राजस्व न्यायालय, चकबंदी न्यायालय में समस्त प्रकार के न्यायिक कार्य 2 अप्रैल तक स्थगित-अनुज कुमार झा

    अयोध्या 23 मार्च   -जनपद के किसी भी क्षेत्र में कोरोना वायरस फैलने न पाएं, यदि फैलता है तो उसके प्रसार को सीमित करने तथा प्रभावी नियंत्रण हेतु जिला मजिस्ट्रेट अनुज कुमार झा ने उठाए कठोर कदम। इसी के साथ उन्होंने जनता से, लिए गए सख्त निर्णय में सहयोग करने की अपील की है। उन्होंने कहा कि जो भी जिला प्रशासन द्वारा सख्त कदम उठाए गए हैं, वह सभी जनमानस के सुरक्षा, स्वास्थ्य एवं जनकल्याण में उठाए गए हैं। उन्होंने बताया कि जब जनपद, प्रदेश एवं देश में निवास करने वाले नागरिक स्वस्थ एवं सुरक्षित रहेंगे तभी देश आगे विकास करेगा। कोरोना वायरस से हमें हर हाल में अपने को बचाना है। उन्होंने कहा कि ज्यादा संक्रमित देशों की स्थिति आप सभी टेलीविजन पर देख चुके हैं। वह स्थिति न आने पाए इसके लिए ऐतिहासिक व सख्त कदम उठाए जा रहे हैं। जनसामान्य से जिला प्रशासन पुनः अपील करता है कि आप सभी जिला प्रशासन का पूर्ण रूप से सहयोग करने के साथ अपने परिवार, रिस्तेदार व मित्रगण के बचाव हेतु जो एडवाइजरी जारी की गई है उनका अक्षरक्षः पालन करें। अति आवश्यक होने पर ही घर से बाहर निकले। जनपद को फिलहाल लाॅक डाउन नही किया गया है ऐपीडेमिक एक्ट के प्रविधानो का कड़ाई से अनुपालन कराया जायेगा।
    जिला मजिस्ट्रेट अनुज कुमार झा ने सभी गेस्ट हाउस सहित ऐसे प्रतिष्ठान जहां विवाह उत्सव, तिलक उत्सव, वर्षगांठ, जन्मदिवस आदि समारोह आयोजित किए जाते हैं ऐसे प्रतिष्ठानों जो उक्त आयोजन आयोजित करते हैं, उन्हें बुकिंग के पहले सक्षम प्राधिकारी से अनुमति लेना होगा। साथ ही विवाह उत्सव के लिए वर एवं वधू दोनों परिवार को सम्मिलित करते हुए अधिकतम 50 से अधिक अतिथियों को प्रतिभाग करने की अनुमति ही होगी। 50 से अधिक लोगों को एकत्र होने पर संबंधित गेस्ट हाउस/प्रतिष्ठान के खिलाफ सख्त कानूनी कार्यवाही की जाएगी। साथ ही जिला मजिस्ट्रेट ने आगे बताया कि समस्त प्रतिष्ठान को अपने अंदर रिसेप्शन काउंटर, प्रमुख दृश्य स्थल पर कोरोना, वायरस से बचाव हेतु प्रचार सामग्री का प्रदर्शन करना होगा प्रतिष्ठान के अंदर खिड़की, दरवाजे, फर्नीचर, ढेयोढ़ी तथा रेलिंग, कमरों, हाल व वॉशरूम को हर घंटे पर साफ व विसंक्रमित करना होगा। अपने गेट पर तथा अंदर पानी की टंकी जिसमें टोटी लगी है के साथ साबुन रखना होगा तथा एक बोर्ड लगाना होगा कि पहले साबुन से हाथ धोये तभी प्रतिष्ठान के अन्दर प्रवेश करें।

     जिला मजिस्ट्रेट अनुज कुमार झा ने अपने अधीन समस्त राजस्व न्यायालय, चकबंदी न्यायालय में समस्त प्रकार के न्यायिक कार्य 2 अप्रैल 2020 तक स्थगित करने के आदेश जारी कर दिए हैं। पूर्व में जो राजस्व एवं चकबंदी वाद चल रहे हैं उनके वादाकारियो को अगली डेट लेने हेतु आने की आवश्यकता नहीं है। अगली डेट पेशकार द्वारा स्वतः लगा दी जाएगी।
     जनपद अयोध्या के नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित सप्ताहिक बाजार पैठ, हॉट आदि आगामी 2 अप्रैल 2020 तक पूर्ण रूप से बंद रखने के आदेश निर्गत कर दिए गए हैं। साथ ही सभी नगरीय व ग्रामीण क्षेत्रों में होटल, रेस्तरां, कैफे, फूड पॉइंट, भोजनालय, ढाबा, खाने-पीने के ठेले, खोमचे जैसे आलू टिक्की, छोले भटूरे, मोमोज, राजमा चावल, छोले कुलचे, पानी बतासा आदि आगामी 2 अप्रैल तक पूर्ण रूप से बंद रखने के आदेश निर्गत कर दिए गए हैं। आदेश का अनुपालन न करने वाले के खिलाफ सख्त विधिक कार्रवाई की जाएगी। परन्तु खाना/खाद्य सामाग्री को पैक कर होम डिलेवरी अथवा स्वंय घर ले जाने पर यह प्रतिबन्ध लागू नही होगा। उक्त जानकारी जिला मजिस्ट्रेट श्री अनुज कुमार झा ने दी है।
     जिला मजिस्ट्रेट अनुज कुमार झा ने जनपद के अंदर अनावश्यक रूप से भ्रमण करने व अनावश्यक आवागमन को प्रतिबन्धित रखने के उद्देश्य से नगर निगम व नगर निकाय क्षेत्रों में सार्वजनिक, सामूहिक, वाहन यथा ट्रैवलर टेंपो, ऑटो, प्राइवेट टैक्सी वाहन, निजी बसों का परिचालन आगामी 2 अप्रैल तक पूर्ण रूप से बंद रखने के आदेश जिला मजिस्ट्रेट श्री अनुज कुमार झा द्वारा दिये गये है। केवल ई-रिक्शा हाथ चलित रिक्शा पर चालक के अतिरिक्त एक ही सवारी का अग्रिम आदेश तक संचालन हेतु अनुमन्य होगा। एक से अधिक सवारी के संचालन पर ई रिक्शा व हाथ चलित रिक्शा के स्वामी/ड्राइवर के विरुद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई प्रस्तावित की जाएगी।

जिला मजिस्ट्रेट  अनुज कुमार झा ने सभी प्रकार के सरकारी, गैर सरकारी निर्माण कार्य चाहे वह भवन हो, पार्क हो आदि आज 2 अप्रैल तक प्रतिबंधित किए जाते हैं।

जनपद के समस्त सिनेमा हॉल, माल, मल्टी ब्रांड शोरूम, रिटेल स्टोर आदि को 2 अप्रैल तक पूर्ण रूप से बंद रखने के आदेश जिला मजिस्ट्रेट श्री अनुज कुमार झा ने दिया है। माल, मल्टी ब्रांड शोरूम, रिटेल स्टोर में स्थित आवश्यक वस्तुओं की दुकानें यथा दवा की दुकान, किराना, फल, सब्जी, दूध पर यह प्रतिबंध लागू नहीं होगा। प्रतिबंध यह होगा कि एक परिवार से एक ही व्यक्ति को सामान क्रय हेतु अंदर जाने की अनुमति होगी किसी भी दशा में 10 से अधिक व्यक्तियों के प्रवेश पर प्रतिबंध को मानना होगा। खाद्यान्न, दैनिक उपयोग की सामग्री एवं आवश्यक वस्तुओं की जमाखोरी, कालाबाजारी, बाजार मूल्य से अधिक मूल्य लेने वाले के खिलाफ गठित अधिकारियों की टीमें सख्त आवश्यक वस्तु अधिनियम की धारा 3/7 के तहत सख्त कार्रवाई करने के आदेश निर्गत कर दिये गये है।

    जिला मजिस्ट्रेट अनुज कुमार झा ने बताया कि आगामी 4 अप्रैल तक राज्य सरकार, जिला प्रशासन, वित्तीय संस्थाओं, बैंक आदि प्रशासनिक निकायों प्राधिकरण, एजेंसियों की ओर से की जाने वाली किसी भी प्रकार की वसूली 6 अप्रैल तक स्थगित व प्रतिबंधित रहेगी। उपरोक्त के अतिरिक्त राज्य सरकार, जिला प्रशासन, स्थानीय निकाय के अधीन किसी भी प्रकार की विध्वंसक कार्रवाई नहीं की जाएगी, न ही किसी को व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होने के लिए आदेश दिए जाएंगे, साथ ही किसी के खिलाफ निष्कासन एवं बेदखली की कार्रवाई नहीं की जाएगी। किसी भी प्रकार की नीलामी जो पूर्व में लंबित अथवा आरंभ की गई है पर अग्रिम आदेशों तक जिला मजिस्ट्रेट ने रोक लगा दी है। यह प्रतिबंध 6 अप्रैल तक लागू रहेंगे।
 उक्त सभी आदेशो का कड़ाई से पालन कराने हेतु जिला मजिस्ट्रेट अनुज कुमार झा ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, मुख्य विकास अधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, समस्त अपर जिलाधिकारी, मुख्य राजस्व अधिकारी, सभी उप जिला मजिस्ट्रेट, समस्त क्षेत्राधिकारी को पत्र भेजकर कड़ाई से अनुपालन के निर्देश दिए हैं।