पीजिए हल्दी वाला दूध, होगा फायदा ही फायदा

 


दूध पीना फायदेमंद होता है. दूध में विटामिन ए, के और बी 12, थाइमिन और निकोटिनिक एसिड, मिनरल जैसे- कैल्शि यम, फास्फोरस, सोडियम और पोटेशियम पाए जाते हैं, जो हड्डियों के लिए बहुत फायदेमंद है और इससे हमें ताकत मिलती है. यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है और मजबूत करता है. अगर इसमें हल्दी मिला ली जाए तो यह और भी गुणकारी हो जाता है. इसीकारण ज्यादातर लोग ठंड के दिनों में हल्दी वाला दूध पीते हैं.


    हल्दी और दूध दोनों ही गुणकारी हैं, लेकिन अगर इन्हें एक साथ मिलाकर लिया जाए तो इनके फायदे दोगुना हो जाते हैं. हल्दी वाला दूध पीने से कई बीमारियों से बचा जा सकता है.


   - ऐसा माना जाता है कि रोज हल्दी वाला दूध पीने से पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम मिलती है. इस कैल्शियम से हड्डियां स्वस्थ और मजबूत होती हैं. हल्दी वाला दूध ऑस्टियोपोरेसिस के मरीजों को काफी राहत देता है.


  - गठिया के निदान के लिए एक बढ़िया और असरकारक पेय हल्दी वाला दूध हो सकता है. - हल्दी वाला दूध पीने से जोड़ों के दर्द को कम करता है और मांसपेशियां लचीला बनाकर दर्द करने में मददगार माना जाता है.


   - आयुर्वेद में हल्दी वाले दूध का इस्तेमाल शोधन क्रिया में किया जाता है. यह खून से टॉक्सिन्स दूर करता है और लिवर को साफ करने में सहायक माना जाता है. पेट से जुड़ी समस्याओं में राहत चाहिए तो हल्दी वाला दूध मददगार हो सकता है.


   - शोध की माने तो हल्दी में मौजूद तत्व कैंसर कोशिकाओं से डीएनए को होने वाले नुकसान को रोकते हैं और कीमोथेरेपी के दुष्प्रभावों को कम करते हैं.
- हल्दी वाला दूध पीने से कान के दर्द में राहत मिलती है. ऐसा दूध पीने से ब्लड सर्कुलेशन बढ़ जाता है. जिससे दर्द में तेजी से आराम मिलता है.
दूध पीने का सही समय क्‍या है, इस बात को लेकर हर किसी के मन में दुविधा रहती है. कई लोग सोचते हैं कि दूध नाश्ते के साथ पीना अच्छा माना जाता है. जबिक ज्यादातर लोग इसे रात में पीना सही ठहराते हैं. हालांकि अगर दूध का सेवन दिन में किया जाए तो यह दिनभर शरीर को ऊर्जा देता है और रात में पिया जाए तो यह दिमाग को शांत करके अच्छी नींद लाने में सहायक होता है. जबकि आयुर्वेद की माने तो रात में दूध पीने सबसे उत्तम समय होता है.


क्या होता जब आप अलग-अलग समय पर दूध पीते हैं.


सुबह: पचाने में भारी होने के कारण सुबह दूध पीने से मना किया जाता है, लेकिन माना जाता है कि इस समय दूध पीने से दिनभर शरीर में एनर्जी बनी रहती है.


दोपहर: दोपहर के समय दूध पीना बुजुर्गों के लिए फायदेमंद होता है क्‍योंकि इससे शरीर को ताकत मिलती है.


शाम: शाम के समय दूध पीना आंखों के लिए बहुत अच्‍छा माना जाता है.


रात: रात को दूध पीना सबसे अच्‍छा माना जाता है क्‍योंकि इससे शरीर की दिन भर की थकान मिटती है और नींद अच्‍छी आती है.


 रात को दूध पीने के लाभ- 
- दूध में ट्रीप्‍टोफन नामक अमीनो एसिड की मौजूदगी से नींद के हार्मोन स्‍तर को बढ़ाने में मदद मिलती है. इसी कारण से रात को दूध पीने से अच्‍छी नींद आती है.
- वहीं इसमें हल्दी मिलाकर पीने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है.
- दूध कैल्शियम का अच्छा स्रोत है, जो हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है.
- दूध में प्रोटीन होता है जो कि मांसपेशियों के विकास के लिए लाभदायक होता है.