बेरोजगार अभ्यर्थियों को स्वतः रोजगार

    अयोध्या 19 मार्च , राज्य सरकार द्वारा सेवायोजन विभाग के माध्यम से बेरोजगार अभ्यर्थियों को स्वतः रोजगार के क्षेत्र में सेवायोजित कराने के उद्देश्य से सेवा मित्र एप्लीकेशन का विकास कराया गया है। सेवा मित्र एप्लीकेशन के माध्यम से प्रशिक्षित बेरोजगार अभ्यर्थियों को स्वतः रोजगार के क्षेत्रों (जैसे इलेक्ट्रिशियन,प्लंबर इत्यादि) में रोजगार की उपलब्धता सुनिश्चित हो सकेगी तथा नागरिकों को अपने द्वार पर ही स्थानीय सेवा (लोकल सर्विस) हेतु प्रशिक्षित एवं विश्वसनीय अभ्यर्थी उपलब्ध हो सकेंगे। इससे सरकार को प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में स्वतः रोजगार में नियोजित अभ्यर्थियों की जानकारी उपलब्ध हो सकेगी। सेवा मित्र एप्लीकेशन के प्रथम चरण में केवल सेवा प्रदाताओं के पंजीकरण की व्यवस्था की गयी है।
     इस व्यवस्था के अन्तर्गत कार्य करने के इच्छुक सेवा प्रदाताओं द्वारा सेवायोजन पोर्टल sewayojan.up.nic.in  के होम पेज पर उपलब्ध पंजीकरण हेतु आवेदन पत्र, चरित्र प्रमाण पत्र एवं शपथ पत्र का प्रारूप डाउनलोड किया जा सकेगा। आवेदन पत्र को पूर्ण रूप से भरकर उसके साथ अपने समस्त शैक्षिक योग्यता के प्रमाण पत्र, पुलिस द्वारा निर्धारित प्रारूप पर प्रदत्त चरित्र प्रमाण पत्र, कौशल प्रमाण पत्र, पहचान पत्र (आधार/मतदाता पहचान पत्र/ड्राइविंग लाइसेंस/बैंक पासबुक की स्व प्रमाणित छायाप्रति) एवं 10 रूपये के गैर न्यायिक स्टाम्प पर नोटरी/ ओथ कमिश्नर द्वारा अभिप्रमाणित शपथ पत्र को संलग्न कर अपने जनपद के सेवायोजन कार्यालय में जमा किया जायेगा। सहायक निदेशक/जिला रोजगार सहायता अधिकारी अभ्यर्थी के द्वारा उपलब्ध कराये गये प्रपत्रों को प्राप्त करेंगे तथा अभ्यर्थियों द्वारा उपलब्ध करायी गयी सूचनाओं को उनके मूल प्रमाण पत्रों से सत्यापन करेंगे। तदोपरान्त सहायक निदेशक/जिला रोजगार सहायता अधिकारियों द्वारा उक्त सूचनाओं को अपनी आई डी से सेवा मित्र एप्लीकेशन में फीड कराया जायेगा एवं अभ्यर्थी की उपरोक्त सूचनाओं की पत्रावली भी कार्यालय में धारित की जाएगी। अभ्यर्थी को पंजीकरण की सूचना ई-मेल/एस.एम.एस के माध्यम से उपलब्ध होगी। पंजीकरण के उपरान्त अभ्यर्थी पंजीकरण स्लिप भी कार्यालय से प्राप्त कर सकेंगे। तत्पश्चात सेवा प्रदाता सेवा मित्र एप्लीकेशन के अन्तर्गत कार्य कर सकेंगे।