किया । इस अवसर पर प्रसपा प्रमुख शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस प्रतिबद्ध व प्रगतिशील समाजवादी थे । त्रिपुरी अधिवेशन में नेताजी ने भूख, बेरोज़गारी जैसी राष्ट्रीय समस्याओं का समाधान समाजवाद से ही सम्भव बताया था । उन्होंने स्वतंत्रता के बाद भारत में अमंद गणतांत्रिक समाजवाद को अपना लक्ष्य घोषित किया था । लोहिया ने सुभाष के तरीक़े से बयालीस में आज़ाद दस्ते का गठन किया था । सुभाष और लोहिया कई आंदोलनों एवं सम्मेलनों में सहभाग किया । दोनों कुटीर व लघु उद्योगों पर आधारित विकेंद्रित अर्थव्यवस्था विकसित करना चाहते थे ताकि संतुलित एवं समावेशी विकास हो । सुभाष की नीतियों की उपेक्षा के आर्थिक विषमता बढ़ी है । मात्र 63 अरबपतियों के पास पूरे राष्ट्रीय बजट से अधिक धन होना चिंताजनक है । सीएए विभाजनकारी क़ानून है । कैप्टन शाहनवाज़, कैप्टन अब्बास अली, आबिद  हसन सफ़रानी जैसे देशभक्तों को आज़ाद हिंद फ़ौज में शीर्ष ज़िम्मेदारी देने वाले सुभाष बाबू होते तो सीएए का खुला विरोध करते और सीएए क़ानून विरोधी आंदोलन की अगुवाई करते । सुभाष से समाजवाद, देशभक्ति एवं त्याग की प्रेरणा मिलती है । उनके सपनों और सिद्धांत पर प्रसपा बहस चलायेगी ।
बौद्धिक सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष दीपक मिश्र ने कहा कि सुभाष और लोहिया दोनों ने राष्ट्रीयता , राष्ट्रवाद व राष्ट्रप्रेम से ओत-प्रोत समाजवाद की व्याख्या की । आज़ राष्ट्रवाद के नाम पर संकुचित संप्रदायिकता फैलाई जा रही है । साम्प्रदायिक सोच को सुभाष के विचारों से ही समाप्त किया जा सकता है । संगोष्ठी को पूर्व मंत्री शारदा प्रताप शुक्ल,मुख्य प्रवक्ता  परमानंद तिवारी, युवजन सभा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित जानी , अल्पसंख्यक सभा के प्रदेश अध्यक्ष जर्रार हुसैन ,अल्का सिंह, उपेन्द्र सिंह, देवीप्रसाद, फारूक समेत कई वक्ताओं ने सम्बोधित किया । शिवपाल ने नेताजी की तस्वीर पर माल्यार्पण कर नमन किया । प्रसपा 17 जनवरी से सुभाष सप्ताह मना रही है जिसकी शुरुआत फ़ॉरवर्ड ब्लॉक के महासचिव देबब्रत विश्वास व शिवपाल यादव ने किया था । इस दौरान सुभाष व समाजवाद पर 242 परिचर्चाओं व संगोष्ठिओं का आयोजन किया गया ।