मानव सेवा सबसे बड़ा पुण्य: प्रियंका गांधी


   धार्मिक संस्थानों, मठों, डेरों, मंदिरों, इदारों, गुरुद्वारों और चर्चों के नाम पत्र लिखकर प्रियंका गांधी ने की अपील मानव सेवा सबसे बड़ा पुण्य, जनसेवा में लगे कांग्रेस कार्यकर्ताओं की मदद करें, हम सब एकजुट होकर एक दूसरे की मदद करेंगे।


     - बृजेन्द्र कुमार सिंह


      लखनऊ, 2 अप्रैल, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की महासचिव व उत्तर प्रदेश प्रभारी श्रीमती प्रियंका गांधी जी ने धार्मिक संस्थानों, मठों, डेरों, मंदिरों, इदारों, गुरुद्वारों और चर्चों के नाम अपील करते हुए पत्र लिखा है।
     महासचिव ने पत्र में लिखा है कि हमारा देश कोरोना महामारी के भयानक संकट से गुजर रहा है। मानव जाति पर विपत्ति का पहाड़ टूट पड़ा है। देश के कोने-कोने से लोग अपने घरों को भूखे-प्यासे लौट रहे हैं। लोगों की नौकरियों छूट रहीं हैं। मजदूरों के काम बंद हो गए हैं। ठेले खोमचे वालों रोजी ठप्प हो गयी है।
हालात यह हैं कि कई जगह लोग दाने-पानी को तरस रहे हैं। बीमार-बुजुर्ग लोगों के पास दवा नहीं पहुंच रही है। बच्चे भूख से व्याकुल हो रहे हैं। जगह-जगह से मुझे रोज दर्दनाक तस्वीरें और खबरें मिल रहीं हैं।  
उन्होंने पत्र में अपील में कहा है कि आप और आपकी संस्थाएँ सैकड़ों-हजारों वर्षों से इंसानियत की सेवा कर रही हैं और सबको नेकी का रास्ता दिखा रही हैं। मानव सेवा ही सबसे बड़ा पुण्य और सवाब है। आपसे हम सबको प्रेरणा मिलती है।गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी कोरोना महामारी में लोगों की मदद कर रही है। महासचिव ने अपने पत्र में अपील करते हुए लिखा है कि मैंने उप्र के हर जिले में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की वॉलेंटियर टीम ‘कांग्रेस के सिपाही’ बनवाकर उन्हें जरूरतमंदों की मदद करने को कहा है। हमारे साथी अपनी शक्ति भर इसमें मदद कर रहे हैं।
महासचिव  प्रियंका गांधी ने गुजारिश करते हुए पत्र के अंत में लिखा है कि यदि आपको आपके जनसेवा के कार्यों में वॉलेंटियर्स की जरूरत है तो आप हमारी जिला टीम से संपर्क कर सकते हैं। सांझी रसोई चलाने से लेकर जरूरतमंदों तक मदद पहुँचाने के काम में हमारे साथी आपकी मदद करने को सहर्ष तैयार हैं। कोरोना आपदा में राहत व बचाव कार्यों से जुड़े अन्य कामों में भी यह आपके साथ सहयोग को तत्पर रहेंगे। मुझे उम्मीद नहीं विश्वास है कि इस लड़ाई में हम सब एकजुट होकर एक दूसरे की मदद करेंगे और कोरोना महामारी से भारतवासियों की रक्षा करने का हर एक प्रयास करेंगे।