मानवीयता की मिसाल -राज्य पुलिस

 

   जनपद सहारनपुर में दलित अनाथ महिला का अन्तिम संस्कार पुलिस के सहयोग से कराया गया।महिला के इलाज के लिए भी पुलिस गाड़ी ने ही उन्हें सी0एच0सी0 पहुंचाया था।

     लखनऊ, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा राज्य की पुलिस को जनता के साथ संवेदनशील और मित्रवत व्यवहार करने के निर्देश लगातार दिये जाते रहे हैं। लाॅक डाउन के दौरान पुलिस का मानवीय और संवेदनशील पक्ष भी उजागर हुआ है। आज इसकी एक मिसाल जनपद सहारनपुर के थाना बड़गांव क्षेत्र में देखने को मिली।

इस थाने के ग्राम किशनपुर में ’एक अनाथ महिला’ श्रीमती मीना पत्नी स्व0 हरिया हरिजन की मृत्यु की सूचना प्राप्त होने पर थाना बड़गांव की पुलिस टीम के एस0एस0आई0 श्री दीपक चैधरी, कॉन्स्टेबिल श्री गौरव कुमार तथा विनोद कुमार को मौके पर भेजा गया। पुलिस की इस टीम ने मृतका के अन्तिम संस्कार की जिम्मेदारी को एक पुत्र के रूप में भलीभांति निभाया। इस कार्य में ग्रामवासियों का भी सहयोग लिया गया।

   उल्लेखनीय है कि मृत्यु के पूर्व तबियत खराब होने पर इलाज के लिए श्रीमती मीना को सी0एच0सी0 में पुलिस द्वारा भर्ती कराया गया था, जिसके लिए पुलिस की ही गाड़ी इस्तेमाल की गयी थी। उपचार के दौरान जिला अस्पताल में श्रीमती मीना का स्वर्गवास हो गया। पूर्ण लाॅकडाउन के कारण पुलिस और गाँव के लोगों के सहयोग से उनका अंतिम संस्कार रीति-रिवाज के अनुसार ग्राम किशनपुर में स्थानीय पुलिस द्वारा कराया गया।