प्रवासी श्रमिकों की फीडिंग अनिवार्य रूप से राहत पोर्टल पर करें अंकित-जिलाधिकारी 


         जिलाधिकारी ने टीम-11 के अधिकारियों के साथ की बैठक दिये आवश्यक दिशा निर्देश।

    जनपद में आने वाले प्रवासी श्रमिकों के मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप करायें डाउनलोड,ड्यिटी के दौरान तैनात अधिकारी एवं कर्मचारी मास्क, सेनेटाइजर का करें प्रयोग।



     प्रतापगढ़,जिलाधिकारी डा0 रूपेश कुमार की अध्यक्षता में आज कैम्प कार्यालय में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव, रोकथाम एवं आमजनमानस को आवश्यक सुविधाये सुनिश्चित करने हेतु गठित टीम-11 के साथ बैठक की गयी। बैठक में जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि जो प्रवासी श्रमिक होम क्वारेन्टाइन किये गये है उनके स्वास्थ्य एवं उनके बचत खाता संख्या सहित अन्य सूचना आशा एवं आशा संगिनयों द्वारा एकत्र किया जाये जिससे उनके खाते में शासकीय सहायता उपलब्ध करायी जा सके तथा जो प्रवासी श्रमिक जनपद में ट्रेन के माध्यम से आ रहे है उनके थर्मल स्क्रीनिंग के समय ही उन्हें आरोग्य सेतु ऐप उनके मोबाइल में डाउनलोड करायें।


       बैठक में जिलाधिकारी ने कोविड-19 अस्पताल ट्रामा सेन्टर लालगंज में भर्ती कोरोना पाजिटिव मरीज राम गनेश जायसवाल व अतुल कुमार पटेल सहित अन्य मरीजों से मोबाइल के माध्यम से अस्पताल परिसर में साफ-सफाई, समय पर भोजन उपलब्ध कराने व ड्यिटी पर लगाये गये डाक्टरों द्वारा नियमित स्वास्थ्य परीक्षण आदि के सम्बन्ध में जानकारी ली तो बताया गया कि सभी प्रकार की व्यवस्थायें निरन्तर प्राप्त हो रही है और किसी भी प्रकार की समस्या नही है। बैठक में जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देशित किया गया कि ग्राम सभाओं में जो ग्राम निगरानी समिति का गठन किया गया है, उन्हें पूरी तरह से सक्रिय रखा जाये और इस समिति के माध्यम से गांव में होम क्वारेन्टाइन किये गये व्यक्तियों के सम्बन्ध में साप्ताहिक रिपोर्ट प्राप्त करें। 


    जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारियों को निर्देशित किया कि जो प्रवासी श्रमिक प्रतिदिन आ रहे है उनकी फीडिंग अनिवार्य रूप से राहत के पोर्टल पर उसी दिन की जाये तथा जिन प्रवासी कामगारो को आश्रय स्थलों से भेज दिया जाता है उनके भेजने की तिथि अंकित की जाये। ए0आर0एम0 रोडवेज एवं ए0आर0टी0ओ0 को निर्देशित किया गया कि ट्रेन के माध्यम से जो प्रवासी श्रमिक आ रहे है उन्हें स्टेशन से बाहर ले जाने हेतु बसों को क्रमबद्ध तरीके से खड़ा किया जाये जिससे प्रवासी श्रमिकों को किसी भी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि जो भी प्रवासी श्रमिक जनपद में आ रहे है उनके साथ सहृदयता के साथ व्यवहार किया जाये। बाहर से आने वाले प्रवासी श्रमिकों के जनपद में प्रवेश होने पर उन्हें भोजन, पीने के पानी की व्यवस्था सुचारू ढंग से की जाये, इस हेतु जनपद की सीमा में प्रवेश करने पर उचित स्थान पर पण्डाल आदि लगाने तथा उद्घोषणा हेतु लाउडस्पीकर की व्यवस्था की जाये।


      शेल्टर क्वारेन्टाइन होम में खाना, पानी, शौचालय व साफ-सफाई आदि की व्यवस्था बेहतर ढंग की जाये और जनपद में प्रवेश के स्थान पर पर्याप्त मात्रा में बसो की व्यवस्था की जाये। उन्होने कहा कि प्रवासियों को पैदल अथवा अन्य वाहनों टू व्हीलर, थ्री व्हीलर आदि से यात्रा न करनी पड़े इस हेतु बसों की व्यवस्था की जाये। जनपद में समस्त मजिस्ट्रेट, पुलिस अधिकारी, पी0आर0वी0-112 वाहन निरन्तर भ्रमणशील रहे और ड्यिटी के दौरान तैनात अधिकारी एवं कर्मचारी पर्याप्त सुरक्षा, मास्क, सेनेटाइजर आदि का प्रयोग सुनिश्चित करें। बैठक में जिलाधिकारी ने गेहूॅ की खरीद धीमी पाये जाने पर जिला खाद्य विपणन अधिकारी को निर्देशित किया गया कि गेहूॅ खरीद के कार्य में तेजी लायी जाये। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डा0 अमित पाल शर्मा, अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) शत्रोहन वैश्य, मुख्य राजस्व अधिकारी श्रीराम यादव, उपजिलाधिकारी सदर मोहन लाल गुप्ता, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 अरविन्द कुमार श्रीवास्तव, जिला सूचना अधिकारी विजय कुमार सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।