पुलिस उपायुक्त ने लखनऊ जीपीओ पहुँचकर डाककर्मियों को किया सम्मानित 


पुलिस उपायुक्त ने लखनऊ जीपीओ पहुँचकर डाककर्मियों को किया सम्मानित ,कोरोना फाइटर्स के रूप में डाककर्मियों की भूमिका अहम

 

    लखनऊ, वैश्विक कोरोना महामारी और तदनुसार लागू लॉक डाउन की स्थिति से निपटने के लिए भारत सरकार के साथ-साथ राज्य सरकारों के तमाम विभाग भी आपस में समन्वय स्थापित करके कार्य कर रहे हैं। कोरोना के इलाज के लिए जहाँ डॉक्टर्स, नर्सेस व अन्य स्वास्थ्यकर्मी जुटे हुए हैं, वहीं इससे उत्पन्न विपदा से निपटने में  जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, डाक विभाग सभी एकजुट होकर कार्य कर रहे हैं। इसी क्रम में "मित्र पुलिस" की भूमिका निभाते हुए लखनऊ पुलिस के पुलिस उपायुक्त (मध्य), लखनऊ दिनेश सिंह ने एडीसीपी चिरंजीव नाथ सिन्हा, सर्विलांस प्रभारी संजय शुक्ला, इंस्पेक्टर हजरतगंज संतोष सिंह इत्यादि  के साथ लखनऊ जीपीओ पहुँचकर पोस्टमैन और अन्य डाककर्मियों को सम्मानित किया।

       पुलिस विभाग की तरफ से सम्मानस्वरूप पोस्टमैन स्टाफ को मास्क, फेस कवर, हैण्ड ग्लव्स, सेनिटाइजर, साबुन, फ़ूड पैकेट और फल प्रदान किये गए। इस अवसर पर लखनऊ (मुख्यालय) परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएँ कृष्ण कुमार यादव ने चीफ पोस्टमास्टर आरएन यादव संग पुलिस उपायुक्त और एडीसीपी को डाक टिकटों का एक खूबसूरत सेट भेंटकर उन्हें भी सम्मानित किया। इस अवसर पर पुलिस उपायुक्त (मध्य), लखनऊ दिनेश सिंह ने कहा कि कोरोना फाइटर्स के रूप में डाककर्मियों की भूमिका अहम है। संकट की इस घड़ी में लोगों तक जरुरी दवाएँ पहुँचाने के साथ-साथ वे घर बैठे किसी भी बैंक से पैसे निकालने की सुविधा प्रदान कर रहे हैं।




       लखनऊ (मुख्यालय) परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएँ कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि कोरोना की इस विपदा में सभी विभागों का समन्वय बेहद जरुरी है, ताकि लॉक डाउन और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए आमजन को उनके डोर-स्टेप पर सेवाएं दी जा सकें।इस अवसर पर लखनऊ जीपीओ के चीफ पोस्टमास्टर आर. एन. यादव, सहायक पुलिस आयुक्त (एडीसीपी) चिरंजीव नाथ सिन्हा, डिप्टी चीफ पोस्टमास्टर राम बिलास, सर्विलांस प्रभारी संजय शुक्ला, इंस्पेक्टर हजरतगंज संतोष सिंह, डाक निरीक्षक सचिन कुमार ने भी लोगों की हौसला आफजाई की।