गेहूं क्रय केंद्र औचक निरीक्षण-जिलाधिकारी


        अयोध्या , जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने गेहूं क्रय केंद्रों का भी किया निरीक्षण।जिलाधिकारी ने गेहूं क्रय केंद्र पूरा बाजार (विपणन शाखा), किसान सेवा सहकारी समिति दर्शन नगर, गेहूं क्रय केंद्र नवीन मंडी अयोध्या व गेहूं क्रय केंद्र (भारतीय खाद्य निगम) फैजाबाद मंडी का औचक निरीक्षण किया।इस दौरान जिलाधिकारी ने अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व को निर्देशित किया कि सभी लेखपालों को क्षेत्रवार ड्यूटी लगाकर गेहूं विक्रय करने वाले किसानों की सूची तैयार करें तथा उनका रजिस्ट्रेशन करा कर जिस तिथि पर व जिस क्रय केंद्र पर गेहूं विक्रय करना है का टोकन उपलब्ध कराएं इसी के साथ-साथ उन्हें क्रय केंद्र तक आवश्यकतानुसार यातायात की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाए उन्होंने कहा कि ऐसा किसी भी दशा में नहीं होना चाहिए कि किसी किसान को यातायात की असुविधा के कारण गेहूं विक्रय करने में समस्या आए किसान किसान को गेहूं कम दामों पर बेचना पड़े।



    निरीक्षण के दौरान गेहूं क्रय केंद्र पर उपस्थित सभी कर्मचारियों, किसानों तथा पल्लेदारों को मास्क उपलब्ध कराने के साथ किसानों के बैठने व उनके पीने हेतु स्वच्छ पेयजल की व्यवस्था तथा कोरोना वायरस से बचाव के लिए हाथो को सैनिटाइज करने हेतु साबुन पानी या सैनिटाइजर सहित  सभी व्यवस्था के निर्देश दिए। जिला मजिस्ट्रेट ने केंद्र प्रभारियों से कहा कि आने वाले किसानों के साथ अच्छा व्यवहार करें ताकि वापस जाने पर वह अन्य किसानों को भी अपना गेहूं, गेहूं क्रय केंद्र पर बेचने हेतु प्रेरित करें। उन्होंने सचेत किया कि घटतौली बिल्कुल नहीं होनी चाहिए यदि कोई शिकायत मिली तो संबंधित के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि और आढ़तियों और बिचैलियों का गेहूं बिल्कुल क्रय न करे यदि क्रय किया गया तो संबंधित केंद्र प्रभारी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। किसान सेवा सहकारी समिति दर्शन नगर  के निरीक्षण के दौरान कृषक अरविंद वर्मा के गेहूं की तौल हो रही थी जिलाधिकारी ने अरविंद वर्मा के गेहूं के विक्रय हेतु कराए गए पंजीकरण के अनुसार उनके खेतों का स्थलीय निरीक्षण करने के निर्देश दिए गए कि उनके खेतों में क्या गेहूं बोया गया था या कोई अन्य फसल थी। जिला मजिस्ट्रेट ने बताया कि पूरे जनपद में गेहूं किसान के पंजीकरण हेतु 60 पंजीकरण सेवा केंद्रों को खोलने की अनुमति दी गई है। ऐसी व्यवस्था की गई है की हर क्षेत्र के  किसान आसानी से पंजीकरण  केंद्र पहुँच सके। जिला मजिस्ट्रेट ने बताया कि हर केंद्र पर किसानों के  गेहूं क्रय किए जा रहे हैं। कहीं से किसी प्रकार के शिकायत नहीं मिली है।



   के0 एम0 शुगर मिल लिमिटेड (डिस्टलरी इकाई) मोती नगर मसौधा अयोध्या के कर्मचारियों अधिकारियों एवं प्रबंधन तंत्र द्वारा जिला आबकारी अधिकारी वरुण कुमार लाल एवं महाप्रबंधक डिस्टलरी अमरेंद्र प्रताप सिंह व एचआर मैनेजर अशरफ अली जी द्वारा कोविड-19 से बचाव हेतु उत्तर प्रदेश कोविड केयर फंड कोष हेतु 1,21,000 (एक लाख इक्कीस हजार) का चेक जिलाधिकारी अनुज कुमार झा को प्रदान किया गया।