296 किलोमीटर लंबे एक्सप्रेस-वे का मोदी ने किया शिलान्यास


      प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज चित्रकूट में करीब 15 हजार करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले 296 किलोमीटर लंबे बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे की बटन दबाकर आधारशिला रखी। यह एक्सप्रेस-वे फरवरी 2018 में सरकार द्वारा घोषित उत्तर प्रदेश रक्षा औद्योगिक गलियारे की सहमति के बिंदुओं को आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण योगदान देगा।


उत्तर प्रदेश सरकार बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का निर्माण कर रही है, जो चित्रकूट, बांदा, हमीरपुर और जालौन जिलों से गुजरेगा। यह एक्सप्रेस-वे बुंदेलखंड क्षेत्र को आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे और यमुना एक्सप्रेस-वे के रास्ते से जोड़ेगा। इसके साथ ही यह बुंदेलखंड क्षेत्र के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।


इस 296 किलोमीटर लंबे एक्सप्रेस-वे से चित्रकूट, बांदा, महोबा, हमीरपुर, जालौन, ओरैया और इटावा जिलों को लाभ मिलेगा। बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे पर सरकार 14849.09 करोड़ रुपये खर्च करेगी। यह एक्सप्रेस-वे बुंदेलखंड क्षेत्र को सड़क मार्ग के जरिए राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से जोड़ेगा।


बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के लिए 95.46 प्रतिशत भूमि का क्रय और अधिग्रहण किया जा चुका है। इसका निर्माण कार्य शुरू होने से लगभग 60 हजार लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है।


*मंच से बोले पीएम मोदी*
- मंच से सबसे पहले पीएम ने सभी को नमन किया। बोले गोस्वामी तुलसीदास ने कहा है चित्रकूट के घाट पर भई संतन की भीड़। आप सभी को यहां देखकर आपके सेवक को भी ऐसी ही अनुभूति हो रही है।
- दिल्ली से निकलने वाली पाई-पाई उसके अधिकार तक पहुंच रही हैं। किसान सम्मान निधि के लाभार्थी को ऋण के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। लाभार्थियों को किसान क्रेडिट कार्ड योजना से जोड़ा जाएगा।
- हालही में सरकार ने एक और बड़ा फैसला प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से संबंधित लिया है। अब इस योजना से जुड़ना स्वैच्छिक कर दिया गया है। पहले बैंक से ऋण लेने वाले किसान साथियों को इससे जुड़ना ही पड़ता था।
- देश में पहली बार किसान रेल जैसी सुविधा की घोषण भी की गई है। सरकार ग्रामीण रिटेल एग्रीकल्चर मार्केट के विस्तार पर काम कर रही है। देश में 22 हजार ग्रामीण हाटों में जरूरी इंफ्रास्ट्रक्चर विकसित किया जा रहा है।
- बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे व अन्य एक्सप्रेस-वे यूपी में व्यापार कनेक्टिविटी बढ़ाएंगे। चित्रकूट, बांदा, महोबा, हमीरपुर, जालौन, ओरैया और इटावा आदि जिलों के लोग एक्सप्रेस-वे का लाभ उठा पाएंगे।
- इस साल के बजट में यूपी डिफेंस कॉरिडोर के लिए तीन हजार सात सौ करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे से यूपी डिफेंस कॉरिडोर को भी गति मिलने वाली है।
- बुंदेलखंड क्षेत्र मेक इन इंडिया का बहुत बड़ा सेंटर बनने वाला है। यहां बना साजो-सामान पूरे विश्व में निर्यात भी होगा। यहां बड़ी-बड़ी फ्रैक्ट्रियां लगनी शुरू हो जाएंगे तो आस-पास के व्यापक और लघु उद्घोग को भी लाभ होगा। यहां के किसानों को भी लाभ होगा। इस तहर रोजगार के अवसर पैदा होंगे और हर परिवार की आय में बढ़ोतरी होगी।


*बोले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ*


- भगवान श्रीराम ने अपने वनवास के कालखंड में जिस पावन धरती पर सर्वाधिक समय व्यतीत किया था आज चित्रकूट की पावन धरती पर बुंदेलखंड विकास की नींव को एक नई ऊंचाईयां प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री यहां आएं हैं। पीएम का चित्रकूट में स्वागत है।
- आजादी के बाद पहली बार इस देश का गांव, किसान, नौजवान, महिलाएं देश के राजनैतिक एजेंडे के हिस्से बन पाएं हैं। इससे पहले जाति, क्षेत्र, भाषा और मजहब के आधार पर देश के ताने-बाने को छिन्न-भिन्न करने वाले लोग किस प्रकार की राजनीति करते थे, बुंदेलखंड उसका साक्षात उदाहरण है।


प्रधानमंत्री ने मंच से किसान सम्मान निधि योजना की लघु फिल्म देखी। जिसमें बताया गया कि इस योजना के एक वर्ष पूरे हो चुके हैं। देश के आठ करोड़ पचास लाख अन्नदाता इस योजना का लाभ उठा चुके हैं।
प्रधानमंत्री मोदी को मंच पर  सीएम योगी ने प्रधानमंत्री को सुपाड़ी और लकड़ी से बनी गणेश प्रतिमा भेंट की।