चिकित्सक व स्टाफ इलाज के दौरान विशेष सावधानी रखें -अनुज कुमार झा


          अयोध्या 30 मई,   उत्तर प्रदेश शासन में मुख्यमंत्री के निर्देशों के क्रम में मरीजों को सभी सरकारी एवं निजी चिकित्सालयों में आपातकालीन सेवाएं विशेषकर ऑपरेशन की चिकित्सा व इमरजेंसी ओपीडी की सुविधा उपलब्ध कराने के दृष्टिगत जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने श्रीराम चिकित्सालय अयोध्या का किया निरीक्षण। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने डाॅ0 अनिल कुमार, सीएमएस, श्रीराम चिकित्सालय को आईपीसी (इन्फेक्शन प्रिवेन्शन एंड कंट्रोल) की व्यवस्थाओं को सही ढंग से लागू करते हुए मरीजों को सुचारू रूप से इमरजेंसी सेवाएं देने के निर्देश दिए।



      अनुज कुमार झा ने कोविड-19 महामारी के संक्रमण से बचाव व फैलाव को रोकने के दृष्टिगत हॉस्पिटल के गेट पर ही पैडल ऑपरेटेड हैंड वॉश सिस्टम व शू सैनिटाइजेशन उपकरण की व्यवस्था करने के साथ-साथ मरीजों से पूछताँछ के लिए स्क्रीनिंग कक्ष, सैम्पलिंग वार्ड तथा सिम्प्टोमैटिक मरीजों हेतु सोशल डिस्टिेन्सिं को ध्यान में रखते हुए 20 बेड के होल्डिंग वार्ड की व्यवस्था करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि मरीज के आने पर स्क्रीनिंग कक्ष पर ही उसकी ट्रेवल हिस्ट्री की सम्पूर्ण जानकारी सम्बन्धित प्रोफार्मा पर नोट करें तथा सिम्प्टोमैटिक मरीजों पर विशेष ध्यान देते हुए उन्हें होल्डिंग वार्ड में रखें। उन्होंने चिकित्सक व स्टाफ को इलाज के दौरान विशेष सावधानी बरतने के निर्देश दिये।




      जिलाधिकारी ने बताया कि कोविड-19 महामारी के दौरान आईपीसी (इन्फेक्शन प्रिवेन्शन एंड कंट्रोल) के नियमों का पालन करते हुए ही सभी सरकारी एवं निजी चिकित्सालयों में मरीजों को सभी आपातकालीन सुविधाएं सुचारू रूप से उपलब्ध कराई जानी हैं। सभी अस्पतालों में इमरजेंसी सेवाओं का संचालन इन्फेक्शन प्रिवेन्शन एंड कंट्रोल की व्यवस्थाओं के साथ ही कराने तथा उस पर निगरानी हेतु जिला स्तर पर जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ0 अजय मोहन की अध्यक्षता में एक कमेटी का भी गठन  किया गया है। इसके साथ-साथ सभी सरकारी व निजी चिकित्सालयों के चिकित्सकों, स्टाफ व संचालकों  को मरीजो के इलाज के दौरान कोविड-19 के संक्रमण से बचाव हेतु बरती जाने वाली सावधानियों का प्रशिक्षण भी प्रदान किया गया है।