प्रसव पीड़ित की सूचना पर जिलाधिकारी ने त्वरित कार्यवाही कर पहुॅचाया महिला अस्पताल


       चण्डीगढ़, लुधियाना एवं अहमदाबाद से 4591 प्रवासी श्रमिकों को लेकर पहुॅची श्रमिक स्पेशल ट्रेन प्रतापगढ़ जंक्शन, प्रवासी श्रमिकों का किया गया स्वास्थ्य परीक्षण तथा दिया गया लंच पैकेट,सोशल डिस्टेसिंग का अनुपालन कराते हुये मुख्य विकास अधिकारी ने प्रवासी श्रमिकों को बसों से उनके गृह जनपद के लिये किया रवाना।
     प्रतापगढ़, अहमदाबाद से श्रमिक स्पेशल ट्रेन प्रतापगढ़ जंक्शन पर अपरान्ह 2.05 पहुॅची जिसमें 1836 प्रवासी श्रमिक आये। इस श्रमिक स्पेशल ट्रेन में महिला यात्री सुषमा देवी पत्नी अश्वनी कुमार निवासी ग्राम चोरवांपुर थाना बक्सा जनपद जौनपुर जो प्रसव पीड़ा से पीड़ित पायी गयी, स्टेशन अधीक्षक द्वारा दी गयी सूचना का त्वरित संज्ञान लेते हुये जिलाधिकारी डा0 रूपेश कुमार ने मुख्य चिकित्साधिकारी को तुरन्त प्रसव पीड़िता को महिला अस्पताल लाने एवं समस्त आवश्यक व्यवस्था तथा उपचार करने का निर्देश दिया। महिला को जिला महिला अस्पताल के कोविड वार्ड में भर्ती कराया गया जहां अपरान्ह 2.58 बजे प्रसूता ने स्वस्थ्य बालक को जन्म दिया, बालक का वजन 2.958 किलोग्राम है। जच्चा एवं बच्चा दोनो स्वस्थ्य है, हॉटस्पाट एरिये से यात्रा करने के कारण एहतियातन प्रसूता की कोविड-19 जांच हेंतु सैम्पल एकत्रित कर जांच हेतु भेजा गया। इसी प्रकार चण्डीगढ़ से श्रमिक स्पेशल ट्रेन प्रातः 8.55 बजे 1502 श्रमिकों को लेकर तथा लुधियाना से श्रमिक स्पेशल ट्रेन पूर्वान्ह 11.45 बजे 1253 श्रमिकों को लेकर प्रतापगढ़ जंक्शन पहुॅची। प्रतापगढ़ स्टेशन पर प्रवासी श्रमिकों को सोशल डिस्टेसिंग का अनुपालन कराते हुये उनका स्वास्थ्य परीक्षण किया गया एवं लंच पैकेट का वितरण किया गया। मुख्य विकास अधिकारी डा0 अमित पाल शर्मा के नेतृत्व में प्रवासी श्रमिकों को सोशल डिस्टेसिंग का अनुपालन कराते हुये बसों से उनके गृह जनपद के लिये रवाना किया गया तथा प्रतापगढ़ के निवासी श्रमिकों को फैसेलिटी सेन्टर भेजकर स्वास्थ्य परीक्षण कराया गया तथा उन्हें राशन किट दी गयी।