बीमारी से मरा बाप फिर दुर्घटना में मरा बेटा

   बीमारी से मरा बाप फिर दुर्घटना में मरा बेटा गरीबी ने छीना परिवार के रोटी का सहारा गांव में मातम।


    -  राम जनम यादव
 अयोध्या, पूर्ब मंत्री रहे सीताराम निषाद के पैतृक गांव केशरूवा बुजुर्ग में एक अजीबोगरीब दिल को दहला देने वाली घटना सामने आई है। जहाँ मुफलिसी में जी रहे एक मुस्लिम परिवार पर मुसीबत का पहाड़ टूट पड़ा है। बीमारी के चलते 21 मई को गुरुवार के दिन गांव निवासी मो0 जाबिर उर्फ चुन्नू 55 बर्ष की मौत हो गई फिर 28 मई गुरुवार को मृतक का बेटा मिनहाज उर्फ गुलजार 18 बर्ष माँ रोशन जहाँ के साथ बीमार बहन तसनीम बानो 11 बर्ष को लेकर इलाज को जिला अस्पताल जा रहा था। बताया गया कि केशरूवा ऐमीघाट वाया दर्शन नगर मार्ग से जब उसकी TVS एक्सल मोपेड संख्या UP42AQ 7848 सनेथू तिराहे के पहले सड़क के किनारे स्थित तालाब के पास पहुँची तभी दर्शन नगर की तरफ से तेज रफ्तार आ रही ट्रैक्टर ट्राली चालक ने उसकी मोपेड में सामने से तेज टक्कर मार दिया ।जिससे तीनो लोग चोटिल होकर सड़क पर गिर गये और उसकी मोपेड क्षतिग्रस्त हो गई।


      राहगीर चोटिल को अस्पताल पहुँचाने की जगह सब तमाशबीन बने रहे।करीब आधा घण्टे बाद अपनी बोलेरो गाड़ी लेकर आ रहे गंगौली गांव निवासी एक ठाकुर परिवार का ब्यकित चोटिलो के लिए फरिश्ता बन गया ।सबको अपनी गाड़ी से जिला अस्पताल ले जाकर पहुँचाया।हालत नाजुक होने पर चिकित्सको ने चोटिल मिनहाज उर्फ गुलजार को लखनऊ ट्रामा सेण्टर अस्पताल पहुँचे परिजनों के साथ भेज दिया।लेकिन लखनऊ में भर्ती प्रक्रिया के दौरान उसकी भी मौत हो गई। इधर जिला अस्पताल में भर्ती माँ बेटी की हालत में सुधार होने पर उन्हें छुट्टी दे दी गई।शुक्रवार के दोपहर तक मृतक युवक के घर लाश पहुँचने की संभावना जताई गई है।मृतक परिवार भूमिहीन हैं। बाप साइकिल की पंचर तथा परिवार के सदस्य मजदूरी कर चलाते थे घर का खर्चा।रहने को झोपड़ी के शिवा कुछ नही है।घटना के बाद परिवार में शोक छाया हुवा हैं।