शिक्षा को सर्वांगीण विकास के साथ जोड़कर मानव जीवन के विकास में सहायता मिलेगी: मुख्यमंत्री

    मुख्यमंत्री ने महात्मा गांधी पी0जी0 काॅलेज, गोरखपुर के स्वर्ण जयंती कार्यक्रम को सम्बोधित किया,महात्मा गांधी पी0जी0 काॅलेज का इतिहास अत्यन्त गौरवशाली।

 

      लखनऊ 09 फरवरी, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज जनपद गोरखपुर में महात्मा गांधी पी0जी0 काॅलेज के स्वर्ण जयंती कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि गोरखपुर में शिक्षा की गुणवत्ता को ध्यान में रखकर इस शिक्षण संस्था ने मानक स्थापित किया है। शिक्षा को सर्वांगीण विकास के साथ जोड़कर मानव जीवन के विकास में सहायता मिलेगी। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी पी0जी0 काॅलेज का इतिहास अत्यन्त गौरवशाली है। यह सरलता एवं सहजता के साथ उत्तम शिक्षा का केन्द्र है।


    मुख्यमंत्री जी ने कहा कि महात्मा गांधी पी0जी0 काॅलेज के संस्थापकों द्वारा 110 वर्ष पूर्व इस संस्था को शिक्षा के केन्द्र के रूप में विकसित करने के लिए जो कार्य किया, उसका परिणाम यह महाविद्यालय है। उन्होंने कहा कि आज का समय आविष्कारों का है। आज हमारे युवाओं को अच्छा माहौल देने का कार्य किया जा रहा है। प्रत्येक क्षेत्र में कुछ न कुछ कार्य किए जा रहे हैं। युवाओं को रोजगार मिल रहा है, माहौल बदल रहा है। सामूहिक जिम्मेदारी की भावना से गोरखपुर में विकास हो रहा है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि फर्टिलाइजर कारखाना आरम्भ होने पर युवाओं को रोजगार मिलेगा। पर्यटन का विकास किया जा रहा है। एक समय पूर्वी उ0प्र0 को चीनी का कटोरा कहा जाता था, किन्तु धीरे-धीरे सभी चीनी मिलें बन्द हो गईं। सरकार बनने के बाद जनपद में चीनी मिल को प्रारम्भ कराया गया, जिससे 1000 युवाओं को सीधे रोजगार मिला। एम्स के निर्माण से स्वास्थ्य की बेहतरीन सुविधाओं के साथ 05 हजार युवाओं को रोजगार मिला। इस वर्ष के अन्त तक जनपद गोरखपुर में चिड़ियाघर भी प्रारम्भ हो जाएगा। गोरखपुर से दिल्ली, मुम्बई, बैंगलुरु तथा प्रयागराज सहित विभिन्न शहरों के लिए हवाई सेवाएं संचालित हैं।
कार्यक्रम के दौरान महाविद्यालय के प्रबन्धक श्री प्रेम नारायण श्रीवास्तव ने मुख्यमंत्री जी का स्वागत किया। श्री गंगादयाल श्रीवास्तव ने अपने सम्बोधन में विद्यालय के विषय में विस्तारपूर्वक जानकारी दी।इस अवसर पर जनप्रतिनिधिगण, शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी, शिक्षकगण, छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।

 

 



प्रत्येक व्यक्ति द्वारा राष्ट्र कल्याण के लिए उनके उपदेशों को ग्रहण करना चाहिए तथा संत रविदास के आदर्शों से सभी को प्रेरणा लेनी चाहिए: मुख्यमंत्री

 




मुख्यमंत्री ने जनपद गोरखपुर में रविदास जयन्ती के अवसर पर रविदास मंदिर पहुंचकर पूजा-अर्चना की,प्रदेश सरकार द्वारा अनुसूचित जाति/जनजाति के लिए छात्रावासों का निर्माण कराया जा रहा है,प्रदेश सरकार सभी के सर्वांगीण विकास के लिए निरन्तर कार्य कर रही है।

 


      उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज जनपद गोरखपुर में रविदास मंदिर पहुंचकर पूजा-अर्चना की। उन्होंने रविदास जयन्ती के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि संत रविदास कहते थे कि ‘मन चंगा तो कठौती में गंगा’। प्रत्येक व्यक्ति द्वारा राष्ट्र कल्याण के लिए उनके उपदेशों को ग्रहण करना चाहिए तथा संत रविदास के आदर्शों से सभी को प्रेरणा लेनी चाहिए।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि संत रविदास के मंदिर के विकास के लिए सरकार द्वारा 50.78 लाख की स्वीकृति प्रदान की गयी थी, जिससे मंदिर का सौन्दर्यीकरण का कार्य हो रहा है। प्रदेश सरकार द्वारा अनुसूचित जाति/जनजाति के लिए छात्रावासों का निर्माण कराया जा रहा है। 56 लाख छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति तथा शुल्क प्रतिपूर्ति का लाभ दिया गया है। प्रदेश सरकार सभी के सर्वांगीण विकास के लिए निरन्तर कार्य कर रही है।
इसके उपरान्त, जनपद के प्रभारी तथा समाज कल्याण मंत्री श्री रमापति शास्त्री ने रविदास मंदिर पहुंचकर झांकियों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।
इस अवसर पर जनप्रतिनिधिगण सहित शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी एवं अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।
-


-