मुख्य सचिव ने ग्रामीण पेयजल परियोजनाओं के संचालन एवं अनुरक्षण पर की समीक्षा


मुख्य सचिव की अध्यक्षता में ग्रामीण क्षेत्रों में जल जीवन मिशन के अन्तर्गत स्थापित होने वाली ग्रामीण पेयजल परियोजनाओं के संचालन एवं अनुरक्षण के सम्बन्ध में बैठक संपन्न।

लखनऊ, उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव की अध्यक्षता में लोक भवन स्थित कार्यालय कक्ष के सभागार में ग्रामीण क्षेत्रों में जल जीवन मिशन के अन्तर्गत स्थापित होने वाली ग्रामीण पेयजल परियोजनाओं के संचालन एवं अनुरक्षण पर विस्तार से समीक्षा की गयी।
बैठक में परियोजना के अन्तर्गत संचालन एवं अनुरक्षण हेतु आवश्यक धनराशि की व्यवस्था हेतु परियोजना में ग्राम पंचायतों की भागीदारी सुनिश्चित किये जाने पर सहमति व्यक्त की गयी तथा परियोजना के संचालन एवं अनुरक्षण पर अनुमानित व्यय आंकलित किये जाने हेतु निर्देशित किया गया। यह भी निर्देशित किया गया कि परियोजना के संचालन एवं अनुरक्षण हेतु आवश्यक धनराशि की व्यवस्था पंचायती राज विभाग द्वारा प्रयोक्ता प्रभार एवं अन्य स्रोतों से की जाये। इसी प्रकार चालू परियोजना के संचालन एवं अनुरक्षण हेतु विचार किया जाये। प्रबन्ध निदेशक जल निगम से अपेक्षा की गयी कि चालू परियोजनाओं के अन्तर्गत विद्युत बिल सहित लम्बित भुगतानों के सम्बन्ध में पंचायती राज विभाग से समन्वय कर यथावश्यक कार्यवाही करें।
बैठक में कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव वित्त संजीव मित्तल, प्रमुख सचिव नमामि गंगे अनुराग श्रीवास्तव, प्रमुख सचिव पंचायती राज मनोज कुमार सिंह, प्रबंध निदेशक उ0प्र0 जल निगम विकास गोठवाल उपस्थित थे।