तीन साल में 3 लाख युवाओं को सरकारी नौकरी , 33 लाख को रोजगार - डाॅ0 दिनेश शर्मा

 आंकड़ों के माध्यम से उप मुख्यमंत्री डाॅ0 दिनेश शर्मा का कांग्रेस पर हमला, बोले-पहले से बहुत बेहतर हुई प्रदेश की कानून व्यवस्था।


आंकड़ों के माध्यम से उप मुख्यमंत्री डाॅ0 दिनेश शर्मा का कांग्रेस पर हमला, बोले- पहले से बहुत बेहतर हुई प्रदेश की कानून व्यवस्था।बलात्कार के मामलों में आई 17.90 प्रतिशत की कमी,हमारी सरकार गो माता की रक्षा, संरक्षण और संवर्धन कर रही है।


     लखनऊ 19 मार्च,  कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय सिंह ‘लल्लू’ की प्रेस काॅन्फ्रेंस का उत्तर प्रदेश सरकार के उप मुख्यमंत्री डाॅ0 दिनेश शर्मा ने करारा जवाब दिया है। आंकड़ों को माध्यम से उप मुख्यमंत्री ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा है कि पिछली सरकारों के मुकाबले प्रदेश की कानून व्यवस्था बहुत बेहतर हुई है। विगत तीन वर्षों में प्रदेश में एक भी दंगा नहीं हुआ है। मा0 उच्च न्यायालय, पंजाब एण्ड हरियाणा द्वारा उत्तर प्रदेश की बेहतर कानून-व्यवस्था का विशेष उल्लेख करते हुए सराहना की गई है।
डाॅ0 दिनेश शर्मा ने कहा है कि अच्छी कानून-व्यवस्था के दृष्टिगत लखनऊ एवं नोएडा में पुलिस कमीश्नर व्यवस्था लागू की गई। क्राइम पर जीरो टाॅलरेन्स की नीति का परिणाम है कि संगठित अपराध पर 2016 की तुलना में 2019 में प्रभावी अंकुश लगा है। डकैती के मामलों में 59.70 प्रतिशत, लूट के मामलों में 47.09 प्रतिशत, हत्या के मामलों में 21.71 प्रतिशत, बलवा के मामलों में 27.20 प्रतिशत, फिरौती के मामलों में 37.74 प्रतिशत और बलात्कार के मामलों में 17.90 प्रतिशत की कमी आई है। सभी प्रमुख त्योहार, धार्मिक जुलूस, मेले आदि सकुशल सम्पन्न हुए हैं।
रोजगार के मामले पर अपनी बात रखते हुए उप मुख्यमंत्री डाॅ0 दिनेश शर्मा ने कहा है कि प्रदेश में पहले की अपेक्षा ज्यादा रोजगार के अवसर उपलब्ध हुए हैं। प्रथम एवं द्वितीय ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी व अन्य माध्यमों से लगभग तीन लाख करोड़ रुपये का निवेश आने से प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से प्रदेश के 33 लाख से अधिक लोगों को रोजगार मिला है। उन्होंने कहा है कि योगी सरकार ने तीन वर्षों में तीन लाख युवाओं को सरकारी नौकरी दी है। हर वर्ष एक लाख युवाओं को सेवायोजित किया गया है। अकेले पुलिस विभाग में 1 लाख 37 हजार से ज्यादा पुलिस के जवानों को भर्ती हुई है।
भ्रष्टाचार पर बोलते हुए उप मुख्यमंत्री डाॅ0 दिनेश शर्मा ने कहा है कि विगत तीन वर्षों में योगी सरकार के कार्यकाल में एक भी घोटाला नहीं हुआ है, बल्कि विभिन्न विभागों के 700 से ज्यादा भ्रष्ट अधिकारियों एवं कर्मचारियों पर कार्रवाई करते हुए उन्हें या तो जबरन रिटायरमेंट दिया गया है या फिर वह सस्पेंड हुए हैं। उन्होंने कहा कि डीएचएफएल घोटाला सपा सरकार के कार्यकाल में हुआ था। जिसे योगी सरकार ने खोलने का काम किया है और भ्रष्टाचारियों को जेल भेजने का काम किया है। सभी दोषियों को अपने किए सजा मिलेगी इसके साथ ही उनसे कर्मचारियों की पाई-पाई की वसूली भी होगी।
डाॅ0 दिनेश शर्मा ने कहा कि योगी सरकार किसानों के हित के लिए लगातार कार्य कर रही है। 92 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा के गन्ना मूल्य का भुगतान करने में हम सफल रहे हैं। हमारी सरकार पिछली सरकारों के बकाये का भी भुगतान किया है। प्रदेश के किसानों को उनकी लागत से डेढ़ गुना ज्यादा का भुगतान किया जा रहा है। केंद्र सरकार न्यूनतम समर्थन मूल्य के साथ ही उत्तर प्रदेश सरकार प्रति क्विंटल लोडिंग, अनलोडिंग और छनाई के मद में अतिरिक्त भुगतान कर रही है।
छुट्टा पशुओं के विषय में बोलते हुए डाॅ0 दिनेश शर्मा ने कहा कि हमारी सरकार गो माता की रक्षा, संरक्षण और संवर्धन कर रही है। हम गो माता को न सड़क पर लाठी खाने देंगे और न ही बूचड़खाने में जाने देंगे। निराश्रित गोवंश की देखभाल के लिए हमारी सरकार प्रत्येक गोवंश के लिए हर महीने 900 रुपये दे रही है। 4,271 अस्थायी गो आश्रय स्थल, 146 कान्हा गोशाला, 385 कांजी हाउस व 109 वृहद गोवंश संरक्षण केंद्रों में कुल 4,63,566 गोवंश संरक्षित है, जिनके भरण-पोषण हेतु 273.61 करोड़ रुपये दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पशुओं को होने वाली खुरपका और मुंहपका बीमारी को खत्म करने लिए हर जनपद में दवा और वैक्सीन भेजी जा रही है। हमारी सरकार प्रत्येक गोवंश की इयर टैगिंग करने जा रही है, इससे यह पता चल जाएगा कि किस गोवंश को दवा नहीं मिली है और किस को नहीं।