सैनिकों के मुकदमों के निस्तारण/आर्थिक सहायता में केन्द्र/राज्य सरकार की उदासीनता के प्रति सैनिक/आश्रितों में आक्रोश

    लखनऊ 26 फरवरी, उ0प्र0 पूर्व सैनिक विभाग के प्रान्तीय चेयरमैन एयरमार्शल (रिटायर्ड) श्री अशोक गोयल की अध्यक्षता में प्रदेश मुख्यालय पर विभाग के प्रदेश पदाधिकारियों एवं जिला/शहर चेयरमैनगणों की एक आवश्यक बैठक सम्पन्न हुई।बैठक में पूर्व कर्नल ओम प्रकाश चैबे को विभाग का वाइस चेयरमैन तथा श्री गंगा राम शर्मा को मुरादाबाद जनपद का जिला चेयरमैन मनोनीत किया गया।
बैठक में सभी पूर्व सैनिकों ने इस बात पर अफसोस जाहिर किया और लखनऊ के स्थानीय सांसद एवं देश के रक्षा मंत्री का ध्यान आकृष्ट कराया कि आर्मिड फोर्सेज ट्रिब्यूनल लखनऊ में 2019 से एक भी जज की नियुक्ति नहीं है और जो मुकदमें लम्बित हैं उनमें सिर्फ ‘‘तारीख पर तारीख’’ दी जा रही हैं। इस विषय पर पूर्व सैनिकों ने तत्काल ए.एफ.टी. में जज की नियुक्ति किये जाने की मांग की गई।इसके अलावा बैठक में एक रैंक, एक पेंशन जो कि पूर्व प्रधानमंत्री डा0 मनमोहन सिंह जी द्वारा स्वीकृत/संस्तुति को लागू किये जाने की मांग की गयी। इस बात पर भी गहरी चिन्ता व्यक्त की गई कि पिछले आठ माह से केन्द्र सरकार में वन रैंक वन पेंशन आज तक लम्बित है उसका रिवीजन अभी तक नहीं हो पाया है।बैठक में पूर्व सैनिकों/आश्रितों की आर्थिक सहायता के लिए रक्षा मंत्रालय, केन्द्रीय सैनिक बोर्ड में उपलब्ध आर्थिक सहायता से वर्षों से पेन्यूरिचरी ग्रान्ट/पुत्रियों की शादी का भुगतान, ‘‘किन्तु/परन्तु’’ लगाकार स्वीकृत/भुगतान नहीं किया जा रहा है उसका भुगतान किये जाने की मांग की गई।
     प्रान्तीय चेयरमैन अशोक गोयल ने उपरोक्त समस्याओं पर केन्द्र सरकार एवं प्रदेश सरकार का ध्यान आकृष्ट कराया कि इन समस्याओं का तत्काल निराकरण कराया जाए, वरना पूर्व सैनिक/आश्रित राजधानी लखनऊ में सड़कों पर उतरने के लिए मजबूर होंगे।बैठक में प्रमुख रूप से अक्षयवर शुक्ल, सुभाष मिश्रा, दीपक भट्ट, गुप्तेश्वर उपाध्याय के साथ ही रायबरेली, मिर्जापुर, गोरखपुर, मऊ आदि जनपदों से बड़ी संख्या में पूर्व सैनिक उपस्थित रहे।