पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का निर्माण निर्धारित टाइमलाइन के अनुसार: मुख्यमंत्री

 



      मुख्यमंत्री ने जनपद आजमगढ़ में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का स्थलीय निरीक्षण एवं प्रगति की समीक्षा की।राज्य सरकार इस वर्ष पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के मुख्य मार्ग का लोकार्पण कर प्रदेशवासियों को दीपावली का उपहार देगी।आजमगढ़-गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे की भी प्रगति समीक्षा।जनपद आजमगढ़ को शीघ्र ही वायु सेवा से जोड़ा जाएगा,आजमगढ़ में विश्वविद्यालय की स्थापना हेतु भूमि की व्यवस्था के सम्बन्ध में चर्चा।विशेष अभियान चलाकर एक लाख से अधिक नये लाभार्थियों को वृद्धावस्था, निराश्रित महिला तथा दिव्यांगजन पेंशन स्वीकृत।

 

     लखनऊ 10 फरवरी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का निर्माण निर्धारित टाइमलाइन के अनुसार चल रहा है। राज्य सरकार इस वर्ष पूर्वान्चल एक्सप्रेस-वे के मुख्य मार्ग का लोकार्पण कर प्रदेशवासियों को दीपावली का उपहार देगी। उन्होंने कहा कि पूर्वांचल, विशेषकर वाराणसी और गोरखपुर के मध्य का यह क्षेत्र विकास के पायदान पर पिछड़ गया था। क्षेत्र के विकास को गति देने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा जुलाई, 2018 में जनपद आजमगढ़ में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास किया गया था।

      आज जनपद आजमगढ़ में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे की प्रगति की समीक्षा बैठक व स्थलीय निरीक्षण के पश्चात मीडिया प्रतिनिधियों से वार्ता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि एक्सप्रेस-वे के निर्माण की प्रगति देखने तथा कार्यदायी संस्था व स्थानीय प्रशासन में बेहतर तालमेल की दृष्टि से उन्होंने आज मौके पर आकर समीक्षा एवं स्थलीय निरीक्षण किया है। मीडिया प्रतिनिधियों को आजमगढ़-गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे की भी प्रगति समीक्षा की जानकारी देते हुए उन्होंने विश्वास जताया कि सभी कार्य समयबद्ध ढंग से पूर्ण होंगे।राज्य सरकार ने आजमगढ़ में एक विश्वविद्यालय की स्थापना का निर्णय लिया है। समीक्षा बैठक में इसके लिए भूमि की व्यवस्था के सम्बन्ध में भी चर्चा हुई है। उन्होंने कहा कि जनपद आजमगढ़ को शीघ्र ही वायु सेवा से भी जोड़ा जाएगा। इस सम्बन्ध में एयरपोर्ट के निर्माण की प्रगति के सम्बन्ध में भी जानकारी ली गयी है। इसके अलावा जनपद में किसानों एवं अन्य सामान्य नागरिकों के लिए संचालित विभिन्न योजनाओं के सम्बन्ध में भी चर्चा की गयी है।

       प्रदेश सरकार द्वारा पेंशन स्कीम के तहत वृद्ध, निराश्रित महिला तथा दिव्यांगजन को विशेष अभियान चलाकर पेंशन सुविधा उपलब्ध करायी गयी है। विशेष अभियान में एक लाख से अधिक नये लाभार्थियों को पेंशन स्वीकृत की गयी है। उन्होंने कहा कि लोक कल्याण और अवस्थापना विकास का कार्य निरन्तर आगे बढ़ेगा। और आने वाले समय में जनपद आजमगढ़ अपनी एक नई पहचान के साथ स्थापित होगा।समीक्षा बैठक के दौरान मुख्यमंत्री जी द्वारा पूर्वान्चल एक्सप्रेस-वे के पैकेज 05, 06, 07 व 08 की समीक्षा की गई। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जनपद मऊ और अम्बेडकरनगर में 28 फरवरी, जनपद गाजीपुर में 07 मार्च व जनपद आजमगढ़ में 12 मार्च, 2020 तक पूर्वान्चल एक्सप्रेस-वे के निर्माण हेतु प्रत्येक दशा में भूमि यूपीडा को उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाए। इसके लिए किसानों से व्यक्तिगत रूप से संवाद कर विवाद का निस्तारण किया जाए और मुआवजे की धनराशि उनके खाते में भेजना सुनिश्चित की जाए। 

 


     मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्वान्चल एक्सप्रेस-वे के कारण स्थानीय निवासियों को आवागमन में कोई असुविधा नहीं होनी चाहिए। इसके लिए आवश्यकतानुसार अण्डर पास का निर्माण किया जाए। उन्होंने स्थानीय युवाओं को रोजगार सुलभ कराने के लिए पूर्वान्चल एक्सपे्रस-वे में कार्यरत ठेकेदारों को स्थानीय युवाओं को उनकी योग्यतानुसार सेवायोजन के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री  ने निर्देश दिए कि नगर पालिका, नगर पंचायत व ग्रामों में स्वच्छता अभियान संचालित किया जाए। इसके लिए वरिष्ठ अधिकारियों को नोडल अधिकारी नामित किया जाए। उन्होंने कहा कि गांवों में खेल के मैदान, जिम, डेªनेज आदि का कार्य पूर्ण कराया जाए। अस्थायी गोवंश स्थलों की व्यवस्था ठीक करायी जाए तथा इनकी सुरक्षा सुनिश्चित की जाए। गोवंश को टैग कराया जाए। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के अन्तर्गत जिन किसानों का डेटा, नाम व नम्बर आदि में विसंगति के कारण रिजेक्ट हो गया है, उसे ठीक कराकर किसानों के खाते में 31 मार्च, 2020 तक योजना की पहली किश्त का भुगतान किया जाए। उन्होंने पुलिस अधीक्षक आजमगढ़ को बालिकाओं, महिलाओं, व्यापारियों आदि की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए पेट्रोलिंग बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होंने प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर आयोजित हो रहे मुख्यमंत्री जन आरोग्य मेले के प्रचार-प्रसार हेतु होर्डिंग लगवाने तथा आंगनबाड़ी व आशा कर्मियों से पैम्फलेट बंटवाने के निर्देश भी दिए। इस अवसर पर प्रदेश सरकार में मंत्री सुरेश राणा सहित जनप्रतिनिधिगण, अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना तथा यूपीडा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी अवनीश कुमार अवस्थी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।