प्रतिबंधों के साथ खुलेंगे प्रतिबंधित दुकाने/प्रतिष्ठान- जिलाधिकारी  


    महराजगंज, जिलाधिकारी डॉक्टर  उज्ज्वल कुमार की अध्यक्षता में जिला आपदा प्रबंध समिति की बैठक संपन्न हुई, जिसमें lock डाउन के दौरान प्रतिबंधित दुकानों को दिवसवार खोले जाने पर विचार विमर्श हुआ।
 इस संबंध में जिलाधिकारी ने बताया कि सोमवार मंगलवार बुधवार को बर्तन, कपड़ा व दर्जी की दुकाने निर्धारित समयानुसार खोली जाएंगी। इसी प्रकार बृहस्पतिवार, शुक्रवार तथा शनिवार को शोरूम, चप्पल जूता की दुकानें खोली जाएंगी। उन्होंने हिदायत भी दी कि क्रेता विक्रेता अनिवार्य रूप से मास्क/ गमछा/ दुपट्टा धारण करेंगे साथ ही सामाजिक दूरी का अनुपालन भी करना सुनिश्चित करेंगे । प्रतिष्ठान स्वामी द्वारा परिसर के सभी क्षेत्रों को हानिकारक कीटाणु नाशक का उपयोग करते हुए पूर्ण रूप से  विसंकरित किया जाएगा। इसमें किसी भी दशा में लापरवाही नहीं बरती जाएगी अन्यथा की स्थिति में संबंधित के खिलाफ कार्रवाई तो अमल में लाई ही जाएगी, साथ ही दी गई छूट पर पुनर्विचार भी किया जाएगा ।


      जिलाधिकारी  डॉक्टर उज्जवल कुमार ने बताया कि महराजगंज जिले का गेहूं क्रय लक्ष्य 128500 मैट्रिकटन शासन द्वारा निर्धारित किया गया है। जिसके सापेक्ष अद्यतन  4041 किसानों से जनपद में क्रियाशील 176 गेहूं क्रय केंद्रों के माध्यम से 21422 मैट्रिकटन गेहूं की खरीद की जा चुकी हैं। सभी खरीद केंद्रों को निर्देशित किया गया है कि ₹1925/ कुंतल से कम मूल्य देने पर विधिक कार्यवाही की जायेगी l प्रत्येक केंद्र पर सैनिटाइजर, मास्क, साबुन आदि की व्यवस्था के साथ ही सामाजिक दूरी  का अनुपालन  किए जाने  के  निर्देश दिए गए हैं l  इसके साथ ही नोडल अधिकारियों को भी गेहूं क्रय केंद्रों की लगातार निगरानी किए जाने तथा आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित किए जाने के  निर्देश दिए गए हैं l


    जिलाधिकारी ने बताया कि वितरण व्यवस्था पर सतत निगरानी रखी जा रही है l जांच के दौरान मिली अनियमितताओं के दृष्टिगत 1 मई से  6 मई तक  02 उचित दर दुकानों को निलंबित किया जा चुका है तथा 01 उचित दर विक्रेत। पर प्रथम सूचना रिपोर्ट पंजीकृत कराया गया है l



        डॉ0 उज्ज्वल कुमार ने बताया कि प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के अंतर्गत कुल 209817 उज्जवला गैस लाभार्थियों के खाते में धनराशि प्राप्त हो गई है l  30 अप्रैल  तक कुल 142915 लाभार्थियों को उज्जवला गैस रिफिल उपलब्ध करा दिया गया है l शेष सभी लाभार्थियों  को जनपद में कार्यरत 45 गैस एजेंसियों के माध्यम से गैस रिफिल उपलब्ध कराया जा रहा है l


     जिलाधिकारी डॉ0 उज्ज्वल कुमार ने बताया कि 1 मई से 6 मई तक जनपद में कुल 499245  कार्ड धारकों के सापेक्ष 343385 कार्डधारको में  ई-पास मशीन के माध्यम से बायोमेट्रिक विधि द्वारा वितरण कराया गया, जो कुल कार्ड धारकों का 68% है । इसमें 146954 लाभार्थियों में 4036 मीट्रिक टन निशुल्क खाद्यान्न का वितरण कराया गया l