नोडल अधिकारी दिन में एक बार कण्ट्रोल रूम का करें निरीक्षण : मुख्य सचिव


     मुख्य सचिव ने वीडियो काॅन्फ्रेन्सिंग के माध्यम से अन्य प्रांतों में फंसे,प्रदेश के नागरिकों की सहायता हेतु नामित नोडल अधिकारियों के साथ बैठक की।अन्य प्रांतों में फंसे लोगों की स्थिति की जानकारी प्राप्त कर मुख्य सचिव ने दिये आवश्यक निर्देश।इस संकट की घड़ी में अपना धैर्य न खोयें, जो जहां है, वहीं रुके,प्रदेश सरकार उन्हें हर संभव सहायता उपलब्ध करायेगी।

    लखनऊ, मुख्य सचिव ने आज लोक भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में वीडियो काॅन्फ्रेन्सिंग के माध्यम से अन्य प्रांतों में फंसे प्रदेश के नागरिकों की सहायता हेतु नामित नोडल अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने अन्य प्रांतों में फंसे लोगों की स्थिति की जानकारी प्राप्त की तथा आवश्यक निर्देश भी दिये। राजेन्द्र कुमार तिवारी ने कहा कि कण्ट्रोल रूम में फोन काॅल्स पर वापस आने का अनुरोध किये जाने पर उन्हें विनम्रतापूर्वक समझाया जाये कि इस संकट की घड़ी में अपना धैर्य न खोयें, जो जहां है, वहीं रुके। प्रदेश सरकार उन्हें हर संभव सहायता उपलब्ध करायेगी।
     मुख्य सचिव ने सभी नोडल अधिकारियों को निर्देश दिये कि वह दिन में कम से कम एक बार कण्ट्रोल रूम का निरीक्षण अवश्य करें। कण्ट्रोल रूम में प्रत्येक फोन काॅल्स 24ग्7 रिसीव हो। खाने-पीने आदि की समस्याओं का समाधान सम्बन्धित प्रदेश के अधिकारियों से संवाद कर कराया जाये। किसी राज्य में समस्या का संतोषजनक समाधान न होने पर उनके संज्ञान में लाया जाये, ताकि उनके स्तर से आवश्यक कार्रवाई की जा सके।