लोकतंत्र में सरकार से सवाल पूछने का अधिकार-लल्लू


 प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष  अजय कुमार लल्लू जी के निर्देश पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी के विरोध में गांधी प्रतिमा पर कांग्रेसजनों द्वारा किया गया धरना-प्रदर्शन।लोकतंत्र में सरकार से सवाल पूछने का अधिकार देश के हर नागरिक को है, असहमति लोकतंत्र की ताकत है, इसे सरकार नहीं छीन सकती। श्री सुधांशु बाजपेयी एवं उनके साथियों को तुरन्त बिना शर्त रिहा करने की पुरजोर की गयी मांग।


   - डा0 उमा शंकर पाण्डेय


   लखनऊ 15 मार्च, प्रदेश सरकार के इशारे पर भाजपा के मंत्रियों एवं नेताओं की पूर्व में अपने-अपने चुनावी हलफनामें में चुनाव आयोग को दिये गये दंगों सहित अन्य आपराधिक मुकदमों को लेकर तथाकथित रूप से सवाल पूछने की लगी होर्डिंग के आरोप में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के उत्पीड़न एवं असंवैधानिक तरीके से की गयी गिरफ्तारी के विरोध में उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री अजय कुमार लल्लू जी के निर्देश पर आज गांधी प्रतिमा पर कांग्रेसजनों द्वारा धरना-प्रदर्शन कर प्रदेश सरकार से अविलम्ब कांग्रेस कार्यकर्ताओं श्री सुधांशु बाजपेयी एवं उनके साथियों पर दर्ज मुकदमों को वापस लेते हुए उन्हें तत्काल बिना शर्त रिहा करने की मांग की गयी।
प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता डाॅ0 उमा शंकर पाण्डेय ने बताया कि इस मौके पर कांगे्रसजनों ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा नई परम्परा शुरू की गयी है कि बिना न्यायालय के किसी निर्णय के ही किसी को भी दोषी करार देते हुए उनकी चल और अचल सम्पत्ति से तथाकथित होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए उनकी फोटो एवं पते युक्त होर्डिंग चैराहों पर लगाने को देखते हुए कार्यकर्ताओं द्वारा भी होर्डिंग लगाकर इस वर्तमान भाजपा सरकार के बड़े नेताओं द्वारा अपने लोकसभा चुनाव में दिये गये हलफनामे में स्वीकार किए गए दर्ज मुकदमों के आधार पर सवाल उठाये गये हैं कि क्यों न इस नई परम्परा की शुरूआत वर्तमान सरकार में बैठे हुए भाजपा नेताओं से की जाए, जो आज प्रदेश सरकार में मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री एवं मंत्री पद सहित विभिन्न पदों पर बैठे हैं। इन कार्यकर्ताओं द्वारा लगाई गयी तथाकथित रूप से होर्डिंग पर प्रदेश सरकार के इशारे पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर कार्यकर्ताओं का उत्पीड़न कर, उन पर गंभीर धाराएं लगाकर गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है, जिसे कांग्रेस पार्टी कतई बर्दाश्त नहीं करेगी।
प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष श्री वीरेन्द्र चैधरी ने कहा कि संविधान में हर नागरिक को अपनी आवाज उठाने एवं सरकार से सवाल पूछने का अधिकार है तथा असहमति लोकतंत्र की ताकत है। कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी पूरी तरह द्वेषपूर्ण और असंवैधानिक है। प्रदेश सरकार तत्काल दर्ज मुकदमों को वापस लेकर कार्यकर्ताओं को बिना शर्त रिहा करे।
   प्रवक्ता डाॅ0 पाण्डेय ने बताया कि इस मौके पर प्रमुख रूप से सर्वश्री रमेश कुमार शुक्ल, विवेकानन्द पाठक, श्री मोहित पाण्डेय, अभिषेक सिंह राणा, मुकेश सिंह चैहान, श्री राम कुमार पाल, श्री दिलप्रीत सिंह, श्री अशोक सिंह, श्री आशीष सिंह, श्रीमती ममता चैधरी, डा0 अनूप पटेल, श्रीमती सुशीला शर्मा, श्रीमती शालिनी सिंह, श्री अरशी रजा, श्री अनिल यादव, श्री पंकज तिवारी, श्रीमती रफत फातिमा, श्रीमती सदफ जाफर, श्रीमती प्रेमलता द्विवेदी, श्रीमती संगीता सिंह, श्री राजेश सिंह काली, श्री संजय शर्मा, श्री आशीष दीक्षित, श्री मनोज तिवारी, श्री आसिफ रिजवी रिंकू, श्री उबैदउल्ला नासिर, श्री अजय श्रीवास्तव अज्जू, श्री नीरज तिवारी, श्री योगेश्वर सिंह, श्री ज्ञान प्रकाश राय, चै0 सलमान कादिर, श्री मुशर्रफ इमाम, श्री आलोक सिंह रैकवार, श्री के0डी0 अवस्थी, श्री राजन यादव, श्री अयाज खान अच्छू, श्री स्वतंत्र शुक्ला, श्री संजय श्रीवास्तव, श्री अनोखे लाल तिवारी, श्री प्रभाकर मिश्रा, श्री मुरली मनोहर, श्री रोशन यादव, श्री जितेन्द्र सिंह, श्री रणजीत सिंह सलूजा, सहित सैंकड़ों कांग्रेसजन मौजूद रहे।


    उ0प्र0 कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू जी के निर्देशानुसार केन्द्र एवं प्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में भारी गिरावट का लाभ आम जनता को न दिये जाने, पेट्रोल, डीजल और एलपीजी के दामों में कम से कम 35 से 40 प्रतिशत की कमी किए जाने, पेट्रोल और डीजल को जीएसटी के अन्तर्गत लाए जाने और पेट्रोलियम उत्पादों पर उत्पाद शुल्क/सीमा शुल्क में की गयी वृद्धि को तुरन्त वापस लेने, बढ़ती मंहगाई, असमय वर्षा एवं ओलावृष्टि से हुए फसलों के नुकसान एवं लगभग चार दर्जन लोगों की हुई दुःखद मृत्यु का समुचित मुआवजा दिये जाने की मांग को लेकर कल दिनांक 16 मार्च 2020 को उ0प्र0 कांग्रेस कमेटी की सभी जिला एवं शहर कांग्रेस कमेटियां प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों पर धरना एवं विरोध प्रदर्शन करेंगीं। जिसके तहत लखनऊ में जीपीओ पार्क स्थित गांधी प्रतिमा पर जिला एवं शहर कांग्रेस कमेटी के संयुक्त तत्वावधान में धरना-प्रदर्शन कर विरोध किया जायेगा।