कार्यालय में आगन्तुकों के प्रवेश की अनुमति देने से बचे : मुख्य सचिव

कोविड-19 बीमारी के सापेक्ष लाॅकडाउन के प्रतिबन्धों के सरलीकरण अथवा समाप्ति के उपरान्त कार्य को प्रभावित किये बिना। 


   कोविड-19 के संक्रमण को पूर्ण रूप से समाप्त करने हेतु आवश्यक सावधानियां एवं दिशा-निर्देशों का अनुपालन शीर्ष-प्राथमिकता पर कराया जायेकोविड-19 के प्रसार को रोकने हेतु प्रत्येक कार्मिक रियूजेबल हैण्ड मेड मास्क अथवा गमछे से मुंह एवं नाक ढक कर रखेंप्रत्येक कार्यावधि के पहले और बाद में विसंक्रमण प्रोटोकाॅल के अनुसार कार्य स्थल, शौचालयों तथा अधिक छूने वाली सतहों की साफ-सफाई/विसंक्रमित किया जायेकार्यस्थल/अनुभाग में कार्मिकों को बैठने हेतु समुचित दूरी का ध्यान रखा जायेपांच या अधिक कार्मिकों को एक जगह एकत्रित नहीं होने दिया जाये तथा भोजनावकाश/आॅफिस कैन्टीन में भी लोग समूह में न बैठेंसभी अधिकारी एवं कर्मचारी अपने स्वास्थ्य के प्रति सजग रहेंमुख्य सचिव ने समस्त अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव एवं सचिव को कोविड-19 के संक्रमण को पूर्ण रूप से समाप्त करने हेतु समस्त सावधानियां एवं दिशा-निर्देशों का अनुपालन कराने के दिये निर्देश

लखनऊ, मुख्य सचिव ने निर्देश दिये हैं कि कोविड-19 बीमारी के सापेक्ष लाॅकडाउन के प्रतिबन्धों के सरलीकरण अथवा समाप्ति के उपरान्त कार्य को प्रभावित किये बिना कोविड-19 के संक्रमण को पूर्ण रूप से समाप्त करने हेतु आवश्यक सावधानियां एवं दिशा-निर्देशों का अनुपालन शीर्ष प्राथमिकता पर कराया जाये। कोविड-19 के प्रसार को रोकने हेतु प्रत्येक कार्मिक रियूजेबल हैण्ड मेड मास्क अथवा गमछे से मुंह एवं नाक ढक कर रखें। प्रत्येक कार्यावधि के पहले और बाद में विसंक्रमण प्रोटोकाॅल के अनुसार कार्य स्थल, शौचालयों तथा अधिक छूने वाली सतहों की साफ-सफाई/विसंक्रमण (सैनिटाइजेशन) किया जाये। कार्मिकों को विसंक्रमण प्रोटोकाॅल के अनुसार स्वतः स्वच्छता एवं सामाजिक दूरी बनाये जाने हेतु निर्देशित किया जाये।
मुख्य सचिव ने यह निर्देश समस्त अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव एवं सचिव को परिपत्र निर्गत कर दिये हैं। उन्होंने कहा कि कार्यस्थल/अनुभाग में कार्मिकों को बैठने हेतु समुचित दूरी का ध्यान रखा जाये। बार-बार साबुन एवं पानी से हाथ धोने या अल्कोहल युक्त द्रव्य हाथ पर रगड़ने की प्रक्रिया को अभ्यास में लाये जाने हेतु निर्देशित किया जाये। सभी कार्मिक खांसते व छीकते समय रुमाल अथवा टिशू पेपर का प्रयोग करें। पांच या अधिक कार्मिकों को एक जगह एकत्रित नहीं होने दिया जाये और भोजनावकाश/आॅफिस कैन्टीन में लोग समूह में न बैठें।
    मुख्य सचिव ने यह भी निर्देश दिये कि जहां तक सम्भव हो कार्यालय में आगन्तुकों के प्रवेश की अनुमति न दी जाये। अपरिहार्य परिस्थिति में समुचित स्क्रीनिंग के उपरान्त ही प्रवेश की अनुमति प्रदान की जाये। वीडियो काॅन्फ्रेन्सिंग के माध्यम से ही बैठकें आयोजित की जायें। आवश्यक पत्राचार ई-मेल के माध्यम से ही किया जाये। यथा संभव सतर्कता के दृष्टिगत दूसरे विभागों में फाईल व पत्र न भेजा जाये। यथा सम्भव बाहर से आने वाले पत्रों को प्राप्त करने की व्यवस्था कार्यालय के प्रवेश द्वार पर ही सुनिश्चित की जाये।

 

   मुख्य सचिव ने कहा कि सभी अधिकारी एवं कर्मचारी अपने स्वास्थ्य के प्रति सजग रहें। बुखर, सांस लेने में कठिनाई, परेशानी की स्थिति में तत्काल सम्बन्धित अधिकारी एवं कर्मचारी को घर जाने हेतु निर्देशित किया जाये। ऐसे अधिकारी एवं कर्मचारी होम क्वारन्टाईन हेतु चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, भारत सरकार एवं राज्य सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुसार पालन करें। सेल्फ क्वारन्टाइन हेतु प्राप्त आवश्यक प्रार्थना पत्रांे पर सक्षम अधिकारी द्वारा स्वीकृति प्रदान की जाये।

 

     मुख्य सचिव ने कहा कि अधिक उम्र के कार्मिक, गर्भवती महिला कार्मिक एवं वह कार्मिक जिनका इलाज चल रहा है, जैसे समस्त हाई-रिस्क कर्मचारियों को अधिक सुरक्षा रखनी चाहिये। ऐसे कर्मचारियों को अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ताओं के रूप में कार्य नहीं लिया जाना तथा पब्लिक एक्सपोजर से बचाया जाये। ऐसे अधिकारी एवं कर्मचारी, जो जिला प्रशासन द्वारा घोषित हाॅट स्पाॅट क्षेत्रों में रह रहे हैं, वे जिला प्रशासन द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित करें एवं इसमें किसी प्रकार की छूट दिये जाने की स्थिति में ही कार्यालय आयें।