अस्थायी आश्रय स्थल में न रुकने से ग्रामीणों में दहशत व

   - अब्दुल जब्बार एड्वोकेट व अनिल कुमार मिश्रा 


बाहर से आये आधा दर्जन से अधिक लोगों के अस्थायी आश्रय स्थल में न रुकने से ग्रामीणों में दहशत व नाराजगी।


     भेलसर(अयोध्या)विकास खण्ड रूदौली के जमुनिया मऊ गांव में लॉक डाउन की घोषणा के बाद बाहर से आये आधा दर्जन से अधिक लोगों के अस्थाई आश्रय स्थल में न रुकने से ग्रामीणों में दहशत व नाराज़गी है।
     विकास खण्ड रूदौली के जमुनिया मऊ गांव के प्रधान इसरार अहमद ने बताया कि प्राथमिक विद्यालय जमुनिया मऊ को अस्थायी आश्रय स्थल बनाया गया था ताकि बाहर से आने वाले लोग अपना चेकअप कराकर वहीं पर ठहरें।बताया कि लॉक डाउन की घोषणा के बाद गांव में आधा दर्जन से अधिक लोग आए लेकिन अस्थायी आश्रय स्थल में न रुककर अपने अपने घरों पर रुके है।प्रधान ने बताया कि इसकी सूचना उन्होंने तहसील प्रशासन को भी दी है।प्रधान ने यह भी बताया कि प्राथमिक विद्यालय की चाभी अध्यापक लेकर चले गए है।बाहर से आये लोगों के अस्थायी आश्रय स्थल में न रुकने से ग्रामीणों में दहशत व नाराज़गी है।उपजिलाधिकारी विपिन कुमार सिंह ने बताया कि बाहर से आये लोगों को होम आइसोलेशन में रखा गया है।उनकी निगरानी की जा रही है।