अयोध्या को स्मार्ट सिटी बनाने का रोडमैप करें तैयार -मंडलायुक्त


    अयोध्या, 06 फरवरी, मण्डलायुक्त एमपी अग्रवाल की अध्यक्षता में आयुक्त कार्यालय में अयोध्या स्मार्ट सिटी बनाने स्मार्ट रोड बनाने संबंधी शासन के निर्देश के क्रम बैठक हुई इस बैठक में मुख्य रूप से जिलाधिकारी अनुज कुमार झा, नगर आयुक्त नीरज शुक्ला व जिलाधिकारी सुल्तानपुर सी इन्दुमती सहित अन्य अधिकारियों ने भाग लिया।इस बैठक में रूद्राभिषेक प्राइवेट लि0 एवं जागृति फाउण्डेशन द्वारा स्मार्ट सिटी बनाने, स्वच्छता कार्यक्रम पूरा करने आदि बिन्दुओ पर प्रस्तुतिकारण भी किया गया। मण्डलायुक्त ने कहा बैठक की शुरूआत करते हुए कहा कि शासन के निर्देश प्राप्त हुए है कि अयोध्या को स्मार्ट सिटी एवं पैनसिटी के रूप में विकसित किया जाये इसमें यहाॅ के एतिहासिकता, हैरिटेज को मेनटेन करते हुए आधुनिक होटल, रेजीडेन्स, एजूकेशन, सड़क, हाई टेक्नोलोजी पर आधारित व्यवस्थाए, आधुनिक उद्यान, ट्राफिक व्यवस्था, पुलिस व्यवस्था आदि आर्दश रूप में स्थापित किया जा। मण्डलायुक्त ने कहा कि सरकार द्वारा प्रथम चरण में प्रत्येक वर्ष लगभग 50 करोड़ खर्च किये जायेंगे जो 250 करोड़ की कार्यक्रम है तथा विकास के पैन सिटी कार्यक्रम में अन्य विभागो से समन्यव बनाते हुए बहुमुखी प्रशानिक/विकास व्यवस्था की जायेगी जो आम जनमानस में अयोध्या को विश्वस्तर के रूप में प्रदशित करने में मदद मिलेगी। जिलाधिकारी श्री अनुज कुमार झा ने स्मार्ट सिटी आदि बनाने के लिए संबंधित एजेन्सियो से कहा कि अयोध्या के विकास के लिए सरकार द्वारा पर्यटन विकास, सड़क, पुल, सफाई व्यवस्था, आम जनोपयोगी योजनाएं अनेको संचालित है तथा इन योजनाओ के साथ नगर प्रशासन एवं अन्य विभागो को बेहतर समन्वय मूर्त रूप देना होगा जिससे आधुनिक अयोध्या विश्व पटल पर दिखाई दे सके।


    जिला जज नीरज निगम के निर्देश पर सचिव जिला विधिक सेवा प्रधिकरण सर्वेश कुमार मिश्र द्वारा तहसील बीकापुर, मिल्कीपुर, सोहावल, रूदौली एवं सदर तथा जिला कारागार में नियुक्त पराविधिक स्वंय सेवको का प्रशिक्षण दिनांक 11 02 2020 से 15.2.2020 तक किया जायेगा। यह प्रशिक्षण द्वितीय चरण का होगा। संबंधित स्वंयसेवक जनपद न्यायालय प्रंगण में स्थित जिला विधिक सेवा प्रधिकरण कार्यालय में दिनांक 11.02.2020 को प्रातः 09 बजे से उपस्थित हो तथा प्रशिक्षण में भाग ले।
नगर आयुक्त नीरज शुक्ला ने आम जन सुविधा के कार्यो सफाई व्यवस्था आदि बिन्दुओ पर तथा स्मार्ट सिटी संबंधी बिन्दुओ पर प्रकाश डाला। इस बैठक में नगर निगम, पर्यटन, विकास आदि अन्य विभागो के प्रतिनिधियो ने भाग लिया तथा दोनो संस्थाओ द्वारा प्रस्तुतीकरण किया गया जिसके प्रतिनिधि श्री अनिल त्रिपाठी, प्रभाकर कुमार आदि उपस्थित रहे। मण्डलायुक्त ने नगर आयुक्त को निर्देश दिया कि शासन के निर्देशो के अनुपालन में स्मार्ट रोड/सिटी बनाने संबंधी कार्यो के लिए टेण्डर प्रक्रिया शीघ्र से शीघ्र शुरू किया जाये तथा शासन से भी बेहतर संवाद बनाये जाये जिससे कि समय से कार्य पूरा हो सके।