आज से पूरे देश में लागू 'वन नेशन, वन राशन कार्ड


   


  कोरोना संकट के बीच सोमवार से पूरे देश में एक राशन कार्ड लागू कर दिया जाएगा। यानी अब देश के किसी भी एक राज्य के राशन कार्ड का इस्तेमाल करके दूसरे राज्य में राशन लिया जा सकेगा। राशन कार्ड एक सरकारी डॉक्‍युमेंट है, जिसकी मदद से सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) के तहत उचित दर की दुकानों से गेहूं, चावल आदि बाजार मूल्य से बेहद कम दाम पर खरीद सकते हैं. अगर आप भी राशन कार्ड बनवाने की सोच रहे हैं, तो आइए आपको बताते हैं, इसके लिए आपको क्या करना है।वन नेशन वन राशन कार्ड: इस साल अगस्त ...
 एक देश एक राशन कार्ड स्कीम के फायदे-



-राशन कार्ड का फायदा बीपीएल (गरीबी रेखा के नीचे) कार्डधारकों को मिलता है। 
-इसके तहत उन्हें सस्ती कीमत पर अनाज मिलता है। 
-वन नेशन, वन राशन कार्ड लागू होने के बाद गरीबी रेखा के नीचे वाले लोग कम कीमत पर देश के किसी कोने में राशन खरीद सकते हैं।
-देश का कोई भी व्यक्ति इस योजना का लाभ जून 2020 से उठा सकता है।
-जो लोग गरीब है और रोजगार की तलाश में एक राज्य से दूसरा राज्य में जाते है वह एक देश एक राशन कार्ड स्कीम का लाभ उठा सकते है।
-हर उपभोक्ता अपने राशन कार्ड की सहायता से अपने हिस्से के अनाज को किसी भी पीडीएस दुकान से पारदर्शिता और बड़ी ही आसानी से खरीद सकता है।
-एक देश एक राशन कार्ड योजना का उद्देश्य है कि देश में फर्जी राशन कार्ड को रोकने में मदद मिलेगी और देश में चल रहे भष्टाचार को रोका जा सकेगा।
-इस योजना के लागू होने के बाद यदि कोई व्यक्ति एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाता है तो उसे राशन लेने में कोई परेशानी नहीं होगी।
-इस एक राष्ट्र एक राशन कार्ड स्कीम का फायदा प्रवासी मजदूरों को अधिक होगा। इन लोगों को पूरी खाद्य सुरक्षा मिलेगी।
-केंद्र सरकार इस योजना को समय रहते ही पूरे देश के विभिन्न राज्यों में शुरू करना चाहती थी जिससे अधिक से अधिक लोग इस योजना का लाभ उठा सके।


ऐसे कर सकते हैं अप्लाई-


     वर्तमान में राशन कार्ड राज्य सरकारों द्वारा जारी किया जाता है. इसलिए हर राज्य में राशन कार्ड के लिए अप्लाई करने की प्रॉसेस अलग-अलग है। कहीं इसके लिए ऑफलाइन ही अप्लाई किया जा सकता है तो कहीं पर ऑनलाइन आवेदन की सुविधा है. उदाहरण के तौर पर अगर आप उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं तो आप https://fcs.up.gov.in/FoodPortal.aspx को एक्सेस कर फॉर्म डाउनलोड कर सकते हैं।इसके बाद उसमें सभी जरूरी जानकारियां भरकर अपने क्षेत्र के राशन डीलर को या खाद्य आपूर्ति विभाग के दफ्तर में सौंप दें। आवेदन के लिए तहसील में इस कार्य से संबंधित अधिकारी से भी संपर्क किया जा सकता है। आवेदनकर्ता चाहे तो राशन कार्ड के​ लिए कॉमन सर्विस सेंटर में भी अप्लाई कर सकता है। राशन कार्ड का फॉर्म सौंपने के बाद स्लिप लेना न भूलें।इन डॉक्युमेंट्स की पड़ती है जरूरत
राशन कार्ड बनवाने के लिए आईडी प्रूफ के तौर पर आधार कार्ड, वोटर आईडी, पासपोर्ट, सरकार के द्वारा जारी किया गया कोई आई कार्ड, हेल्थ कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस दिया जा सकता है। इसके अलावा पैन कार्ड, पासपोर्ट साइज फोटो, आय प्रमाण पत्र, पते के प्रमाण के तौर पर बिजली बिल, गैस कनेक्शन बुक, टेलिफोन बिल, बैंक स्टेटमेंट या पासबुक, रेंटल एग्रीमेंट जैसे डॉक्युमेंट भी लगेंगे।