लॉकडाउन में शिथिलता एवं लापरवाही पर गम्भीर प्रशासन


    नोडल अधिकारी का जनपद भ्रमण कार्यक्रम  प्रारंभ, अधिकारियों के साथ की बैठक।


   महराजगंज, state Nodal Officer covid-19 विशेष सचिव व्यवसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास हरिकेश चौरसिया का सप्ताहिक जनपद भ्रमण कार्यक्रम प्रारंभ हुआ अपने जनपद भ्रमण कार्यक्रम के दौरान नोडल अधिकारी  हरिकेश चौरसिया ने कलेक्ट्रेट सभागार में जनपद के अधिकारियों के साथ कोर कमेटी की बैठक कर जनपद में कोरोना वैश्विक महामारी के संक्रमण के बचाव के दृष्टिगत जनपद में किए जा रहे उपायों सहित अन्य  जानकारी प्राप्त की।


      इस संबंध में जानकारी देते हुए जिलाधिकारी डॉ उज्ज्वल कुमार ने बताया कि सरकार द्वारा समय-समय पर जारी किए जाने वाले दिशा निर्देशों का अनुपालन कराया जा रहा है। इसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता एवं लापरवाही को गंभीरता से लिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि तीसरे चरण के  लॉकडाउन, जो 17 मई तक प्रभावी है, पर सतर्क नजर रखी जा रही है । आवश्यक वस्तुओं की अलावा अन्य  दुकानों/ प्रतिष्ठानों  को भी सशर्त खोलने की अनुमति दी गई है। 


     जिलाधिकारी ने बताया कि जो लोग बाहर से आ रहे हैं उन्हें स्क्रीनिंग पॉइंट सेठ आनंदराम जयपुरिया इंटर मीडिएट कॉलेज, आनंद नगर, फरेंदा में लाकर उनकी स्क्रीनिंग कराई जाती है । तत्पश्चात लक्षण अनुसार उन्हें क्वॉरेंटाइन  हेतु भेजा जाता है , जहां पर उनकी सतत निगरानी की जाती है। 1 मई से अब तक 3090 प्रवासी आ चुके हैं, जिनकी स्क्रीनिंग कराई जा चुकी है स्क्रीनिंग में 3048  व्यक्तियों को होम क्वॉरेंटाइन हेतु  अवमुक्त किया गया तथा शेष 42 व्यक्तियों को आश्रय स्थलों में रोककर चिकित्सीय परीक्षण कराया जा रहा है। जिलाधिकारी ने बताया कि ग्राम व शहरी क्षेत्रों में निगरानी समितियों का गठन कर दिया गया है तथा उन्हें आवश्यक दिशा निर्देश भी जारी किए जा चुके हैं ।


       लॉकडाउन  उल्लंघन करने पर की गई कार्रवाई की जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि धारा 188 के अंतर्गत 165 लोगों पर मुकदमा पंजीकृत किया गया है तथा 657 अभियुक्तों की गिरफ्तारी हुई। इसी प्रकार  ईसी एक्ट में 6 मुकदमा ब्लैक मार्केटिंग में 4 मुकदमा पंजीकृत किए गए हैं । 7055 वाहनों का चालान किया गया है,417 वाहन सीज किए गए हैं तथा रुपए 904200 जुर्माना वसूल किया गया है । धान क्रय की जानकारी देते हुए बताया कि जनपद में स्थापित 176 क्रय केंद्र केंद्रों द्वारा धारा क्रय केंद्रों के द्वारा 4156 किसानों से लक्ष्य 128500 मीट्रिक टन के सापेक्ष 22183 मीट्रिक टन गेहूं का क्रय किया गया। राशन वितरण, मनरेगा के अंतर्गत उपलब्ध कराए जा रहे रोजगार, आरोग्य सेतु एप डाउनलोड की प्रगति स्थिति, सामुदायिक रसोईघर,  एकीकृत नियंत्रण केंद्र आदि की भी जानकारी जिलाधिकारी ने उपलब्ध कराई ।बैठक में पुलिस अधीक्षक रोहित सिंह सजवान, मुख्य विकास अधिकारी पवन अग्रवाल, अपर जिलाधिकारी कुंज बिहारी अग्रवाल सहित अन्य जनपदीय अधिकारी मौजूद रहे।