मंडलायुक्त ने जिलाधिकारी संग किया औचक निरीक्षण और जांनी जमीनी हकीकत


          मंडलायुक्त एमपी अग्रवाल ने जिलाधिकारी अनुज कुमार झा के साथ ब्लॉक मसौधा तहसील सोहावल के ग्राम मुमताज नगर व सरायनामू के साथ ब्लॉक सोहावल का किया औचक निरीक्षण और जमीनी हकीकत का पता लगाया। दोनों अधिकारियों द्वारा उक्त दोनों ग्रामों में होमकोरन्टीन  किए गए लोगों व उनके मुख्य प्रवेश स्थल पर चस्पा कोरन्टीन पोस्टर के सत्यापन के साथ, लोगों से मिले और उनसे जानकारियां प्राप्त की तथा उन सभी से यह पूछा कि उन्हें कोई परेशानी तो नहीं है। राशन किट के मिलने के बारे में भी पूछताछ की।  होम कोरनटाइन किए गए सभी लोगों ने बताया कि तहसील प्रशासन द्वारा होम कोरनटाइन के समय ही उन्हें 14 दिन का राशन दिया गया है।दोनों अधिकारियों द्वारा ग्राम निगरानी समिति के कार्यो की भी समीक्षा की।और मोके पर देखा कि उनके द्वारा क्या कार्य किया जा रहा है।


      कोरेनटाइन के सत्यापन के दौरान दोनों अधिकारियों ने बाहर से आए हुए श्रमिकों से उनकी उनके  स्किल के बारे में भी जानकारी प्राप्त की। मौके पर पहुंचकर दोनों अधिकारियों ने गांव में जो होम कोरेंटिन किए गए हैं उनकी क्या स्थिति है की भी जानकारी ली। दोनों अधिकारियों ने मौक़े पर उपस्थित जिला स्तरीय,तहसील वब्लॉक् स्तरीय, अधिकारियों निगरानी समिति के सदस्यों प्रधान व सचिव से कहा कि यदि  किसी के अंदर कोरोना वायरस के लक्षण हो,और उसका सही समय पर पहचान हो जाए और सही समय पर उसका इलाज हो जाए तो हम निश्चित रूप से कह सकते हैं कि वह गांव पूरी तरह से कोरोना मुक्त  हो सकता हैं। आवश्यकता इस बात की है कि ग्राम प्रधान एवं सचिव इस संकट की घड़ी में अपने दायित्वों का सही ढंग से निर्वहन करें, बाहर से आए हुए लोगों के बारे में जानकारी जिला प्रशासन को, कंट्रोल रूम को समय-समय पर देते रहे ग्राम के लोगों के स्वास्थ्य की जानकारी करते रहें। 



     किसी भी व्यक्ति के कोई लक्षण जैसे ही प्रकट हो उसके बारे में एडीओ पंचायत वाली कमेटी को तुरंत जानकारी दें ताकि उन्हें क्वॉरेंटाइन फैसिलिटी सेंटर अथवा अस्पताल में भेजकर समय से इलाज कराया जा सके ताकि उस क्षेत्र में संक्रमण का फैलाव आगे ना हो सके। उन्होंने सभी से सहयोग की अपील की है। और कहां सजग रहें सतर्क रहें और जिला प्रशासन का सहयोग करें तो निश्चित रूप से हम कोरोनावायरस पर विजय प्राप्त कर सकते हैं। इस अवसर पर मंडल आयुक्त द्वारा ग्राम निगरानी समितियों के सदस्यों प्रधान, सचिव, आशा, आंगनबाड़ी कार्यकत्री आदि द्वारा किए गए कार्यों का अवलोकन किया गया तथा प्रवासी श्रमिकों से बाहर रहकर उनके द्वारा किए जा रहे हैं कार्य की जानकारी ली गई जिससे उन्हें भविष्य में स्थानीय स्तर पर रोजगार की सुविधा उपलब्ध कराई जा सके। उन्होंने सभी से आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करने को भी कहा।