प्रवासी कामगार एवं मजदूरों को मनरेगा के अन्तर्गत रोजगार उपलब्ध कराया जाये-मोती सिंह


कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम हेतु कैबिनेट मंत्री मोती सिंह ने जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक के साथ की बैठक।

      प्रतापगढ़,  प्रदेश के ग्राम्य विकास एवं समग्र ग्राम विकास विभाग मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह ‘‘मोती सिंह’’ ने आज कैम्प कार्यालय के सभागार में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम हेतु किये जा रहे जिला प्रशासन द्वारा प्रयास के सम्बन्ध में जिलाधिकारी डा0 रूपेश कुमार एवं पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में जिलाधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि अब तक 28950 प्रवासी कामगारों को होम क्वारेन्टाइन में रखा गया है जिनके देख-रेख हेतु ग्राम प्रधान की अध्यक्षता मेंं गठित निगरानी समिति को निर्देश दिये गये है।


         मेडिकल क्वारेन्टाइन में 39 व्यक्तियों को 4 क्वारेन्टाइन सेन्टर में रखा गया है तथा जनपद में इस समय 33 हॉट स्पाट एरिया है जहां पर कोरोना पाजिटिव मरीज पाये गये थे, हॉट स्पाट एरिया में सर्विलान्स टीम के माध्यम से घर-घर सर्वे एवं सेनेटाइजेशन का कार्य स्वास्थ्य विभाग द्वारा किया जा रहा है तथा आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति होम डिलीवरी के माध्यम से करायी जा रही है। भरण-पोषण एवं सहायता योजना के अन्तर्गत अब तक श्रम विभाग में पंजीकृत 8435 श्रमिकांं को 84 लाख 35 हजार रूपये की धनराशि उनके खातों में प्रेषित कर दी गयी है।


           इसके अतिरिक्त नगरीय क्षेत्र में भरण-पोषण विहीन 15345 व्यक्तियों का चिन्हीकरण कर उनके खातों में 1 करोड़ 53 लाख 45 हजार रू0 की धनराशि प्रेषित कर दी गयी है। बैठक मेंं पुलिस अधीक्षक द्वारा अवगत कराया गया कि जमाखोरी व कालाबाजारी रोकने हेतु अब तक 23 दुकानदारों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है तथा लॉकडाउन उल्लंघन के प्रकरण में 346 व्यक्तियों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज करायी गयी तथा 1004 वाहन सीज किये गये है। मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि अब तक 1554 कोविड-19 के तहत व्यक्तियों के सैम्पल मेडिकल कालेज भेजे गये है जिनमें 1394 की रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमें 1336 व्यक्तियों की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है, 58 व्यक्तियों की रिपोर्ट पाजिटिव आयी है जिनमें 12 मरीज ठीक हो चुके है, 02 मृतक एवं 44 एक्टिव केस है जिनका ट्रामा सेन्टर में इलाज चल रहा है।


     कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र प्रताप सिंह ‘‘मोती सिंह’’ ने जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक द्वारा जनपद में किये जा रहे प्रयासों की सराहना करते हुये आशा व्यक्त करते हुये कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव में लगे सभी सरकारी अधिकारी एवं कर्मचारी अपनी सुरक्षा सुनिश्चित करते हुये आमजनता को शासन द्वारा दी गयी सुविधायें उपलब्ध करायेगें। कैबिनेट मंत्री ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि जनपद में आ रहे प्रवासी कामगार एवं मजदूरों को उनके गांव में ही मनरेगा योजनान्तर्गत रोजगार उपलब्ध कराया जाये, यदि उनके जॉब कार्ड नही बने है तत्काल उनके जॉबकार्ड बनवाकर उन्हें रोजगार उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। बैठक में अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) शत्रोहन वैश्य, मुख्य राजस्व अधिकारी श्रीराम यादव, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 अरविन्द कुमार श्रीवास्तव, जिला सूचना अधिकारी विजय कुमार सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।