हिंदी पत्रकारिता दिवस के अवसर पर तहसील सभागार में आयोजित हुई उपजा ईकाई की गोष्ठी

    - अब्दुल जब्बार  व विकास वीर यादव 


      भेलसर(अयोध्या)मजबूती और निडरता के साथ अपनी कलम की धार को बरकरार रखे तथा निष्पक्ष व समाज के निर्माण के लिए काम करें यही सच्ची पत्रकारिता है।यह बातें हिन्दी पत्रकारिता दिवस के अवसर पर उत्तर प्रदेश जर्नलिस्ट एसोसिएशन(उपजा)की तहसील रूदौली इकाई के अध्यक्ष अब्दुल जब्बार ने तहसील रूदौली स्थित बार एसोसिएशन कक्ष में आयोजित गोष्ठी में कही।


       उन्होंने कहा कि सच्चाई की डगर पर कठिनाइयां आयेंगी लेकिन अगर हम संगठित रहे तो हर कठिनाई का सामना करते हुए अपने लक्ष्य तक पहुंच जाएंगे।संगठन पर चर्चा करते हुए कहा कि उपजा संगठन ने पत्रकार हित की लड़ाई को सदैव अपनी लड़ाई समझ कर लड़ी है और निरंतर आगे भी यह जारी रहेगा।उन्होंने कहा कि यह हम सब के लिए बहुत ही गर्व की बात है कि आज ही के दिन पंडित जुगल किशोर शुक्ला जी द्वारा हिंदी पत्रकारिता का पहला अखबार उदंड मार्तण्ड कलकत्ता से प्रकाशित किया गया था तब से लेकर आज तक हिंदी पत्रकारिता का युग चल रहा है।महामंत्री नितेश सिंह ने कहा कि एक दूसरे के प्रति वैमनुष्ययता का भाव न रख कर काम करे तथा अपनी लेखनी पर जोर दें।यही असली पत्रकारिता होगी।गोष्ठी को इसके अलावा अलीम कशिश,विकास वीर यादव,शिवशंकर वर्मा आदि ने भी संबोधित किया।गोष्ठी में प्रमुख रूप से सतीश कुमार यादव,डॉ0 मोहम्मद शब्बीर,क़ाज़ी इबाद शकेब,प्रमोद शर्मा,मो आलम,रियाज अंसारी,अम्ब्रेश यादव पप्पू,भोलानाथ सिंह व अहमद जिलानी आदि पत्रकार मौजूद रहे।गोष्ठी की अध्यक्षता उपजा के तहसील अध्यक्ष अब्दुल जब्बार एड्वोकेट तथा संचालन महामंत्री नितेश सिंह ने किया।गोष्ठी में सभी पत्रकारों द्वारा एक दूसरे को हिंदी पत्रकारिता दी बधाई दी गई तथा आधुनिक युग की पत्रकारिता पर गहनता से चर्चा की गई।गोष्ठी में लॉक डाउन व सोशल डिस्टेंसिन्ग का पालन भी किया गया।