लॉक डाउन के दिशा निर्देशों का उल्लंघन करने पर होगी कार्यवाही-जिलाधिकारी


जनपद में विभिन्न गतिविधियों के संचालन एवं प्रतिबन्ध से सम्बन्धित आदेश निर्गत।लॉक डाउन के दिशा निर्देशों का उल्लंघन करने पर किसी भी व्यक्ति के विरूद्ध डिजास्टर मैनेजमेन्ट एक्ट 2005 तथा भा0द0वि0 की धारा-188 में दिये गये प्राविधानों के अन्तर्गत होगी कार्यवाही।

    प्रतापगढ़,  जिलाधिकारी डा0 रूपेश कुमार ने अवगत कराया है कि लॉकडाउन 31 मई 2020 तक जारी रहेगा। जनपद में विभिन्न गतिविधियों के संचालन एवं प्रतिबन्ध से सम्बन्धित आदेश निर्गत किये गये है। उन्होने बताया है कि समस्त स्कूल, कालेज, शैक्षिक/प्रशिक्षण/कोचिंग संस्थान इत्यादि निषिद्ध रहेगें, यद्यपि ऑनलाइन/दूरस्थ शिक्षा हेतु अनुमति रहेगी। समस्त सिनेमा हाल, शापिंग मॉल, जिम, खेल-परिसर, तरण-ताल, मनोरंजन-पार्क, थिएटर, बार एवं सभागार, एसेम्बली हॉल और इस प्रकार के अन्य स्थान बन्द रहेगें। समस्त सामाजिक, राजनैतिक, खेल, मनोरंजन, शैक्षिक, सांस्कृतिक, धार्मिक कार्यक्रम, अन्य सामूहिक गतिविधियॉ पूर्णतया निषिद्ध रहेंगी। समस्त धार्मिक स्थल/पूजा स्थल जन सामान्य हेतु बन्द रहेगें। धार्मिक जुलूस आदि पूर्णतया निषिद्ध रहेगें। सायं 7 बजे से प्रातः 7 बजे तक किसी भी व्यक्ति, वाहन आदि का आवागमन निषिद्ध रहेगा (केवल आवश्यक गतिविधियों को छोड़कर)।


      जिलाधिकारी  ने बताया है कि संक्रमण के खतरे के प्रति संवेदनशील व्यक्तियों की सुरक्षा के दृष्टिगत समस्त जोन में 65 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति, सह-रूग्णता अर्थात एक से अधिक अन्य बीमारियों से ग्रसित व्यक्ति, गर्भवती स्त्रियां और 10 वर्ष की आयु से नीचे के बच्चे घरों के अन्दर ही रहेगें, सिवाय ऐसी परिस्थितियों के जिनमें स्वास्थ्य सम्बन्धी आवश्यकताओं हेतु बाहर निकलना आवश्यक हो। सभी प्रकार औद्योगिक गतिविधियों को कन्टेनमेन्ट जोन के बाहर अनुमति होगी लेकिन औद्योगिक इकाईयों को फेस मास्क, फेस कवर, सोशल डिस्टेसिंग का पालन करना होगा एवं औद्योगिक गतिविधियों के लिये बसों के इस्तेमाल पर भी उपरोक्त सावधानी बरती जायेगी। पूरे जनपद में जो भी दुकान खुलेंगी उनके समस्त दुकानदारों को फेस कवर/मास्क लगाना होगा, ग्लब्स का इस्तेमाल करना होगा एवं दुकान में सेनिटाइजर की व्यवस्था करनी होगी जिससे कि आने वाले समस्त व्यक्तियों को संक्रमण से बचाया जा सके। किसी भी खरीददार को यदि उसने मास्क नहीं पहना है तो उसे विक्री नहीं की जायेगी। समस्त बाजार को इस प्रकार खोला जायेगा कि प्रत्येक दिन अलग-अलग बाजार खुले तथा सोशल डिस्टेसिंग एवं अन्य समस्त प्रकार के निर्देशों का पालन सुनिश्चित किया जाये। इस सम्बन्ध में जिला प्रशासन स्थानीय व्यापार मण्डल के साथ संवाद स्थापित कर व्यवस्था बनाने हेतु विस्तृत आदेश जनपद स्तर पर जारी करेगें।


         ग्रामीण क्षेत्र में एवं नगर पालिका क्षेत्र में कन्टेनमेन्ट जोन के बाहर सभी दुकानों को सोशल डिस्टेसिंग के साथ खोलने की अनुमति होगी। सब्जी मण्डी के सम्बन्ध में मुख्य मण्डी प्रातः 4 बजे से प्रातः 7 बजे तक खुलेंगी। सब्जी मण्डी का रिटेल विवरण सुबह 6 बजे से 9 बजे तक होगा एवं फल सब्जी मण्डियों को बड़े व खुले स्थानों पर स्थापित कर प्रातः 8 बजे से सायं 6 बजे तक सामान्य लोगों के लिये खोला जा सकेगा। शहरी क्षेत्र में कोई भी साप्ताहिक मण्डी नही लगेगी एवं ग्रामीण क्षेत्र में साप्ताहिक मण्डी सोशल डिस्टेसिंग के साथ लगाने की अनुमति होगी।


     रेस्टोरेंट आदि में केवल होम डिलीवरी की व्यवस्था होगी एवं मिठाई की दुकान भी खोलने की अनुमति दी जायेगी लेकिन सिर्फ बेचने का कार्य किया जायेगा एवं दुकानों में बैठकर खाने की कोई अनुमति नहीं दी जायेगी। बारात घर खोले जायेगें लेकिन शादी के लिये पूर्व अनुमति लेना आवश्यक होगा, इसमें 20 लोगों से ज्यादा की अनुमति नहीं होगी। स्ट्रीट वेन्डर/पटरी व्यवसायी को अपना कार्य करने की अनुमति होगी लेकिन उन्हें अपना फेस मास्क एवं ग्लब्स का इस्तेमाल करना होगा एवं उनको सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुये केवल खुले स्थानों पर विक्री करने की अनुमति होगी।


        जिलाधिकारी ने बताया है कि नर्सिंग होम एवं प्राइवेट अस्पतालों को इमरजेन्सी एवं आवश्यक आपरेशन करने हेतु स्वास्थ्य विभाग की अनुमति तथा समस्त सुरक्षा उपकरण एवं प्रशिक्षण के बाद खोलने की अनुमति दी जायेगी। पूरे प्रदेश में चार पहिया वाहन में ड्राइवर के अतिरिक्त दो व्यक्तियों को ही चलने की अनुमति होगी, यदि परिवार के बच्चे है तो दो बच्चों तक अतिरिक्त अनुमति दी जायेगी। बाइक सवार व्यक्तियों को अकेले चलने की अनुमति होगी लेकिन यदि महिला पीछे बैठी है उसको भी अनुमति होगी लेकिन बाइक सवार समस्त व्यक्तियों को हेलमेट पहनना अनिवार्य होगा। थ्री व्हीलर वाहन में ड्राइवर के अतिरिक्त दो व्यक्तियों तक ही चलने की अनुमति होगी। ऐसे वाहनों में समस्त यात्रियों का मास्क व फेस कवर पहनना अनिवार्य होगा। प्रिटिंग प्रेस एवं ड्राई क्लीनर्स आदि की दुकानों को भी खुलने की अनुमति होगी। उन्होने बताया है कि सार्वजनिक स्थानों पर फेसकवर/मास्क लगाना अनिवार्य होगा।


       सार्वजनिक स्थलों/सार्वजनिक परिवहन के उत्तरदायी अधिकारी गाइडलाइन्स के अनुसार सोशल डिस्टेसिंग का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित करायेगें। कोई भी संगठन/आयोजक सार्वजनिक स्थल पर एक साथ 05 से अधिक व्यक्तियों के इकट्ठा नही होने देगा। शादी सम्बन्धी आयोजनों में सोशल डिस्टेसिंग सुनिश्चित की जायेगी एवं 20 से अधिक व्यक्तियों के इकट्ठा होने की अनुमति नही होगी (शादी के आयोजन के लिये पूर्व अनुमति लेना अनिवार्य होगा)।


      अन्तिम संस्कार से सम्बन्धित गतिविधियों में सोशल डिस्टेसिंग सुनिश्चित की जायेगी एवं 20 से अधिक व्यक्तियों के इकट्ठा होने की अनुमति नहीं होगी। सार्वजनिक स्थानों पर थूकना जुर्माने के साथ दण्डनीय (स्थानीय विधि अनुसार) होगा। सार्वजनिक स्थानों पर मदिरा, पान का उपभोग निषिद्ध होगा। इनकी विक्री से सम्बन्धित दुकानों पर कम से कम एक दूसरे से 06 फिट (02 गज की दूरी) सुनिश्चित की जायेगी और एक समय पर 05 से अधिक व्यक्तियों को इकट्ठा होने की अनुमति नहीं होगी। कार्य स्थल के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने बताया है कि कार्य स्थल पर फेसकवर/मास्क लगाना अनिवार्य होगा। इस हेतु मास्क आदि का पर्याप्त स्टाक रखा जाये। कार्य स्थल के उत्तरदायी अधिकारी गाइडलाइन्स के अनुसार कार्य स्थल और तत्सम्बन्धी परिवहन के साधन में सोशल डिस्टेसिंग का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित करायेगें।


         कार्य स्थल पर शिफ्ट के मध्य उचित समयान्तर, भोजनावकाश के समय एक साथ इकट्ठा न होने देने के उपाय किये जाये। प्रवेश निकासी एवं कॉमन प्लेस पर थर्मल स्कैनिंग, हैण्डवाश/सेनिटाइजर की व्यवस्था (फ्री सुविधा के साथ) की जाये। सम्पूर्ण कार्य स्थल क्षेत्र में एवं जन प्रसाधन आदि स्थानों पर लगे दरवाजे/हैण्डल आदि का निरन्तर सेनिटाइजेशन किया जाये। जिलाधिकारी ने बताया है कि लॉक डाउन के दिशा निर्देशों के उल्लंघन करने पर किसी भी व्यक्ति के विरूद्ध डिजास्टर मैनेजमेन्ट एक्ट 2005 की धारा-51 से 60 तथा भा0द0वि0 की धारा-188 में दिये गये प्राविधानों के अन्तर्गत कार्यवाही की जायेगी।