महाविद्यालयों हेतु वित्तीय स्वीकृति यथाशीघ्र प्रदान कर निर्माण कार्य प्रारम्भ कराया जाये: मुख्य सचिव

     मुख्य सचिव ने प्रदेश में राजकीय महाविद्यालयों के निर्माण कार्यों की प्रगति की समीक्षा की,47 महाविद्यालयों हेतु भूमि प्राप्त हो जाने के फलस्वरूप अवशेष 03 महाविद्यालयों हेतु भूमि चिन्हांकन की कार्यवाही पूर्ण कर सक्षम स्तर से अनुमोदन प्राप्त किया जाये।

      लखनऊ, उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव ने प्रदेश में उच्च शिक्षा विभाग के अन्तर्गत राजकीय महाविद्यालयों के निर्माण कार्यों की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिये कि 47 महाविद्यालयों हेतु भूमि प्राप्त हो जाने के फलस्वरूप अवशेष 03 महाविद्यालयों हेतु भूमि चिन्हांकन की कार्यवाही पूर्ण कर सक्षम स्तर से अनुमोदन प्राप्त किया जाये। उन्होंने कहा कि महाविद्यालयों हेतु वित्तीय स्वीकृति यथाशीघ्र प्राप्त कर निर्माण कार्य प्रारम्भ कराया जाये।बैठक में प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा मोनिका एस0गर्ग ने बताया कि 48 महाविद्यालय मा0 मुख्यमंत्री की घोषणा के क्रम में प्रदेश में 50 महाविद्यालयों का निर्माण तथा 01 राजकीय महाविद्यालय में संकाय निर्माण किया जाना है, जिसमें से विधान सभा क्षेत्र जमानिया जनपद-गाजीपुर, विधान सभा क्षेत्र-आगरा कैण्ट जनपद-आगरा, विधान सभा क्षेत्र-हस्तिनापुर जनपद-मेरठ में राजकीय महाविद्यालय की स्थापना हेतु भूमि चिन्हांकन की कार्यवाही गतिमान है।