कोरोना वायरस से बचाव, रोकथाम एवं उपचार के निर्देश

 


    मुख्य सचिव, उत्तर प्रदेश, शासन द्वारा कोरोना वायरस से बचाव, रोकथाम एवं उपचार के निर्देश के क्रम में 1897 के तहत कोरोना वायरस के संकमण को एक वैश्विक महामारी घोषित किया गया है एवं कोबिड-19 के पुष्ट प्रकरण सामने आये हैं, जिसके क्रम में जिलाधिकारी श्री अनुज कुमार झा ने कोरोना वायरस के बचाव एवं रोकथाम के लिए स्टेशन अधीक्षक, उत्तर रेलवे, फैजाबाद निम्नानुसार निर्देश दिये जाते हैं
1. उत्तर रेलवे के अन्तर्गत कार्यालयों, टिकट घर, आरक्षण केन्द्र तथा रेलवे प्लेटफार्मों पर कोरोना वायरस से सम्बन्धित व्यापक रूप से प्रचार-प्रसार करायें तथा सभी सम्बन्धित अधिकारियों /कर्मचारियों/यात्रियों को अवगत कराये कि इस बीमारी से घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है वरन सावधानी बरतने की जरूरत है।
2. शौचालयों, प्लेटफार्मों तथा कार्यालयों पर पर्याप्त मात्रा में हैण्डवासिंग की व्यवस्था करायें, जिसमें साफ पानी और साबुन उपलब्ध हो। साथ ही साथ समस्त यात्रियों/कर्मचारियों को नियमित रूप से हाथ धोने हेतु प्रेरित करें। यथासम्भव हैण्डसेनिटाइजर की व्यवस्था करें तथा इसका समुचित प्रयोग किया जाय।
3. कार्यालय की हाइपोक्लोराइड सल्यूशन एवं डिसइन्फेक्टेन्ट से मापिंग करायी जाय एवं कुर्सी, मेज तथा अन्य फर्नीचरों को भी विसंक्रमित किया जाय।
4. रेलवे स्टेशन पर आम जनता के अधिकाधिक आवागमन के दृष्टिगत अधिक सावधानी बरतने की आवश्यकता है। प्लेटफार्म पर भी डिसइन्फेक्टेन्ट से लगातार मापिंग कराया जाय तथा यात्रियों को बेहतर सैनिटेशन/हाईजीन बनाए रखने हेतु प्रि-रिकार्डेड संदेश नियमित रूप से प्रसारित कराना सुनिश्चित करें।
5. यदि किसी अधिकारी या कर्मचारी अथवा यात्री को सर्दी, जुखाम एवं बुखार की शिकायत हो तो अविलम्ब नजदीकी चिकित्सालय/सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर चिकित्सक की सलाह लें तथा कन्ट्रोल रूम के मोबाइल नम्बर-9453116001 पर तत्काल सूचित करे। इस हेतु सभी प्लेटफार्म पर स्क्रीनिंग की व्यवस्था सुनिश्चित करें तथा थर्मल स्कैनर आदि का प्रबन्ध कर समुचित प्रयोग सुनिश्चित करें।
जिलाधिकारी ने कहा है कि वर्तमान मे इस बीमारी का कोई वैक्सीन अथवा दवा उपलब्ध नहीं है तथा सावधानी बरतने की आवश्यकता है। इन निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित किया जाय।

     मुख्य सचिव, उत्तर प्रदेश, शासन द्वारा कोरोना वायरस से बचाव, रोकथाम एवं उपचार के निर्देश के क्रम में  1897 के तहत कोरोना वायरस के संकमण को एक वैश्विक महामारी घोषित किया गया है एवं कोबिड-19 के पुष्ट प्रकरण सामने आये हैं, जिसके क्रम में जिलाधिकारी श्री अनुज कुमार झा ने कोरोना वायरस के बचाव एवं रोकथाम के लिए क्षेत्रीय प्रबन्धक, उ0प्र0 राज्य सड़क परिवहन निगम, अयोध्या निम्नानुसार निर्देश दिये जाते हैं
1. परिवहन निगम के अन्तर्गत कार्यालयों तथा रोडवेज की बसों में कोरोना वायरस से सम्बन्धित व्यापक रूप से प्रचार-प्रसार करायें तथा सभी सम्बन्धित अधिकारियों/कर्मचारियों को अवगत कराये कि इस बीमारी से घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है वरन सावधानी बरतने की जरूरत है।
2. कार्यालयों के कर्मचारियों हेतु पर्याप्त मात्रा में हैण्डवासिंग की व्यवस्था करायें, जिसमें साफ पानी और साबुन उपलब्ध हो। साथ ही साथ समस्त यात्रियों/कर्मचारियों को नियमित रूप से हाथ धोने हेतु प्रेरित करें। यथासम्भव हैण्डसेनिटाइजर की व्यवस्था करें तथा इसे समुचित प्रयोग करें। ।
3. परिसर तथा सभी बस पड़ावों पर यात्रियों के लिए तथा कार्यालय की हाइपोक्लोराइड सल्यूशन एवं डिसइन्फेक्टेन्ट से मापिंग करायी जाय एवं कुर्सी, मेज, बेन्चों के हत्थों, टिकट काउण्टर तथा अन्य फर्नीचरों को भी विसंकमित किया जाय।
4. बस अड्डों पर आम जनता के अधिकाधिक आवागमन के दृष्टिगत सावधानी बरतने की आवश्यकता है।
5. बसों की साफ-सफाई की अच्छी तरह से व्यवस्था सुनिश्चित की जाय।
6. सीट/बेंच/टिकट काउण्टर पर भी मापिंग करायी जाय।
7. यात्रियों को जागरूक करने के लिए एनाउन्समेन्ट सिस्टम लागू किया जाय। इस हेतु प्रिरिकार्डेड संदेश का नियमित प्रसारण किया जाय।
8. यदि किसी अधिकारी/कर्मचारी या यात्री को सर्दी, जुखाम एवं बुखार की शिकायत हो तो अविलम्ब नजदीकी चिकित्सालय/सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर चिकित्सक की सलाह लें तथा कन्ट्रोल रूम के मोबाइल नम्बर-9453116001 पर तत्काल सूचित करे। इस हेतु थर्मल स्कैनर आदि की व्यवस्था कर लगातार स्क्रीनिंग कराया जाना सुनिश्चित करें।

जिलाधिकारी ने कहा है कि वर्तमान मे इस बीमारी का कोई वैक्सीन अथवा दवा उपलब्ध नहीं है तथा सावधानी बरतने की आवश्यकता है। इन निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित किया जाय।।