सत्र को नियमित करने के हेतु ग्रीष्म एवं शीतकालीन अवकाश को न्यून करने पर भी विचार:उपमुख्यमंत्री

 



उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा की अध्यक्षता में शिक्षा कमेटी की बैठक संपन्न।


अवशेष परीक्षाओं को लॉकडाउन समाप्ति के 03 सप्ताह के बाद प्रारंभ करने तथा जून या जुलाई प्रथम सप्ताह में रिजल्ट जारी करने पर किया गया विचार।


प्रदेश के बेसिक, माध्यमिक, उच्च, प्राविधिक तथा व्यवसायिक शिक्षा विभाग के अपने अलग-अलग शैक्षिक चैनल बनाए जाने के लिए वाइस चांसलर एकेटीयू की अध्यक्षता में कमेटी बनाई गई।


 सत्र को नियमित करने के लिए यदि आवश्यकता होगी तो क्लास पाठन की अवधि को बढ़ाए जाने तथा ग्रीष्म एवं शीतकालीन अवकाश को न्यून करने पर भी विचार किया जाएगा।


     लखनऊ, उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा की अध्यक्षता में कोविड-19 वैश्विक महामारी के कारण हुये लाॅक डाउन के कारण बच्चों की शिक्षा पर कोई प्रतिकूल प्रभाव न पड़े इस हेतु विभिन्न मुद्दो पर विचार विमर्श हेतु बनाई गयी शिक्षा कमेटी की आज यहां उनके कार्यालय कक्ष में बैठक संपन्न हुई। बैठक में उच्च शिक्षा, प्राविधिक शिक्षा एवं व्यवसायिक शिक्षा की अवशेष परीक्षाओं को लॉकडाउन समाप्ति के 03 सप्ताह के बाद प्रारंभ करने तथा जून या जुलाई प्रथम सप्ताह में रिजल्ट जारी करने पर चर्चा की गयी। लॉकडाउन समाप्ति के बाद कम से कम 03 सप्ताह तक का समय विद्यार्थियों को परीक्षा की तैयारी के लिए दिया जाएगा।
शिक्षा कमेटी की बैठक में उत्तर प्रदेश के बेसिक, माध्यमिक, उच्च, प्राविधिक तथा व्यवसायिक शिक्षा विभाग के अपने अलग-अलग शैक्षिक चैनल बनाए जाने पर भी विचार-विमर्श किया गया। इसके लिए वाइस चांसलर एकेटीयू श्री विनय कुमार पाठक की अध्यक्षता में एक कमेटी बनाई गई है। जिसमें महानिदेशक बेसिक शिक्षा विजय किरण आनंद, विशेष सचिव माध्यमिक शिक्षा राजेश कुमार, विशेष सचिव उच्च शिक्षा मनोज कुमार एवं विशेष सचिव प्राविधिक शिक्षा सुनील चैधरी सदस्य होंगे। कमेटी को 1 सप्ताह के अंदर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए गए हैं।
    शिक्षा कमेटी की बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि सत्र को नियमित करने के लिए यदि आवश्यकता होगी तो क्लास पाठन की अवधि को बढ़ाए जाने तथा ग्रीष्म एवं शीतकालीन अवकाश को न्यून करने पर भी विचार किया जाएगा। बैठक में  प्राविधिक शिक्षा द्वारा अवगत कराया गया कि ऑनलाइन टीचिंग सतत रूप से जारी है। अब तक लगभग 65 प्रतिशत कोर्स कंप्लीट हो चुके हैं तथा 2470 लेक्चर ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर अपलोड किए जा चुके हैं। बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा अवगत कराया गया कि आॅन लाइन लर्निंग के लिये बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा दूरदर्शन, आकाशवाणी, दिक्षा पोर्टल, टाॅप पैरेन्टस् मोबाइल एप एवं वाट््सएप ग्रुप के माध्यम से बच्चों को लाॅक डाउन अवधि के दौरान बच्चांे को शिक्षा उपलब्ध करायी जा रही है।बैठक में प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी वरुण, बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश चंद्र द्विवेदी, अपर मुख्य सचिव व्यवसायिक शिक्षा राधा चैहान, वाइस चांसलर एकेटीयू लखनऊ विनय कुमार पाठक, विशेष सचिव माध्यमिक शिक्षा राजेश कुमार, विशेष सचिव उच्च शिक्षा मनोज कुमार एवं विशेष सचिव प्राविधिक शिक्षा सुनील चैधरी सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।