सरकार के फीस माफ करने के आदेशों की धज्जियां उड़ाते निजी स्कूलों ने  फीस वसूली किया जारी

सरकार के फीस माफ करने के आदेशों की धज्जियां उड़ाते हुये कुछ बडे निजी स्कूलों ने  फीस वसूली किया जारी ,कुछ स्कूलों ने पी एम और सीएम का सम्मान करते हुये स्कूलों की फीस किया माफ,अभिभावक संघ ने फीस वसूली को लेकर जताया आक्रोश।


   अयोध्या, आज के युग में शिक्षा का बहुत बड़ा योगदान है  बिना शिक्षा हासिल किए कोई भी अपने लक्ष्य की तरफ नहीं बढ़ सकता।आज हर इंसान अपने अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा दिलवाना चाहता है, लेकिन आज के युग में कुछ स्कूलों ने सिर्फ शिक्षा के नाम पर धन उगाही का धंधा बना लिये है,जिससे उनका  धंधा फल-फूल रहा है,और अच्छी खासी मोटी कमाई हो रही है। 
एक तरफ जहां पूरा देश परदेश कोरोना महामारी से लड़ रहा है ,तो वहीं दूसरी तरफ  निजी स्कूल वालो ने अभिभावको को कोरोना महामारी व आर्थिक मंदी से जूझ रहने के बावजूद भी  फीस के नाम पर  मैसेज व व्हाट्सएप कर दबाव बना रहे हैं 
गौरतलब है कि इस समय प्रशासन का सख्त आदेश है कि कोई भी स्कूल वाले  3 महीने की फीस नहीं वसूल सकते अगर फीस वसूलते पाए गए तो उनकी मान्यता होगी रद्द ।लेकिन निजी स्कूल वालों ने  मुख्यमंत्री व  प्रधानमंत्री के आदेशों की धज्जियां उड़ाते हुए  फीस वसूली का कार्य शुरू कर दिया है। अभिभावकों ने स्कूलों द्वारा जबरदस्ती फीस वसूली को लेकर घोर निंदा की है,
अगर स्कूल वालों ने फीस नही माफ किया तो हम इनके खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेंगे व सरकार से मांग करेंगे  कि इनके स्कूलों की मान्यता रद्द की जाए।


सूत्रों की मानें तो कुछ स्कूलों ने कोरोना महामारी को देखते हुए 3 महीने की फीस माफ कर रहे है।