स्वास्थ्य समिति की बैठक, जिलाधिकारी ने अधिकारियों को किया सचेत


   जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक, जिलाधिकारी ने अधिकारियों को किया सचेत,किसी भी मरीज में कोरोना संक्रमण का लक्षण पाया जाये तो प्रभारी चिकित्साधिकारी उसको गम्भीरता से लेंकर सैम्पल जांच हेतु भेजवायें।

    प्रतापगढ़,  जिलाधिकारी डा0 रूपेश कुमार की अध्यक्षता में आज कैम्प कार्यालय के सभागार में जिला स्वास्थ्य समिति (शासी निकाय) की बैठक की गयी। बैठक में जिलाधिकारी ने प्रभारी चिकित्साधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि सभी आशा, आशा संगिनियों के माध्यम से होम क्वारेन्टाइन किये गये व्यक्तियों की सघन निगरानी की जाये तथा हफ्ते में 03 दिन होम क्वारेन्टाइन किये गये घरों का भ्रमण अनिवार्य रूप से करें एवं अभी तक जिन घरों में होम क्वारेन्टाइन के फ्लायर नही लगाये गये है तत्काल फ्लायर लगवाना सुनिश्चित करें।


      जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि सभी प्रभारी चिकित्साधिकारियों को फ्लायर उपलब्ध करायें। उन्होने सभी प्रभारी चिकित्साधिकारियो ंको निर्देशित किया कि यदि किसी भी मरीज में कोरोना संक्रमण का लक्षण पाया जाता है तो उसको गम्भीरता से लें और उसका सैम्पल लेकर जांच के लिये भेजवायें और जब तक उसकी रिपोर्ट नही आ जाती है तब तक संस्थागत क्वारेन्टाइन में रखा जाये तथा जिस मरीज का सैम्पल लिया जाये उसकी पूरी केश हिस्ट्री भी मुख्य चिकित्साधिकारी को उपलब्ध कराये, यदि इस कार्य में किसी भी तरह की लापरवाही बरती गयी जो सम्बन्धित प्रभारी चिकित्साधिकारी के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी। बैठक में विगत दिनों सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लालगंज में एक मरीज के ईलाज में लापरवाही की शिकायत को गम्भीरता से लेते हुये जिलाधिकारी ने अधिकारियों को सचेत करते हुये कहा कि कोविड-19 के संक्रमण को देखते हुये किसी भी मरीज द्वारा की गयी शिकायत जैसे बुखार, खांसी एवं अन्य बीमारियों को गम्भीरता से लिया जाये।


       जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि शासन के निर्देशानुसार कोविड-1 हास्पिटल के सभी मरीजों के बेड पर पल्स आक्सीमीटर रखा जाये और उसके लिये उन्हें प्र्रशिक्षित किया जाये यदि किसी मरीज को आक्सीजन लेने में कठिनाई हो तो तत्काल मुख्य चिकित्साधिकारी को अवगत करायें तथा उसे सम्बन्धित कोविड-2 हास्प्टिल में भर्ती कराया जाये।


       जिलाधिकारी ने प्रभारी चिकित्साधिकारियों को निर्देशित करते हुये कि आशा, आशा संगिनी, ए0एन0एम0 होम क्वारेन्टाइन के दौरान सम्बन्धित घरों में जाये तो लोगों को आयुष कवच ऐप एवं आरोग्य सेतु ऐप को डाउनलोड करने हेतु प्रेरित करें तथा सूचना संकलित कराके मुख्य चिकित्साधिकारी को अवगत करायें। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डा0 अमित पाल शर्मा, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 अरविन्द कुमार श्रीवास्तव, जिला सूचना अधिकारी विजय कुमार सहित प्रभारी चिकित्साधिकारी एवं सम्बन्धित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित रहे।