कोविड-19 के कारण भरण-पोषण की ना होगी समस्या


   जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने बताया कि मुख्यमंत्री जी के निर्देशानुसार प्रदेश में कोविड-19 के कारण भरण-पोषण की समस्या वाले व्यक्तियों को दी जाने वाली राहत के क्रम में जनपद में श्रम विभाग द्वारा अब तक कुल 12202 पंजीकृत श्रमिकों को डी0वी0टी0 के माध्यम से एक-एक हजार रुपये प्रति श्रमिक के हिसाब से कुल 01 करोड़ 22 लाख 2 हजार रुपये की सहायता प्रदान की जा चुकी है और शेष लाभार्थियों हेतु सर्वेक्षण के कार्य जारी है।
          
           उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त नगर तथा ग्रामीण क्षेत्र में ऐसे व्यक्ति जिनके पास भरण-पोषण की कोई व्यवस्था नहीं है को चिन्हित कर अब तक कुल 5336 लाभार्थियों को भी ₹1000 प्रति लाभार्थी की दर से 53 लाख 36 हजार रुपए की सहायता राशि प्रदान की गई है जिसमें ग्रामीण क्षेत्र के 2533 लाभार्थियों को 25 लाख 33 हजार रुपए, नगर पालिका परिषद/पंचायत के 588 लाभार्थियों को 05 लाख 88 हजार रुपए तथा नगर निगम के 2215 लाभार्थियों को 22 लाख 15 हजार रुपये की सहायता राशि सम्मिलित है।