15 सौ गौ-वंश के लिए अतिरिक्त शेड बनवाना प्रस्तावित:जिलाधिकारी


     अयोध्या,  जनपद में लाॅक डाउन के पश्चात अनलाक-1 होने पर जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने मुख्यमंत्री ड्रीम प्रोजेक्ट कान्हा उपवन गौशाला वैसिंह का नगर आयुक्त नीरज शुक्ला के साथ किया अचानक निरीक्षण। निरीक्षण के दौरान उन्होंने निराश्ररित गौ-वंश के लिए रखे गये पशु आहार, भूसा, पीने हेतु पानी की , हरे चारे की, व छाया हेतु की गई शेड की व्यवस्था के साथ गौ-वंश के स्वास्थ्य आदि का निरीक्षण करने के उपरांत अधिकारियो की उपस्थिति में की समीक्षा। निरीक्षण के दौरान वाउड्रीवाल का निर्माण कार्य चल रहा था ।


     निमार्ण कार्य की गुणवत्ता की बाबत उन्होंने स्थलीय सत्यापन भी किया तथा नगर निगम के मुख्य अभियन्ता निर्माण की गुणवत्ता पर सत्त निगरानी के साथ वाउड्रीवाल के किनारे चारो तरफ ट्री-गार्ड सहित फलदार, छायादार पौधा रोपित कराने के दिये निर्देश। मौके पर नगर आयुक्त द्वारा बताया गया कि 01 हजार गौ-वंश के लिए पहले से ही शेड बना हुआ है जबकि 15 सौ गौ-वंश के लिए अतिरिक्त शेड बनवाना प्रस्तावित है जिस पर जिलाधिकारी ने ततकाल कार्य प्रारम्भ के निर्देश दिये है। उन्होंने कहा कि वर्षा प्रारम्भ होने के पूर्व शेड का निर्माण कराना प्रत्येक दशा में सुनिश्चित करे। उन्होंने मौके पर उपस्थित पशु चिकित्साधिकारी को नये नर गौ-वंश के बधिया करण के साथ टैगिंग करने के निर्देश दिये। तथा गौ-वंश में वर्षा जनित संक्रमित रोग के पूर्व टीकारण कराना सुनिश्चित करे। उन्होंने नगर आयुक्त नगर निगम को गौशाला के नियमित मेन्टेनेंश हेतु एक टीम गठित करने के लिए कहा।


      समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने अधिकारियो से कहा कि गौशाला के आस-पास किसी संस्था को भूमि उपलब्ध कराते हुए गौ-वंश के  गोबर से गैस प्लांट व गोबर के साथ नीम की पत्ती आदि मिलाकर जैविक खाद तैयार कर बिक्री की कार्य योजना प्रस्तुत करने को कहा ताकि गौमूत्र व गोबर के सद्पयोग के साथ गौशाला की आय भी हो सके। निरीक्षण में नगर आयुक्त नीरज शुक्ला, अपर नगर आयुक्त, नगर निगम के निर्माण शाखा के मुख्य अभियन्ता, पशु चिकित्साधिकारी आदि उपस्थित थे। ज्ञातव्य है कि उक्त कान्हा उपवन गोशाला में 1100 से अधिक निराश्रित गोवंश का भरण पोषण किया जा रहा है।