14 दिन पैदल यात्रा कर बेंगलोर से घर पंहुचा युवक,चिकित्सक ने होम कोरेन्टीन के लिए कहा


        - अब्दुल जब्बार


      भेलसर(अयोध्या)कोरोना महामारी व लॉक डाउन के चलते पूरी तरह से बंद यातायात भी बंगलोर में रह रहे शहर के युवक का हौसला नही खत्म कर सका।घर पहुचने की ठान चुका युवक 14 दिन की पैदल यात्रा कर घर पहुच गया।
जानकारी के अनुसार शहर के वार्ड पुरेमियां(पुराना कोट)निवासी रमजान अली खान पुत्र अली मुख्तार लगभग 2 वर्षो से बैंगलोर कर्नाटक में मेहनत मजदूरी करके अपने घर परिवार का भरण पोषण करता था।लॉक डाउन के चलते रमजान अली खान बंगलोर कर्नाटक से 14 दिन पैदल चलकर 18 अप्रैल को अपने घर पहुंचा।शनिवार को भेलसर चौकी पुलिस की चेकिंग में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र रूदौली भेजवा कर युवक की थर्मल जाच कराई गई।चिकित्सक डॉ अंजू जायसवाल ने बताया कि युवक ने बताया की मैं 14 दिनों तक पैदल चलने के बाद रुदौली पहुचा है।रमजान अली को घर कोरेन्टीन रहने के लिए कहा गया है।