मुख्यमंत्री ने जनपद अयोध्या में सन्तों के साथ ‘बैकुण्ठ उत्सव’ में भाग लिया

     लखनऊ 23 फरवरी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज जनपद अयोध्या में आयोजित कार्यक्रम में सन्तों के साथ ‘बैकुण्ठ उत्सव’ में भाग लिया। इस उत्सव को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री जी ने कहा कि देशवासियों ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी पर विश्वास किया है। हम सभी को धैर्य व संयम धारण करना चाहिए। हम सबको भगवान श्रीराम की मर्यादा का पालन करना है। 

     प्रधानमंत्री आवास योजना, आयुष्मान भारत योजना, उज्ज्वला योजना, सौभाग्य योजना, किसान सम्मान निधि जैसी योजनाओं के क्रियान्वयन में किसी के साथ भेदभाव नहीं किया गया है। इन योजनाओं का लाभ सभी वर्गों के लोगों को मिला है, यही रामराज्य की परिकल्पना है। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष ‘दीपोत्सव’ के तहत 05 लाख 50 हजार दीप प्रज्ज्वलित हुए थे। इस अवसर पर पूरी अयोध्या में सभी लोगों के मन में हर्षोल्लास था। 

 


    मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने सबसे पहले अवैध बूचड़खानों को बन्द किया। सभी जनपदों में गो-संरक्षण केन्द्र स्थापित किए जा रहे हैं। प्रदेश के गो-आश्रय स्थलों पर लगभग 4.5 लाख निराश्रित गोवंश का संरक्षण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जानवरों में खुरपका, मुंहपका जैसी बीमारियों को पूर्ण रूप से समाप्त करने के लिए योजनाएं प्रभावी ढंग से चलायी जाएं। भारत दुग्ध उत्पादन के क्षेत्र में अग्रणी देश है। उन्होंने कहा कि खुरपका, मुंहपका जैसी बीमारियों को वर्ष 2025 तक समाप्त करना है। गो-संरक्षण और संवर्धन के साथ उनके उपचार की व्यवस्था हो, यही असली गो-सेवा है।