ऊर्जा मंत्री ने लिखा रुदौली विधायक को पत्र,जनता को विद्युत योजनाओं के फायदे दिलाने का किया अनुरोध


       - अब्दुल जब्बार व राकेश यादव 


         भेलसर(अयोध्या)अधिशाषी अभियन्ता रुदौली व उप खण्ड अधिकारी रुदौली ने ऊर्जा मंत्री के एक पत्र को विधायक रुदौली रामचन्द्र यादव को सौपा है।
     ऊर्जा मंत्री ने अपने पत्र में विधायक से अनुरोध करते हुए लिखा है कि हर घर को 24 घंटे विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित कराया जाना प्रदेश सरकार की प्राथमिकता में है लेकिन यह तभी संभव हो सकता है जब उपभोक्ता अपने उचित बिल का भुगतान समय पर करें कुछ उपभोक्ताओं द्वारा नियमित रूप से विद्युत बिल का भुगतान न करने के कारण बिल की धनराशि अधिक हो जाती है अंततः अपने बकाए का भुगतान करने में असमर्थ हो जाते हैं।पत्र में उन्होंने कहा है कि विद्युत बकाया वाले उपभोक्ताओं के लिए आसान किस्त योजना लागू की गई है। जिसकी पंजीकरण की तिथि को 29 फरवरी 2020 से बढ़ाकर 31 मार्च 2020 कर दिया गया है पंजीकरण के समय उपभोक्ताओं को 31 अक्टूबर 2019 तक के अपने बकाया धन राशि का 5% धनराशि अथवा न्यूनतम रु 1500 के साथ माह नवंबर से अद्यतन माह तक वर्तमान बिल जमा करना होगा।31 अक्टूबर 2019 तक की बकाया धनराशि को अधिकतम 24 मासिक किस्तों में आगामी माह के बिलों के साथ जमा करने की सुविधा रहेगी उपभोक्ताओं द्वारा समस्त किस्तों का भुगतान एकमुश्त भी किया जा सकता है।मूल बकाए के विरुद्ध की गई समस्त किस्तों एवं 31 अक्टूबर 2019 तक के बकाए पर लगा अधिभार समाप्त कर दिया जाएगा।इसी प्रकार निजी नलकूप विद्युत बकाया उपभोक्ताओं हेतु भी किसान आसान किस्त योजना के पंजीकरण की तिथि को बढ़ाकर 31 मार्च 2020 कर दिया गया है। पंजीकरण के समय उपभोक्ताओं को 31 जनवरी 2020 तक के बकाया धनराशि का 5% धनराशि अथवा न्यूनतम 1500 के साथ वर्तमान बिल जमा करना होगा। बकाया धनराशि को अधिकतम 6 किस्तों में आगामी माह के बिल के साथ निर्गत किया जाएगा।उपभोक्ताओं द्वारा समस्त किस्तों का भुगतान एकमुश्त भी किया जा सकता है।मूल बकाए के विरुद्ध की गई समस्त किस्तों एवं 31 जनवरी 2020 के बाद निर्गत सभी किस्तों का भुगतान समय से किए जाने के बाद उपभोक्ता का 31 जनवरी 2020 तक के बकाए पर लगा अधिभार समाप्त किया जाएगा।ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने रुदौली विधायक से अपने क्षेत्र के अधिक से अधिक विद्युत बकाया उपभोक्ताओं को इन योजनाओं का लाभ उठाने के लिए प्रेरित करने का अनुरोध किया है।जिसकी समीक्षा बैठक जिले के अन्य विधायकों और विद्युत वितरण निगम के अधिकारियों के साथ 16 मार्च को जनपद मुख्यालय पर होना सुनिश्चित हुआ है।