विभाग अपना रिपोर्ट कॉर्ड दे- जिलाधिकारी


     अयोध्या, 06 फरवरी, जिलाधिकारी अनुज कुमार झा की अध्यक्षता में मासिक विकास कार्यो की समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई। समीक्षा के प्रथम चरण में सरकार के प्राथमिकता के कार्यो को गुणवत्ता के साथ समय से पूरा करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि शासन के निर्देश पर वर्तमान सरकार के विकास कार्यक्रमो पर आधारित तीन वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर विकास कार्यो की प्रगति पुस्तिका तैयार कर सभी संबंधित विभाग कार्यक्रम क्रियान्वयन विभाग के निर्धारित प्रारूप पर एनआईसी विज्ञान केन्द्र में कल दिनांक 07 फरवरी 2020 तक प्रत्येक दशा में कम्प्यूटर से लोड करते हुए उसकी एक प्रति जिला अर्थ संख्या कार्यालय को उपलब्ध करा दे इसमें निम्न सूचनाए विभागवार अंकित की जानी है जिसमें दिनांक 19 मार्च 2017 तक की तथा दिनांक 31 जनवरी 2020 तक की जिलास्तरीय एवं विधान सभावार अकित की जानी है। इस सूचनाओ को प्राथमिकता के आधार पर अंकित किया जाय तथा संबंधित कार्यो के फोटोग्राफ आदि हो तो भी कम्प्यूटर पर मंगलफाण्ट में लोड किया जाये। बैठक में जिलाधिकारी ने जलनिगम द्वारा कराई जा रही कार्यो में तेजी लाने के निर्देश दिये उन्होंने कहा कि पूयजल योजना में हो रहे कार्यो में लगे मेनपावर की प्रतिदिन फोटो सहित संख्या उपलब्ध कराई जाये। उन्होंने वर्मी कम्पोस्ट हेतु माहवार लक्ष्य निर्धारित करते हुए लक्ष्य को पूर्ण करने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी द्वारा चिकित्सा विभाग में डाक्टरो की उपस्थिति दवाओ की आपूर्ति, छात्रवृत्ति का वितरण, सामूहिक विवाह कार्यक्रम, मुख्यमंत्री आवास, प्रधानमंत्री आवास, कृषि विभाग, उद्यान विभाग, महिला कल्याण, निर्माण कार्य, स्वच्छता कार्यक्रम, विद्युत आपूर्ति, धान क्रय केन्द्र, उर्वरक की उपलब्धता आदि विकास एवं कल्याण के सभी बिन्दुओ के तथा जनपयोगी सरकारी कार्यो की बिन्दुवार गहनता के साथ समीक्षा की। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि निर्माण कार्यो के लिए जनपद में अधिशाषी अभियन्ताओ एवं जिलास्तर के अधिकारियो को समय-समय पर 15 दिन में सत्यापन/निरीक्षण करने हेतु जिलाधिकारी द्वारा नोडल अधिकारी नामित अधिकारी निरीक्षण करने हेतु निर्देश दे दिया गया है वे यह सुनिश्चित करे कि  संबंधित कार्यो में किसी भी प्रकार से गुणवत्ता से समझौता न हो तथा वेहतर रूप से कार्य हो सके। बैठक में परियोजना निदेशक, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, प्रभागीय अधिकारी वानिकी, अन्य जिलास्तरीय अधिकारीगण, अभियन्तागण आदि उपस्थित थे तथा जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी ने विस्तृत विवरण प्रस्तुत किये।


   मण्डलायुक्त एमपी अग्रवाल द्वारा आज ग्राम्य विकास संबंधी कार्यो की जनपदो के परियोजना निदेशक जिला विकास अधिकारी आदि के साथ आयुक्त कार्यालय में समीक्षा की गई तथा संबंधित विभाग के कार्यो को समय से पूरा करने हेतु निर्देश दिये गये।