हाॅटस्पाट क्षेत्रों का सर्वे और कड़ी निगरानी के बीच  सेनेटाइजेशन -जिलाधिकारी


    हाॅटस्पाट क्षेत्रों के द्वितीय चरण में 4350 घरों का किया सेनेटाइजेशन तथा 23907 व्यक्तियों का किया गया सर्वे।

      प्रतापगढ़, जिलाधिकारी डा0 रूपेश कुमार एवं पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह ने आज कलेक्ट्रेट के सभागार में प्रेस प्रतिनिधियों से वार्ता के दौरान बताया कि जनपद में कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण से बचाव हेतु अब तक किये गये कार्यो के सम्बन्ध में जानकारी देते हुये बताया कि नरसिंहगढ़, खमपुर दूबेपट्टी, तवकलपुर आदि हाॅट-स्पाट क्षेत्र के द्वितीय चरण में 75 चिकित्सकों की टीम एवं 17 सुपरवाइजरों के द्वारा 1906 घरों में रह रहे 10915 व्यक्तियों का सर्वे एवं घरों का सेनेटाइजेशन किया जा चुका है। इसी प्रकार जामा मस्जिद, जिला अस्पताल हाॅट-स्पाट क्षेत्र के  द्वितीय चरण में 30 चिकित्सकों की टीम एवं 06 सुपरवाइजरों द्वारा 1457 घरों में रह रहे 8057 व्यक्तियों का सर्वे और घरों का सेनेटाइजेशन किया गया। इसके अलावा सबलगढ़ डेरवा हाॅट-स्पाट क्षेत्र के द्वितीय चरण में 50 चिकित्सकों की टीम एवं 10 सुपरवाइजरों के द्वारा 987 घरों में रह रहे 4935 व्यक्तियों का सर्वे एवं घरों का सेनेटाइजेशन किया गया। इस प्रकार अब तक कुल द्वितीय चरण में 23907 व्यक्तियों का सर्वे एवं 4350 घरों का सेनेटाइजेशन किया गया। 



कोरोना वायरस के हाट-स्पाट के क्षेत्रों का ड्रोन कैमरे के माध्यम से की जायेगी निगरानी-
  जिलाधिकारी डा0 रूपेश कुमार एवं पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह ने आज कोरोना वायरस के हाॅट-स्पाट क्षेत्र जामा मस्जिद का निरीक्षण किया और ड्रोन कैमरा के ट्रायल का भी अवलोकन किया। जिलाधिकारी ने कहा कि ड्रोन कैमरे के माध्यम से चिन्हित जनपद के 5 हाॅट-स्पाट क्षेत्रों को ड्रोन कैमरे के माध्यम से निगरानी की जायेगी। इन क्षेत्रों के सभी सकरी गलियों में ड्रोन कैमरे के माध्यम से लाॅकडाउन के कड़ाई से अनुपालन कराया जायेगा एवं सोशल डिस्टेसिंग बनाये रखने में मदद मिलेगी। इस दौरान अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) शत्रोहन वैश्य भी उपस्थित रहे।


     जिलाधिकारी ने बताया है कि जनपद में कोरोना संक्रमण की जांच हेतु अब तक 224 सैम्पल भेजे गये है जिसमें 198 व्यक्ति निगेटिव पाये गये है और पूर्व में जो 06 व्यक्ति कोरोना पाजिटिव पाये गये थे उनका परीक्षण दिनांक  15 अप्रैल 2020 को कराया गया, परीक्षण में सभी 06 व्यक्ति कोरोना निगेटिव पाये गये है तथा शेष 20 की रिपोर्ट अभी अप्राप्त है। जनपद में अब तक जमाखोरी व कालाबाजारी रोकने हेतु ई0सी0 एक्ट के तहत 13 लोगों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज की कार्यवाही की गयी। इस दौरान जिलाधिकारी ने यह भी बताया कि मनरेगा जाॅब कार्ड प्रधान या अन्य व्यक्तियों के पास रखे जाने की जो शिकायते प्राप्त हो रही है उसके सम्बन्ध में मुख्य विकास अधिकारी को निर्देशित किया गया कि इस तरह के प्रकरण संज्ञान में पाये जाये तो सम्बन्धित ग्राम प्रधान एवं सम्बन्धित के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जाये।इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी डा0 अमित पाल शर्मा, अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) शत्रोहन वैश्य, मुख्य राजस्व अधिकारी श्रीराम यादव, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 अरविन्द कुमार श्रीवास्तव, जिला सूचना अधिकारी विजय कुमार भी उपस्थित रहे।