23 फरवरी  से 29 फरवरी तक क्रय किए गए गन्ने का मिल ने किया भुगतान

     उपगन्ना आयुक्त व जिला गन्ना अधिकारी ने रौजागांव चीनी मिल में मिल गेट व यार्ड का किया औचक निरीक्षण.


          भेलसर(अयोध्या)उपगन्ना आयुक्त परिक्षेत्र अयोध्या एवं जिला गन्ना अधिकारी अयोध्या ने रौजागांव चीनी मिल में मिल गेट एवं यार्ड का औचक निरीक्षण कर कांटे की जांच की।
     उपगन्ना आयुक्त परिक्षेत्र अयोध्या एवं जिला गन्ना अधिकारी अयोध्या ने रौजागांव चीनी मिल में मिल गेट एवं यार्ड का औचक निरीक्षण कर कांटे की जांच की।जांच में कांटा शुद्ध पाया गया।अधिकारी द्वेव ने पाया कि कोरोना वायरस से बचाव हेतु प्रसारित दिशा-निर्देशों का पालन किया जा रहा है जिसमें गन्ना कृषको द्वारा टोकन कटवाते समय सामाजिक दूरी(सोशल डिस्टेंसिंग)का पालन किया जा रहा था।हाथ धोने के लिए साबुन व सैनिटाइजर का इस्तेमाल किया जा रहा है।इस मौके पर उपगन्ना आयुक्त द्वारा कोरोना वायरस से बचाव के बारे में किसानों को विस्तार पूर्वक बताया गया।साथ ही बताया कि कुरौना महामारी संक्रमण फैलने के डर से कागज की पर्चीयो का छपना बंद हो गया है और पर्ची निर्गत होने की सूचना एसएमएस द्वारा कृषकों के मोबाइल पर दी जा रही है ऐसी स्थिति में जिन कृषक भाइयों के मोबाइल नंबर कंप्यूटर में अपडेट नहीं है वह कृपया एंड्राइड मोबाइल फोन पर ई गन्ना ऐप की मदद से अपना मोबाइल नंबर ठीक करा ले।किसान भाई अपने मोबाइल में इनबॉक्स(जिसमे एसएमएस आता है)को भी खाली रखें इनबॉक्स भरे होने पर आपको एसएमएस प्राप्त नहीं हो सकेगा।
इस मौके पर किसानों से वार्ता करते हुए यूनिट हेड निष्काम गुप्त ने बताया कि किसान भाई परेशान न हो चीनी मिल निरंतर गन्ना पेराई कार्य करती रहेगी।साथ ही किसान भाइयों से अनुरोध है की पर्ची/मोबाइल पर एसएमएस प्राप्त होने के बाद ही किसान भाई अपने गन्ने की कटाई करें बिना पर्ची/ एसएमएस के गन्ने की कटाई कदापि ना करें। इससे आपका एवं चीनी मिल दोनों का नुकसान है।यूनिट हेड द्वारा बताया गया कि वर्तमान पेराई सत्र 2019-20 का  23 फरवरी  से 29 फरवरी तक क्रय किए गए गन्ने का समस्त गन्ना मूल्य एवं समिति अंशदान का भुगतान दिनांक 27 मार्च को कृषकों के संबंधित बैंक खाते में भेज दिया गया है।चीनी मिल के महाप्रबंधक(गन्ना)इकबाल सिंह ने कृषकों से अनुरोध किया है कि वह चीनी मिल को केवल साफ सुथरा स्वच्छ एवं ताजा गन्ना ही आपूर्ति करें साथ ही को 0118 प्रजाति के गन्ने की बुवाई अधिक से अधिक क्षेत्रफल में करें।