मस्जिदों में पसरा रहा सन्नाटा


बैंकों,राशन की दुकानों व मेडिकल स्टोर पर लगी ज़रूरतमन्दो की लम्बी लाइन,पुलिस ने कराया लॉकडाउन व सोशल डिस्टेंसिन्ग काअनुपालन,मस्जिदों में नही अदा की गई जुमा की नमाज़,मस्जिदों में पसरा रहा सन्नाटा।


    - अब्दुल जब्बार एड्वोकेट व डॉ0 मो0 शब्बीर


    भेलसर(अयोध्या)प्रधानमंत्री के लॉक डाउन की अवधि 3 मई तक बढ़ाये जाने की घोषणा के बाद शुक्रवार को रूदौली क्षेत्र में जुमा की नमाज़,बैंकों,राशन की दुकानों व मेडिकल स्टोर पर लग रही भीड़ को लेकर पुलिस सुबह से ही सतर्क रही।बैंक खुलने के पूर्व से ही बैंकों के बाहर,राशन की दुकानों व मेडिकल स्टोर पर भीड़ लगना शुरू हुई तो पुलिस ने कोतवाल की अगुवाई में सोशल डिस्टेंसिन्ग से ग्राहकों को लाइन से लगवाया।
     लॉक डाउन के 3 मई तक बढ़ाये जाने की घोषणा के बाद शुक्रवार को लॉक डाउन का पालन कराने के लिए नगर क्षेत्र में कोतवाल विश्वनाथ यादव की अगुवाई में वरिष्ठ उपनिरीक्षक शमशाद अली,चौकी इंचार्ज संतोष कुमार त्रिपाठी,रविश कुमार ने भारी पुलिस बल के साथ कोतवाली से निकल कर बैंकों,राशन की दुकानों व मेडिकल स्टोर के बाहर लग रही भीड़ को लॉक डाउन का पालन कराते हुए सोशल डिस्टेंसिन्ग से सभी को लाइन से लगवाया।जुमा की नमाज़ मस्जिदों में न अदा हो इसके लिए पुलिस की तैनाती मस्जिदों के पास रही।मुस्लिम समुदाय के लोगों ने लॉक डाउन का पालन करते हुए और ज़िम्मेदार नागरिक की भूमिका निभाते हुए अपने अपने घरों में नमाज़े अदा की।अनावश्यक घूम रहे लोगो के प्रति पुलिस सख्त रही।कोतवाल व चौकी इंचार्ज ने सख्ती से कहा कि बिना ज़रूरत सड़कों पर अगर कोई मिला तो उसके विरुद्ध सख्त कार्यवाही होगी।पुलिस ने लोगो से लॉक डाउन का पालन करने व अति आवश्यक कार्य पड़ने पर ही घरों से मास्क लगाकर ही बाहर निकलने की अपील की।पुलिस की सख्ती से सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा।चौकी इंचार्ज भेलसर राम चेत यादव व चौकी इंचार्ज सुजागंज सुधाकर यादव,उपनिरीक्षक लोकेन्द्र सिंह,अशोक कुमार,राम खिलाड़ी,सुजीत मौर्या अपने अपने क्षेत्रों में गस्त कर लॉक डाउन का पालन की लोगो से अपील की और बिना हेलमेट व डबल सवारी दो पहिया वाहन चालकों को रोककर सख्ती से पूंछ तांछ कर पूंछ तांछ की।
    कोतवाल विश्वनाथ यादव ने बताया कि ऱुदौली कोतवाली पुलिस ने शुक्रवार को लाकडाउन का उल्लंघन करने वालों पर बड़ी कार्यवायी करते हुए 28 वाहनों का ई चालान,1 वाहन को सीज व 1 f.i.r. एपिडेमिक एक्ट के तहत की है।