राशन वितरण में अनियमितता पर होगी तत्काल वैधानिक कार्रवाई: डॉ0 उज्जवल कुमार

                     


       कोविड-19 की महामारी में राशन वितरण में किसी प्रकार की शिकायत पाई जाएगी तब उस पर होगी तत्काल कार्यवाही, किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी lअनियमितता की शिकायत पर दो उचित दर दुकानों को किया गया निलंबित
 अनियमितता किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं की जाएगीl


 महराजगंज, जिलाधिकारी डॉ0 उज्जवल कुमार ने कहा कि राशन वितरण में अनियमितता किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं की जाएगी l अनियमितता पाए जाने पर तत्काल वैधानिक कार्रवाई संबंधित के खिलाफ की जाएगी l 21 अप्रैल को अनियमितता पाए जाने पर ग्राम पंचायत गौरी बढ़ाई पुर विकासखंड  सिसवा व ग्राम पंचायत पिपरिया विकासखंड  घुघली की दुकानों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है l
     जिलाधिकारी ने बताया कि उक्त दोनों दुकानों के संबंध में शिकायत मिल रही थी कि कोटेदार द्वारा राशन वितरण में अनियमितता की जा रही है, जिसकी जिला पूर्ति अधिकारी के पर्यवेक्षण में जांच टीम द्वारा कराई गई जांच सही पाए जाने पर दोनों दुकानों को निलंबित कर दिया गया है l उन्होंने सभी कोटेदारों को निर्देशित करते हुए कहा कि राशन का वितरण सही ढंग से करें l किसी भी दशा में अनियमितता ना पाई जाए l अन्यथा की स्थिति में उनके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी l इसके साथ ही उन्होंने नोडल अधिकारियों को भी निर्देश दिए कि वह राशन वितरण में सतर्क नजर रखकर राशन का वितरण कराना सुनिश्चित करें l


    डॉक्टर उज्जवल कुमार ने बताया कि वितरण व्यवस्था पर सतत निगरानी रखी जा रही है l जांच के दौरान मिली अनियमितताओं के दृष्टिगत 1 अप्रैल से 21 अप्रैल तक 19 उचित दर दुकानों को निलंबित किया जा चुका है, 07 दुकानों पर 52000 का अर्थदंड आरोपित किया गया है तथा 05 उचित दर विक्रेताओं पर प्रथम सूचना रिपोर्ट पंजीकृत कराया गया है l


     जिलाधिकारी ने बताया कि माह अप्रैल में सभी कार्ड धारकों में निशुल्क चावल का 5 किलोग्राम प्रति यूनिट की दर से किए जाने हेतु सभी उचित दर विक्रेताओं को निकासी दी जा चुकी है, जिसका वितरण  कार्डधारको में 15 अप्रैल से किया जा रहा है  l  21अप्रैल तक 422195 कार्ड धारकों  में कुल 8879  मीट्रिक टन निशुल्क चावल का वितरण किया जा चुका है l
      जिलाधिकारी डॉ0 उज्जवल कुमार ने बताया कि जनपद में कुल 500931 कार्ड धारकों के सापेक्ष 462682 कार्डधारको में  ई-पास मशीन के माध्यम से बायोमेट्रिक विधि द्वारा वितरण कराया गया, जो कुल 92.36 है इसमें 223103 लाभार्थियों में निशुल्क खाद्यान्न का वितरण कराया गया l
     
      जिलाधिकारी डॉ0 उज्जवल कुमार ने बताया कि रबी खरीद वर्ष 2020-21 के अंतर्गत जनपद में स्थापित विभिन्न क्रय एजेंसियों द्वारा 21 अप्रैल तक कुल 3577 मीट्रिक टन गेहूं की खरीद 655 किसानों से की गई है l उन्होंने सभी गेहूं क्रय केंद्र प्रभारियों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि किसी भी कृषक को अनावश्यक रूप से परेशान न किया जाए l केंद्र पर कोरोना महामारी से बचाव हेतु सामाजिक दूरी का अनुपालन के साथ ही सैनिटाइजर, मास्क, साबुन आदि की उपलब्धता हर हाल में सुनिश्चित की जाए l इसी के साथ ही उन्होंने नोडल अधिकारियों को भी अपने-अपने आवंटित गेहूं क्रय केंद्रों का निरीक्षण करते हुए केंद्र पर सामान्य व्यवस्था जैसे कि इलेक्ट्रॉनिक कांटा, नमी मापक यंत्र, झरना, बोरा,  धनराशि, अभिलेख, सील, भुगतान व डिपो डिलीवरी आदि की सघन जांच करते हुए लक्ष्य के अनुरूप गेहूं की खरीद सुनिश्चित करने के निर्देश दिए  l