अयोध्या में बिना थर्मल स्कैनिंग के प्रवेश वर्जित:  अनुज कुमार झा


जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने जनपद के शहरी क्षेत्र चौक, फतेहगंज, नाका व ग्रामीण क्षेत्र मसौधा, बीकापुर, खजुरहट व सुल्तानपुर सीमा पर चौरे बाजार  चेक पोस्ट का निरीक्षण किया।


जिलाधिकारी द्वारा जनपद सुल्तानपुर के बॉर्डर पर जनपद में प्रवेश करने वालों की थर्मल स्कैनिंग व अनावश्यक  लोगों को जिले में  प्रवेश से  रोकने हेतु लगाए गए मेडिकल व पुलिस टीम को निर्देशित किया कि  कोई भी व्यक्ति बिना थर्मल स्कैनिंग के जनपद में प्रवेश न करने पाए यदि किसी व्यक्ति में क्रोना के लक्षण पाए जाते हैं तो इसकी सूचना तत्काल मुख्य विकास अधिकारी व मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दे जनपद में प्रवेश करने वाले सभी व्यक्तियों की सूची  बनाएं जिसमें उसका नाम, पता व मोबाइल नंबर आदि अंकित करें।


 
    कोविड-19 के प्रसार को रोकने हेतु जिलाधिकारी व जिला प्रशासन द्वारा विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश हैं। जिलाधिकारी व एसएसपी द्वारा प्रतिदिन जनपद के विभिन्न क्षेत्रों का भ्रमण किया जा रहा है इससे पूर्व जिलाधिकारी द्वारा जनपद के बस्ती, गोंडा, अंबेडकरनगर कि सीमाओं का भ्रमण किया जा चुका है। और सभी सीमाओं सील किया गया है सभी जगह जनपद में प्रवेश करने वालों कि थर्मल स्कैनिंग हो रही है चिकित्सा अति आवश्यक कार्यों को छोड़कर जनपद में सभी प्रकार के प्रवेश वर्जित हैं।
  आज जिलाधिकारी द्वारा  जनपद सुल्तानपुर के  बॉर्डर के चेकप्वाइंट का निरीक्षण किया गया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में कोरोना का एक भी मरीज नहीं है किंतु हमारे पड़ोसी जनपदों में कोविड-19 के मरीज पाए गए हैं ऐसे में हमें विशेष सतर्कता बरतने और लाक डाउन का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित करना अति आवश्यक है।  जिलाधिकारी ने सीमा पर तैनात पुलिस व चिकित्सा की टीम को जनपद के सभी सीमाओं पर सख्ती बरतने के निर्देश दिए उन्होंने कहा कि  कोई भी व्यक्ति जिसके पास वैध पास नहीं है, या मेडिकल इमरजेंसी या आपातकालीन सामान आदि की आपूर्ति नहीं कर रहा है, को सीमा से अंदर आने की अनुमति किसी भी दशा में न दी जाए।  उन्होंने निर्देश दिए कि जो लोग दूसरे जिले में कार्यरत हैं, उन्हें भी एक जिले से दूसरे जिले में प्रतिदिन यात्रा करने की अनुमति नहीं है। भले ही उनके पास एक वैध पास उपलब्ध हो। जो जिस जिले में नौकरी कर रहा है वह उसी जिले में रहकर कार्य करें।



जिलाधिकारी श्री झा ने कहा कि कि जो लोग अन्य जिलों से पैदल आ रहे हैं और हमारे जिले या किसी अन्य जिले में जा रहे हैं, उन्हें भी अब  क्वॉरेंटाइन सेंटर या शेल्टर होम  केंद्रों  में ही रखा जाए, इससे इसमें किसी भी व्यक्ति के संक्रमित पाए जाने पर हमें वायरस फैलने से रोकने में मदद मिलेगी।


    जनपद के अंदर बहुत सारे वाहन और बाइक चल रहे हैं।  इनमें से अधिकांश दोपहिया वाहनों पर दो लोग सवारी कर रहे हैं जिसकी अनुमति नहीं है। जिलाधिकारी ने कहा कि  बाइक पर केवल एक व्यक्ति को अनुमति दी जाय। चार पहिया वाहनों की अनुमति केवल चिकित्सा प्रयोजन के लिए ही दी जाय। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि चार पहिया वाहन का प्रयोग चिकित्सा के लिए हो रहा है या नहीं और उनके पास कोई पास है या नहीं। उन्होंने कहा कि जिन चार पहिया वाहनों के पास  जारी किए गए हैं  उनका दुरुपयोग होते हुए पाए जाने पर  गाड़ी को सीज किया जाए  तथा संबंधित पर कड़ी कार्यवाही की जाए।  जिलाधिकारी ने बाहर निकलने वाले सभी लोगों को अनिवार्य रूप से मास्क का उपयोग कराना सुनिश्चित करें तथा अनावश्यक यात्रा करने वालों के वाहन को सीज करने तथा उन पर कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जनपद में भ्रमण के दौरान  कुछ लोग छोटी छोटी वस्तुओं को पाने के लिए लंबी दूरी तय कर रहे हैं। जबकि सभी क्षेत्रों में चिन्हित दुकानें खोली गई हैं अतः लोग अपनी निकटतम दुकान से ही समानों की खरीद करें, किसी को भी छोटी चीजें पाने के लिए लंबी दूरी की यात्रा करने की अनुमति नहीं है। जिलाधिकारी ने सभी उप जिलाधिकारियों, क्षेत्राधिकारियों को जिला प्रशासन द्वारा जारी किए गए निर्देशों को कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए।