जय जगत तथा वोटरशिप दो सबसे शक्तिशाली विचार हैं जिनके उपयोग द्वारा विश्व को बदला जा सकता है - पी.के. सिंह पाल


      कानपुर के विशाल पाल (धनगर ) महासम्मेलन में अति मेधावी छात्र-छात्राओं,दानदाताओं तथा समाजसेवियों का सम्मानित किया गया।प्रसिद्ध यूटयूबर केब सिंगर विनोद जी शर्मा ने अपने गीतों के माध्यम से जय जगत तथा वोटरशिप का सन्देश दिया।गड़रिया-शेफर्ड समाज के इस 12 एकड़ के विशाल भूखण्ड में सभी प्रकार की जन सुविधाओं से युक्त लोकमाता अहिल्या बाई होल्कर का भव्य मंदिर बनाने की महत्वाकांक्षी योजना है।


      -विश्व पाल


कानपुर, उत्तर प्रदेश। विशाल पाल (धनगर ) महासम्मेलन अभूतपूर्व सफलता के साथ डा. चिरंजीलाल राष्ट्रीय इण्टर कालेज, किदवई नगर में अहिल्याबाई होल्कर शिक्षा एवं समाजोत्थान संस्थान तथा अखिल भारतीय पाल समाज की कानपुर रोड शाखा द्वारा सम्मिलित रूप से 9 फरवरी 2020 को आयोजित हुआ। इस अवसर पर अति मेधावी छात्र-छात्राओं, निर्माणाधीन सभागार के दानदाताओं तथा समाजसेवियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर समाज के लोगों ने भारी संख्या में उपस्थित होकर अति मेधावी छात्र-छात्राओं तथा समाजसेवियों को आशीर्वाद तथा समाजसेवियों के प्रति हार्दिक आभार प्रकट किया।



            समारोह का शुभारम्भ लोकमाता अहिल्या बाई होल्कर के चित्र के समक्ष दीप जलाकर तथा पुष्पाजांलि से हुआ। बच्चों ने अनेक मनमोहक तथा सन्देशपरक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करके सभी का मन मोह लिया। इस अवसर पर प्रतिवर्ष की भांति धनगर पाल कुटम्ब 2020 स्मारिका का विमोचन मुख्य अतिथि तथा विशिष्ट अतिथियों द्वारा किया गया। समारोह में कार्यक्रम संरक्षक पूर्व सांसद राजा राम पाल, पूर्व कैबिनेट मंत्री, महाराष्ट्र सरकार महादेव जानकर, उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ के विधायक राजकुमार पाल, एसएल अक्कीसागर, भागीरथ पाल, श्रीमती गिरिजेश पाल, श्रीमती लीला देवी पाल, कैलाश पाल, राजेश पाल, समाजसेवी उमा शंकर पाल आदि के सारगर्भित सम्बोधन तथा उपस्थिति ने सभी को अत्यधिक उत्साहित किया। सभी राजनैतिक पार्टियों के राजनेताओं एक मंच पर एकत्रित होकर समाज की एकता का जयघोष किया।


            प्रसिद्ध यूट्यूब केब सिंगर विनोद जी शर्मा ने देश भक्ति से ओतप्रोत गीत ‘‘होठो पर सच्चाई रहती है जहां दिल में सफाई रहती है, हम देश के वासी है जिस देश में गंगा बहती है’’ सभी का मन मोह लिया। बहुमुखी प्रतिभा के धनी विनोद जी रात-दिन अपनी प्रतिभा के माध्यम से जय जगत तथा वोटरशिप के विचार को व्यापक जनसमुदाय में पहुचाने के लिए संकल्पित है। 


            लखनऊ के जय जगत समर्थक उमा शंकर पाल, वरिष्ठ समाजसेवी, संजीव कुमार शुक्ला, वरिष्ठ पत्रकार, डी.एन. वर्मा, वरिष्ठ पत्रकार, जगजीवन प्रसाद पाल, धनगर विजय कुमार पाल, राहुल पाल व प्रिन्स पाल, शुक्ल बाजार, अमेठी, लखनऊ से श्रीमती उमा सिंह, वोटरशिप समर्थक इन्द्रजीत, वोटरशिप समर्थक मनीष, संदीप पाल, लक्ष्मी पाल, एकता पाल, विश्व पाल, की ओर से ‘‘जय जगत तथा वोटरशिप बुक स्टाॅल’’ लगाया गया जो कि समारोह का विशेष आकर्षण के केन्द्र रहा। इस बुक स्टाॅल का संयोजन जय जगत तथा वोटरशिप विचार के चिन्तक पी.के. सिंह पाल द्वारा किया गया।


            इस जय जगत तथा वोटरशिप बुक स्टाॅल के द्वारा संदेश दिया गया कि गड़रिया-शेफर्ड सार्वभौमिक अर्थात यूनिवर्सल जाति है जो कि सारी दुनिया में पायी जाती है। इसलिए हमारे मुद्दे - जय जगत तथा वोटरशिप जैसे सार्वभौमिक होने चाहिए। जय जगत तथा वोटरशिप के विचार इस युग की सबसे बड़ी आवश्यकता है। जय जगत, जय जगत पुकारे जा दूसरों के हित के वास्ते अपना हित विसारे जा। कानपुर के लाटूस रोड तथा जवाहर नगर के समाजसेवी सूर्य प्रकाश पाल, हजारी लाल पाल तथा बनवारी लाल पाल तथा उनके परिवार जनों ने सिंगर विनोद जी शर्मा के मनमोहक गीतों की सराहना की तथा कानपुर के समाज की ओर से उन्हें स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।  


            समारोह के प्रारम्भ में बोलते हुए जय जगत तथा वोटरशिप विचार के चिन्तक पी.के. सिंह पाल ने कहा कि जाति-धर्म तथा संकुचित राष्ट्रीयता के नाम से दुनिया में बहुत खून बहा है। और वर्तमान में भी बह रहा है। अब समय आ गया है इस सच्चाई को अब साहस के साथ दुनिया को बताना है कि ईश्वर एक है, धर्म एक है तथा मानव जाति एक है। यह बहुत बड़ी त्रासदी है कि जाति-धर्म तथा राजनीति क्षेत्रों के नेतागण इस सच्चाई को बताने का साहस नहीं कर पा रहे हैं। उनकी चुप्पी संसार का बहुत नुकसान कर रही है।


            आगे उन्होंने कहा कि लोकमाता अहिल्या बाई ने जाति-धर्म से ऊपर उठकर समाज की सेवा की थी। उन्होंने अपने होलकर राज्य से बाहर जाकर अन्य राज्यों में उस समय की आवश्यकता के अनुसार मंदिर, कुऐं, धर्मशालायें बनवायी। इस प्रकार उनके प्रेम का दायरा अपने राज्य रूप देश तक ही सीमित न होकर सारी मानव जाति के लिए था। उनका नारी हृदय कभी युद्ध के पक्ष में नहीं रहा था। वह युद्धों में किसी का खून बहाना सहन नहीं कर सकती थी।


            श्री पाल ने कहा कि लेकिन अब हमें युगानुकूल विचारों को भी अपनाना होगा। मैं भी अपनी जाति तथा देश से बहुत प्यार करता हूं। मेरी राष्ट्रीयता जय जगत की शिक्षा, वोटरशिप, वसुधैव कुटुम्बकम्, सर्वधर्म समभाव, विश्व नागरिकता, अहिंसा, एकता तथा विश्व बन्धुत्व की प्रबल समर्थक है। इन्हीं सार्वभौमिक विचारों को पहंुचाने के लिए मैं अपने सीमित साधनों तथा अल्प सहयोग के बलबूते पहुंचाने का भरसक प्रयास करता हूं। दुनिया को पांच वीटो पाॅवर से लैश शक्तिशाली देश परमाणु बमों से चला रहे हैं। भारत को दुनिया को कानून तथा संविधान से चलाने के लिए लोकतांत्रिक ढंग से चुनी गई विश्व संसद के लिए पहल करनी चाहिए। इसके लिए हमारी संस्था सिटी मोन्टेसरी स्कूल वल्र्ड लीडर्स की श्रेणी में अपना स्थान बना लेने वाले प्रधानमंत्री मोदी जी को निरन्तर प्रेरित करती रहती हैं।


            वर्तमान में विश्व की अधिकांश सरकारें घातक हथियार बनाने तथा एकत्रित करने की होड़ में शामिल हैं। यह एक सच्चाई है कि देश की जनता टैक्स वेलफेयर के लिए देती है लकिन दुनिया भर की सरकारें उसे सुरक्षा के नाम पर वाॅरफेयर पर खर्च करती हैं। देश की जनता रोटी, कपड़ा, मकान, शिक्षा तथा स्वास्थ्य जैसी मूलभूत आवश्यकताओं से वंचित रहती हैं। यदि हमारी जाति के 20-22 करोड़ एकजुट होकर जय जगत तथा वोटरशिप की आवाज बुलन्द कर दें तो यह कार्य बहुत आसान हो जायेगा।



            मैं 38 वर्षों से जय जगत की शिक्षा देने वाले सिटी मोन्टेसरी स्कूल, लखनऊ से जुड़ा हूं। हमारा मानना है कि जय जगत की शिक्षा तथा वोटरशिप दो सबसे शक्तिशाली हथियार हैं जिनके उपयोग के द्वारा विश्व को बदला जा सकता है। मैं लगभग 12 वर्षों से वोटरशिप विचार के जनक विश्वात्मा भरत गांधी से जुड़ा हूं। जीवन के अंतिम पड़ाव में आकर मेरा पूरा ध्यान जय जगत तथा वोटरशिप पर टिका है। हमें दूसरों की खुशी के लिए नहीं वरन् अपनी आत्मा में वास करने वाले परमात्मा को प्रसन्नता के लिए अपना कार्य करते रहना चाहिए। उत्साह सबसे बड़ी शक्ति है। उन्होंने सभी का आह्वान किया कि बनो अहिल्या बाई होल्कर अपनी आत्म शक्ति दिखलाओं तथा सभी को लोकमाता के ‘सबका भला - अपना भला’ के संदेश का अपनाना चाहिए।


            श्री पाल ने जय जगत के विचार से जुड़ने के लिए आजतक न्यूज चैनल पर रोजाना प्रातः 5.50 बजे से प्रातः 6.20 तक प्रसारित होने वाले सिटी मोन्टेसरी स्कूल के कार्यक्रम को सपरिवार देखने का निवेदन किया। इसके साथ ही वोटरशिप के विचार से जुड़ने के लिए यूट्यूब चैनल पर विश्वात्मा भरत गांधी के वीडियो सुने जा सकते हैं। वोटरशिप अभियान के टोल फ्री नम्बर 9696 123456 पर आज अभी काॅल करके जुड़े। श्री पाल ने कहा कि निकट भविष्य में दिल्ली जाने वाले परिजन कालका जी में स्थित बहाई मंदिर अवश्य देखने जायें। वहां से सर्वधर्म समभाव के संदेश की सीख लेकर सारे समाज में फैलाने में योगदान देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाये। बहाई धर्म की सीख है कि ईश्वर एक है, धर्म एक है तथा मानव जाति एक है।


            श्री पाल ने अपने सम्बोधन के अन्त में सभी को लखनऊ में आगामी रविवार 20 फरवरी 2020 को आयोजित विश्व एकता सत्संग में सपरिवार पधारने का हार्दिक निमंत्रण दिया। यह सत्संग ठीक प्रातः 10 बजे शुरू होकर लगभग दोपहर 12.30 बजे समाप्त हो जायेगा। इसलिए कृपया समय पर पधारकर पूरा वैचारिक लाभ लें तथा उसे अन्य लोगों में पहुंचाने का सशक्त माध्यम बने।


            समारोह का संचालन तथा भव्य आयोजन में रामकृपाल पाल, अघ्यक्ष, सियाराम पाल, उपाध्यक्ष, इं. जगदीश पाल, अध्यक्ष, बृजेश प्रताप सिंह पाल, महामंत्री, भजनलाल पाल, कोषाध्यक्ष, इं. होरीलाल पाल आदि विशेष योगदान दिया। पाल समाज के इस 12 एकड़ के विशाल क्षेत्र में सभी प्रकार जन सुविधाओं से युक्त अनेक निर्माण कराकर विश्व के गड़रिया समाज का महातीर्थ बनाने की महात्कांक्षी योजना है। करोड़ों रूपयों के बजट की इस महात्कांक्षी योजना को सफल बनाने के लिए तन, मन तथा धन से योगदान करने के लिए दानदाताओं को आगे आने का आह्वान किया गया।


            अन्त में सभी से जय जगत तथा वोटरशिप के दो शक्तिशाली विचारों को जन-जन प्रचारित-प्रसारित करने के लिए कम से कम दस लोगों में इस समाचार तथा फोटो को शेयर करने का सादर निवेदन किया गया। साथ ही इन्हें अपना कर विश्व रक्षक तथा स्वदेशी लोकतंत्र निर्माता कहलाने का हार्दिक आग्रह किया गया।


            इस प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से हम सभी देश-विदेश के गड़रिया-शेफर्ड सहित अन्य समाजसेवियों, बिल्डर्स, वास्तुकारों, आर्किटेक्ट, डाक्टर्स, इंजीनियर्स, बैकर्स, उच्च अधिकारियांे, किसानों, मीडिया बन्धु, भूतपूर्व सैनिकों, नौकरीपेशा, उद्योगपतियों आदि का आह्वान करते हैं कि लगभग 12 एकड़ के इस बड़े भूभाग जो कि किदवई नगर जैसे सभी सुविधाओं से युक्त जगह पर हैं उसमें गड़रिया-शेफर्ड समाज के सबसे बड़े महातीर्थ में यथाशक्ति योगदान करने के लिए आगे आये।


            गड़रिया-शेफर्ड समाज के इस 12 एकड़ के विशाल भूखण्ड में सभी प्रकार की जन सुविधाओं से युक्त लोकमाता अहिल्या बाई होल्कर सहित सभी महापुरूषों का भव्य मंदिर बनाने की महत्वाकांक्षी योजना है। इन महापुरूषों की स्मृति में प्राइमरी स्कूल, बालिका छात्रावास, वृद्धाश्रम, निःशुल्क स्वास्थ्य परामर्श केन्द्र के निर्माण प्रस्तावित हैं। साथ ही उच्च शिक्षा, संविधान-कानून, समाज सेवा, प्रशासनिक, आर्थिक, व्यवसाय, राजनैतिक आदि क्षेत्रों की आवासीय टेªेनिंग इन क्षेत्रों के विशेषज्ञों के माध्यम से चलाने की हमारी महत्वाकांक्षी योजना है। भव्य सभागार सारे देश के लिए आदर्श माॅडल होगा। प्रतिवर्ष की भांति 12वां सर्वसमाज सामूहिक विवाह का आयोजन अहिल्या बाई होल्कर जयन्ती के अवसर पर 31 मई 2020 को किया है। सामूहिक विवाह के योग्य वर-वधु इस आयोजन में शामिल हो सकते हैं।


            देश-विदेश के लगभग 40 करोड़ से अधिक गड़रिया-शेफर्ड परिवार के पहले चरण में एक-एक रूपये भी दान करेंगे तो करोड़ों की धनराशि इस विशाल निर्माण कार्य के लिए एकत्रित हो जायेगी। देश-विदेश के दानदाता कानपुर के अहिल्याबाई होल्कर शिक्षा एवं समाजोत्थान संस्थान (रजि.) से सीधे उनके मोबाइल नम्बर 9936195406 पर सम्पर्क कर सकते हैं। अभी नहीं तो फिर कभी नहीं! इसलिए आज-अभी एक कदम बढ़ाकर हमसे जुड़े। शुभ कार्य की शुरूआत करने के लिए प्रत्येक क्षण शुभ हैं।