अभियान चलाकर छुट्टा पशुओं को पकड़कर गो संरक्षण केन्द्र भेजा जाये-जिलाधिकारी


   जिलाधिकारी ने टीम-11 के अधिकारियों के साथ की बैठक दिये आवश्यक दिशा निर्देश,शहरी क्षेत्र में अभियान चलाकर छुट्टा पशुओं को पकड़कर गो संरक्षण केन्द्र भेजा जाये,कोटेदार राशन वितरण के समय ई-पास मशीन पर कार्डधारकों से अंगूठे लगवाने के पश्चात् तत्काल राशन उपलब्ध करायें। 

      प्रतापगढ़, जिलाधिकारी डा0 रूपेश कुमार की अध्यक्षता में आज कैम्प कार्यालय में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव, रोकथाम एवं आमजनमानस को आवश्यक सुविधाये सुनिश्चित करने हेतु गठित टीम-11 के साथ बैठक की गयी। जिलाधिकारी मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि कोरोना संक्रमण की जांच हेतु जिला चिकित्सालय में जो मशीन लगायी गयी है उसमें संक्रमण की जांच प्रारम्भ की जाये और इमरजेन्सी में भर्ती मरीजों के आपरेशन से पहले उनका कोरोना संक्रमण का परीक्षण किया जाये।


      जिलाधिकारी ने प्रवासी श्रमिकों के डाटा फीडिंग की प्रगति के सम्बन्ध में समीक्षा की तो यह तथ्य प्रकाश में आया कि पट्टी व रानीगंज तहसील में डाटा फीडिंग के कार्य की प्रगति धीमी है जिस पर जिलाधिकारी ने डाटा फीडिंग के कार्य में तेजी लाने हेतु सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी एवं अधिशासी अधिकारी नगर पालिका को निर्देशित करते हुये कहा कि जनपद के शहरी क्षेत्र में अभियान चलाकर छुट्टा पशुओं को पकड़ने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाये, कोई भी पशु सड़कों पर टहलता हुआ दिखाई न पड़े क्योंकि सड़कों पर पशुओं के टहलने से अनेक प्रकार की दुर्घटनायें होने की सम्भावना बनी रहती है। उन्होने कहा कि पशुओं को गो संरक्षण केन्द्र में ले जाकर रखा जाये तथा गो संरक्षण केन्द्र पर पशुओं के चारा, पीने के पानी की पर्याप्त मात्रा में व्यवस्था सुनिश्चित की जाये तथा केन्द्र पर रह रहे पशुओं के स्वास्थ्य का परीक्षण समय-समय पर पशु चिकित्साधिकारी द्वारा किया जाये इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाये। 


       जिलाधिकारी ने जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देशित किया कि जनपद में कोई भी कोटेदार राशन वितरण के समय ई-पास मशीन पर कार्डधारकों से अंगूठे लगवाने के पश्चात् तत्काल राशन उपलब्ध कराया जाये यदि किसी कोटेदार द्वारा अंगूठा लगाने के पश्चात् राशन न देने की शिकायत संज्ञान में आती है तो उस कोटेदार के विरूद्ध तत्काल कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित की जाये। उन्होने कहा कि सभी पूर्ति निरीक्षक एवं नोडल अधिकारी भ्रमणशील रहकर राशन वितरण का कार्य कराना सुनिश्चित करें। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डा0 अमित पाल शर्मा, अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) शत्रोहन वैश्य, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 अरविन्द कुमार श्रीवास्तव, जिला सूचना अधिकारी विजय कुमार सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।